Create
Notifications

2 भारतीय दिग्गज बल्लेबाज जिनके नाम है गेंदबाजी में चौंकाने वाला रिकॉर्ड

भारतीय बल्लेबाज जिनके नाम गेंदबाजी में चौंकाने वाला रिकॉर्ड है
भारतीय बल्लेबाज जिनके नाम गेंदबाजी में चौंकाने वाला रिकॉर्ड है
निशांत द्रविड़

भारतीय टीम की तरफ से कई बल्लेबाज ऐसे हुए हैं, जो काम चलाऊ गेंदबाजी भी कर लेते थे और उन्हें पार्ट-टाइम गेंदबाज कहा जाता है। अगर ऐसे प्रमुख बल्लेबाजों की बात करें तो उसमें सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, वीरेंदर सहवाग और युवराज सिंह का नाम प्रमुख है।

सचिन तेंदुलकर ने तो अपने करियर में 201 अंतरराष्ट्रीय विकेट लिए हैं और उनके जैसा गेंदबाजी रिकॉर्ड अच्छे-अच्छे गेंदबाजों का भी नहीं होता। वहीं सौरव गांगुली ने भी अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 100 से ज्यादा विकेट हासिल किये हैं। वीरेंदर सहवाग और युवराज सिंह के नाम भी गेंदबाजी में काफी विकेट हैं।

आज हम नज़र डालेंगे दो ऐसे दिग्गज बल्लेबाजों पर, जिनके नाम गेंदबाजी में चौंकाने वाला रिकॉर्ड है:

# युवराज सिंह

युवराज सिंह
युवराज सिंह

भारतीय वनडे इतिहास के महान बल्लेबाजों में शुमार युवराज सिंह के नाम गेंदबाजी में एक बेहद हैरान करने वाला रिकॉर्ड है। अपने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय करियर में युवराज ने कुल 111 विकेट हासिल किये और इस दौरान उन्होंने 2011 वर्ल्ड कप के एक मैच में बेहद शानदार रिकॉर्ड बनाया। युवराज ने 6 मार्च 2011 को बैंगलोर में आयरलैंड के खिलाफ 31 रन देकर पांच विकेट लिए थे और सबको चौंका दिया था। यह एकमात्र ऐसा मौका था जब उन्होंने वनडे पारी में 5 विकेट लिए।

इस मैच में युवराज ने अर्धशतक भी लगाया था और वह एकमात्र ऐसे भारतीय खिलाड़ी हैं, जिनके नाम वर्ल्ड कप के एक ही मैच में अर्धशतक और 5 विकेट लेने का रिकॉर्ड हो। विश्व क्रिकेट में उनके अलावा यह रिकॉर्ड सिर्फ शाकिब अल हसन के नाम है, जिन्होंने 2019 वर्ल्ड कप में अफगानिस्तान के खिलाफ यह रिकॉर्ड बनाया था।

यह भी पढ़ें - भारत के अलावा 2 और टीमों की तरफ से अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले क्रिकेटर

# सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर

विश्व क्रिकेट में बल्लेबाजी के लगभग सारे रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले सचिन तेंदुलकर ने गेंदबाजी में भी काफी चौंकाने वाले रिकॉर्ड बनाये हैं। अपने वनडे करियर में 154 विकेट लेने वाले सचिन तेंदुलकर के नाम भारत की तरफ से सबसे कम उम्र में विकेट लेने का रिकॉर्ड है। 5 दिसंबर 1990 को श्रीलंका के खिलाफ पुणे में सचिन तेंदुलकर ने रोशन महानामा को आउट करके यह रिकॉर्ड अपने नाम किया था। उस समय सचिन की उम्र 17 साल 224 दिन थी।

इसके अलावा सचिन तेंदुलकर एकमात्र ऐसे गेंदबाज हैं, जिन्होंने आखिरी ओवर में दो बार 6 या उससे कम रनों का बचाव किया है। सचिन तेंदुलकर के नाम एशिया कप के एक संस्करण में स्पिनर के तौर पर सबसे ज्यादा विकेट लेने का भारतीय रिकॉर्ड भी है। उन्होंने 2004 एशिया कप में 6 मैचों में 12 विकेट लिए थे। सचिन तेंदुलकर ने एक ही मैदान (कोच्चि) पर दो पारी में 5 विकेट का रिकॉर्ड भी बनाया है।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...