Create
Notifications

2 खिलाड़ी जिन्हें भारतीय टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया और 2 जिन्हें जरूर मौका दिया जाना चाहिए था 

भारतीय टीम
भारतीय टीम
मयंक मेहता

भारतीय टीम (Indian Cricket) के लिए अगले कुछ महीने काफी ज्यादा अहम होने वाले हैं। सबसे पहले टीम को अगले महीने इंग्लैंड में न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना है और इसके बाद अगस्त-सितंबर में इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज भी खेलनी है।

इसी सिलसिले में बीसीसीआई ने दोनों मुख्य सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया है। वैसे तो टीम में ज्यादा बदलाव देखने को नहीं मिले हैं और मुख्य खिलाड़ी अपनी जगह को पक्का करने में कामयाब हुए हैं।

हालांकि चोटिल होने के कारण पिछली सीरीज को नहीं खेलने वाले मोहम्मद शमी, रविंद्र जडेजा और हनुमा विहारी की टीम में वापसी हुई है। इसके अलावा टीम में ऐसे कई चौंकाने वाले नाम शामिल हैं, जिन्हें शामिल नहीं किया गया और दो प्लेयर ऐसे भी हैं जिन्हें इस मुख्य दौरे के लिए बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

भारतीय टेस्ट टीम

विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, ऋषभ पन्त (कीपर), रवि अश्विन, रविन्द्र जडेजा, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर,जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर, उमेश यादव।

फिटनेस पास होने पर केएल राहुल और रिद्धिमान साहा को लिया जाएगा।

स्टैंडबाय खिलाड़ी- अभिमन्यू ईस्वरन, प्रसिद्ध कृष्णा, आवेश खान और अर्जन नागवासवाला।

आइए नजर डालते हैं किन प्लेयर्स को भारतीय टीम से बाहर किया गया और किन्हें मौका मिलना चाहिए था:

#) टीम से बाहर किया गया - हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या
हार्दिक पांड्या

भारतीय टीम के सबसे मुख्य ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम से ड्रॉप कर दिया गया है। गौर करने वाली बात यह है कि हार्दिक पांड्या इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में भारतीय टीम का हिस्सा थे, जहां उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला था।

अभी तक हार्दिक पांड्या को नहीं चुने जाने का कारण सामने नहीं आया है, लेकिन हाल में जिस तरह देखा गया है कि वो चोट से परेशान चल रहे हैं और साथ ही में वो ज्यादा गेंदबाजी भी नहीं कर रहे हैं। इसी वजह से उन्हें इस महत्वपूर्ण दौरे के लिए टीम में शामिल नहीं किया गया है।

#) टीम में मौका मिलना चाहिए था - भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार
भुवनेश्वर कुमार

इस बात को ध्यान में रखते हुए भारत को इंग्लैंड में कुल मिलाकर 6 टेस्ट मैच खेलने हैं और इसी वजह से भुवनेश्वर कुमार का नाम इस टीम में नहीं होना काफी चौंकाने वाला है। इंग्लैंड में हालात स्विंग गेंदबाजी के लिए काफी मददगार होते हैं और ऐसी स्थिति में भुवी काफी खतरनाक साबित हो सकते हैं। 2014 दौरे पर उन्होंने शानदार गेंदबाजी करके भी दिखाई थी।

इसके अलावा टीम में हार्दिक पांड्या नहीं है, तो उनकी गैरमौजूदगी में भुवनेश्वर कुमार टीम में तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर की भूमिका भी निभा सकते थे। भुवी काफी अच्छी बल्लेबाजी करते हैं, जोकि टीम के निचले क्रम को मजबूती दे सकता था। हालांकि हाल के समय में भुवी ने लाल गेंद से ज्यादा क्रिकेट नहीं खेली है और शायद यह ही उनके खिलाफ गया है।

#) टीम से ड्रॉप किया गया - कुलदीप यादव

कुलदीप यादव
कुलदीप यादव

इंग्लैंड दौरे के लिए भारतीय टीम में चार स्पिनर्स शामिल हैं। रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल और वॉशिंगटन सुंदर के रूप में टीम ने चार फिंगर स्पिनर्स को चुना है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ हुई सीरीज में टीम का हिस्सा रहे कुलदीप यादव को आखिरकार टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया है।

कुलदीप यादव को दोनों सीरीज में मिलाकर सिर्फ एक मैच खेलना का मौका मिला था। इसके अलावा जो उनकी मौजूदा फॉर्म है, शायद उसी वजह से उन्हें आखिरकार टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

#) टीम में मौका मिलना चाहिए था - पृथ्वी शॉ

New Zealand v India - First Test: Day 1
New Zealand v India - First Test: Day 1

पृथ्वी शॉ को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खराब फॉर्म के कारण टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। हालांकि इसके बाद शॉ ने अपनी फॉर्म पर काम किया और पहले विजय हजारे ट्रॉफी और फिर आईपीएल में भी उन्होंने जबरदस्त बल्लेबाजी करके दिखाई। शॉ एक आक्रामक बल्लेबाज है और वो एक सत्र में ही मैच को विपक्षी टीम से दूर कर सकते हैं। इसी वजह से इनफॉर्म शॉ को बाहर करने का फैसला थोड़ा अजीब जरूर है।

Edited by मयंक मेहता

Comments

comments icon1 comment

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...