Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya)


ABOUT
BATTING STATS

GAME TYPE M INN RUNS BF NO AVG SR 100s 50s HS 4s 6s CT ST
ODIs 54 38 957 828 6 29.91 115.58 0 4 83 69 40 22 0
TESTs 11 18 532 720 1 31.29 73.89 1 4 108 68 12 7 0
T20s 40 25 310 210 6 16.32 147.62 0 0 33 18 19 23 0
BOWLING STATS

GAME TYPE M INN OVERS RUNS WKTS AVG ECO BEST 5Ws 10Ws
ODIs 54 53 394 2195 54 40.65 5.56 31/3 0 0
TESTs 11 19 156 528 17 31.06 3.38 28/5 1 0
T20s 40 39 116 976 38 25.68 8.35 38/4 0 0
ABOUT

हार्दिक पांड्या की जीवनी:


हार्दिक का जन्म 11 अक्टूबर, 1993 को गुजरात के चौरासी में हुआ था। दाएं हाथ के ऑलराउंडर क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हैं। अपने आत्मविश्वास और दबाव में अच्छा प्रदर्शन करने की क्षमता उन्हें भारतीय टीम और इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस का बेहद अहम खिलाड़ी बनाती है।


2017 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में शीर्ष क्रम के बल्लेबाज़ों के ताश के पत्तों की तरह ढेर होने के बाद पांड्या ने 46 गेंदों पर ताबड़तोड़ 76 रन बनाए थे और अगर वह रन-आउट नहीं होते तो शायद परिणाम भारत के पक्ष में होता। उनकी यह पारी पांड्या के बल्लेबाज़ी कौशल को दर्शाती है।


पृष्ठभूमि:


हार्दिक पांड्या को उनके पिता ने छोटी उम्र में ही वडोदरा स्थित किरण मोरे क्रिकेट अकादमी में दाखिल करवा दिया था। बड़ौदा का प्रतिनिधित्व करते हुए, पांड्या सबसे पहले उस समय लाइमलाइट में आए जब सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के 2013-14 सत्र के पहले मैच में उन्होंने अपनी टीम को संकट से निकालकर जीत दिलाई थी।


वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच में पांड्या ने ज़हीर खान और धवल कुलकर्णी जैसे गेंदबाज़ों का डट कर सामना करते हुए केवल 57 गेंदों में नाबाद 82 रनों की धमाकेदार पारी खेलकर पूरे मैच का पासा पलट दिया था। पूरे टूर्नामेंट में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और बड़ौदा टीम को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जिताने में बेहद अहम भूमिका निभाई थी।


डेब्यू:


हार्दिक ने 27 जनवरी, 2016 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 मैच से अपने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत की। टी-20 प्रारूप में अपने बल्ले और गेंद दोनों के साथ शानदार प्रदर्शन के साथ उन्होंने भारत की एकदिवसीय टीम के लिए दावेदारी पेश की। बाद में, उन्हें न्यूजीलैंड और भारत के बीच खेली गई एकदिवसीय श्रृंखला के लिए टीम में चुना गया। इस तरह से हार्दिक ने 16 अक्टूबर, 2016 को धर्मशाला में अपना पहला एकदिवसीय मैच खेला और अपने पहले ही मैच में वह 'मैन ऑफ द मैच' भी रहे।


हार्दिक ने जुलाई 2017 में श्रीलंका के खिलाफ अपना पहला टेस्ट मैच खेला था और इस टेस्ट श्रृंखला के तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में उन्होंने अपना पहला टेस्ट शतक बनाया था।


सुर्ख़ियों में:


हार्दिक पांड्या सबसे पहले उस समय सुर्ख़ियों में आये जब सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए मुंबई इंडियंस थिंक टैंक और मुख्य कोच जॉन राइट ने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया।इसके बाद वह दोबारा उस समय सुर्ख़ियों में आए जब अपने करियर की शुरुआत में टी -20 विश्व कप 2016 के सुपर-10 मैच में उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ मैच में अपनी धारदार गेंदबाज़ी से भारतीय टीम को शर्मनाक हार से बचाया था।


आईपीएल करियर:


हार्दिक को आईपीएल सीज़न 2015 में मुंबई इंडियंस ने 10 लाख रुपये की कीमत पर अपनी टीम में शामिल किया था। इंडियन प्रीमियर लीग में अपने पहले सीज़न में उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से प्रभावित किया था। इस समय वह इंडियन प्रीमियर लीग में सर्वाधिक मांग वाले खिलाड़ियों में से एक है। आईपीएल सीज़न 2018 में मुंबई इंडियंस ने अपने कप्तान रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह के साथ उन्हें टीम में रिटेन किया था।


रिकॉर्ड:


हार्दिक पांड्या ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कई रिकॉर्ड बनाए हैं। धर्मशाला में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने डेब्यू एकदिवसीय मैच में उन्होंने 'मैन ऑफ द मैच पुरस्कार जीतकर इतिहास रच दिया था और ऐसा करने वाले वह चौथे भारतीय खिलाड़ी बन गए थे।पाकिस्तान के खिलाफ सबसे तेज़ अर्धशतक लगाकर उन्होंने एडम गिलक्रिस्ट के सबसे तेज़ अर्धशतक के रिकॉर्ड को तोड़ दिया था।


Fetching more content...