Create

3 भुला दिए गए भारतीय क्रिकेटर जो वर्ल्ड कप के लिए टीम का बैकअप बन सकते हैं

With the World Cup squad slowly setting into place, who will form the backup for the players?

भारत ने दुनिया को एक से एक शानदार क्रिकेटर दिया है। इनमें से जहां कुछ ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने देशभर में अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है तो कुछ ऐसे भी खिलाड़ी है जिनके नाम क्रिकेट के इतिहास में दबकर ही रह गए हैं। घरेलू मैदान पर बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलड़ियों को इंटरनेशनल के लिए चुन लिया जाता है लेकिन कई बार उनका खराब प्रदर्शन उनके बाहर होने का कारण भी बन जाता है। वर्ल्ड कप के लिए तैयारियां जोरों पर हैं। ऐसे में सभी खिलाड़ी इस सुनहरे मौके को पाने के लिए घरेलू मैदान पर जी जान से मेहनत कर रहे हैं।

यहां जानिए तीन ऐसे भारतीय खिलाड़ियों के बारे में जो भारतीय क्रिकेट टीम से भूला दिए गए हैं लेकिन घरेलू मैदान पर ये काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और इंग्लैंड में होने वाले आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में एक बेहतरीन बैकअप खिलाड़ी का काम कर सकते हैं।

# 3 रॉबिन उथप्पा

Robin Uthappa

रॉबिन उथप्पा बेहद टैलेंटेड खिलाड़ी है लेकिन 12 साल के करियर के दौरान उन्हें खुद को साबित करने के परियाप्त मौके नहीं मिले हैं। 12 सालों में उन्होंने सिर्फ 54 मैच ही खेले हैं। रॉबिन नंबर 4 पर अच्छी बल्लेबाजी करते हैं लेकिन उन्हें ऐसा बल्लेबजी क्रम दिया जाता है जहां उनका बल्ला शानदार प्रदर्शन नहीं कर पाता।

वहीं रॉबिन उम्दा विकेटकीपर भी हैं लेकिन धोनी के कारण उनके हाथ ये मौका भी नहीं लग पाता है। दक्षिण अफ्रीका में टी20 के दौरान उथप्पा ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। साथ ही आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए भी उथप्पा ने जबरदस्त गेम खेले हैं। ऐसे में उनका नाम वर्ल्ड कप में बैकअप खिलाड़ियों में शामिल किया जा सकता है।

क्रिकेट की ब्रेकिंग न्यूज़ और ताज़ा ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

#2 वरुण आरोन

England v India: 5th Investec Test - Day Two

वरुण का नाम घरेलू क्रिकेट के टॉप खिलाड़ियों में लिया जाता है। हालांकि कुछ चोटों और हालात के कारण उनके इंटरनेशनल करियर पर काफी प्रभाव पड़ा है। रणजी ट्रॉफी, विजय हजारे ट्रॉफी और लिस्ट ए के मैचों में अपने प्रदर्शन के कारण वरुण काफी लाइमलाइट में रहते हैं।

झारखंड की ओर से वरुण ने रणजी ट्रॉफी के चार मैच खेले हैं। इन चार मैचों में वरुण ने 15 विकट अपने नाम किए हैं। सईद मुश्ताक अली ट्रॉफी में वरुण ने 20 मैच खेले हैं जिनमें 20 विकेट झटके हैं। वरुण एक शानदार गेंदबाज हैं और ऐसे में उनके अभी तक के घरेलू मैचों में प्रदर्शन को देखने के बाद माना जा रहा है कि उन्हे आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में बैकअप खिलाड़ी के तौर पर भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल कर लिया जाएगा।

#1 अशोक डिंडा

अशोक डिंडा का नाम कुछ समय के लिए क्रिकेट प्रेमी भूल गए थे। मैच के दौरान जिस एनर्जी के साथ अशोक खेलते हैं उससे वो पूरा मैच पलटने का दमखम रखते हैं। चोट और फिर भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव और मोहम्मद शमी के बेहतरीन प्रदर्शन के कारण वो टीम से बाहर हो गए थे।

घरेलू मैचों में उनका शानदार प्रदर्शन जारी रहा। साल 2017-2018 में अशोक डिंडा रणजी सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी रहे हैं। इस दौरान अशोक ने आठ मैचों में 35 विकेट अपने नाम किए हैं। सैयद मुश्ताक ट्रॉफी में अच्छी औसत के साथ अशोक ने 39 मैचों में 45 विकेट झटके हैं। अटैकिंग गेंदबाजी और अच्छे प्रदर्शन के कारण इन्हें बैकअप खिलाड़ियों में शामिल किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: 5 क्रिकेटर जो वनडे में लंबे करियर के बाद भी अब तक टिके हुए हैं

लेखक: श्रेयस

अनुवादक: हिमांशु कोठारी

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment