Create

3 सबसे बड़ी साझेदारियां जो वनडे में आठवें विकेट के लिए भारत की तरफ से हुईं 

एमएस धोनी, भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर
एमएस धोनी, भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर
reaction-emoji
Prashant Kumar

क्रिकेट में साझेदारियों का बहुत बड़ा महत्व होता है। हर टीम को एक बड़े स्कोर तक पहुंचने के लिए अहम साझेदारियों की जरूरत होती है जिसके बलबूते उनकी टीम स्कोरकार्ड में आगे बढ़ती है। एक बेहतरीन साझेदारी के लिए चाहिए होता है क्रीज पर मौजूद दो खिलाड़ियों के बीच बढ़िया तालमेल एवं संयोजन क्योंकि अक्सर ही हमने तालमेल की कमी होने के नाते बल्लेबाजों को रन आउट होते देखा है।

आठवें विकेट की साझेदारी बहुत कम याद रखी जाती है क्योंकि ज्यादातर ऐसी जोड़ी मैच में 10 या 20 रन ही बना पाती है। मगर कई बार हमने देखा कि आठवें विकेट के लिए एक बड़ी साझेदारी कर टीमों ने मैच का नक्शा ही मानो पलट दिया हो। आज हम भारत द्वारा वनडे में की गई आठवें विकेट के लिए ऐसे ही 3 सबसे बड़ी साझेदारियों के बारे में बात करेंगे।

3 सबसे बड़ी साझेदारियां जो वनडे में आठवें विकेट के लिए भारत की तरफ से हुईं

#3 (84) हरभजन सिंह और प्रवीण कुमार बनाम ऑस्ट्रेलिया, 2009

हरभजन सिंह और प्रवीण कुमार
हरभजन सिंह और प्रवीण कुमार

साल 2009 में खेले गए इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया और भारत के सामने 293 रनों का बड़ा लक्ष्य रखा। ऑस्ट्रेलिया के लिए कप्तान पोंटिंग ने सर्वाधिक 74 रनों की पारी खेली थी। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिए गंभीर को छोड़कर अन्य कोई बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका। गंभीर ने आउट होने से पहले 85 गेंदों में 68 रन की पारी खेली थी।

भारत ने 201 के स्कोर तक अपने सात विकेट खो दिए थे और ऑस्ट्रेलिया एक आसान जीत की तरफ अग्रसर दिख रहा था लेकिन यहां से प्रवीण कुमार और हरभजन सिंह की जोड़ी ने एक शानदार साझेदारी निभाई और मैच को अंत तक ले गए। दोनों ने आठवें विकेट के लिए 84 रन जोड़े। इस साझेदारी में प्रवीण कुमार ने 30 गेंदों में नाबाद 39 रन बनाए और हरभजन सिंह ने 27 गेंदों में 42 रनों का योगदान दिया था। हालांकि अंत में ऑस्ट्रेलिया ने मैच को 4 रन से जीतने में कामयाबी हासिल की थी।

#2 (84*) दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार बनाम श्रीलंका, 2021

दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार
दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार

श्रीलंका और भारत के बीच सीरीज के दूसरे मुकाबले में श्रीलंका टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 276 रनों का लक्ष्य रखा। इसके जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही और टीम लगातार अंतराल में विकेट खोती गई। एक समय जब टीम का स्कोर 193 रनों पर 7 विकेट था उस वक्त यह मुकाबला उनके हाथ से फिसलता हुआ नजर आ रहा था।

मगर यहां पर बल्लेबाजी करने उतरे दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार ने एक शानदार 84 रनों की नाबाद साझेदारी कर टीम को रोमांचक जीत दर्ज करवाई। इस साझेदारी में सबसे बड़ा योगदान दीपक चाहर का था। चाहर ने इस मैच में 82 गेंदों में 7 चौके और एक छक्के की मदद से 69 रनों की मैच जिताऊ पारी खेली। वहीं भुवनेश्वर कुमार ने भी नाबाद 19 रन बनाये।

#1 (100*) एमएस धोनी और भुवनेश्वर कुमार बनाम श्रीलंका, 2017

एमएस धोनी और भुवनेश्वर कुमार
एमएस धोनी और भुवनेश्वर कुमार

24 अगस्त 2017 को श्रीलंका में खेले गए इस मुकाबले में श्रीलंकाई टीम ने भारत के सामने 232 रनों का मामूली सा लक्ष्य रखा। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को रोहित शर्मा और शिखर धवन की सलामी जोड़ी ने एक बेहतरीन शुरुआत दिलवाई और मात्र 15 ओवरों में 100 रनों का आंकड़ा पार कर लिया और टीम को एक मजबूत स्थिति पर ला खड़ा किया। हालांकि पहला विकेट गिरते ही भारतीय बल्लेबाजी अकीला धनंजय के सामने लड़खड़ा गयी और भारत का स्कोर 131/7 हो गया। ऐसा लग रहा था अब यह मुकाबला भारत नहीं जीत पायेगा।

हालांकि यहां से धोनी और भुवनेश्वर की जोड़ी ने कमाल की बल्लेबाजी की। दोनों ने 100 रनों की नाबाद साझेदारी करते हुए टीम को एक ऐसे मुकाबले में जीत दर्ज करवाई जो उनके हाथ से लगभग फिसल ही गया था। यह भारत की ओर से आठवें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी भी है। इस साझेदारी में धोनी ने 38 और भुवनेश्वर ने 53 रन का योगदान दिया था।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...