Create

3 सबसे बड़े वनडे टारगेट जो वेस्टइंडीज की सरजमीं पर टीमों ने सफलतापूर्वक हासिल किये 

भारत का नाम भी लिस्ट में शुमार हो गया है
भारत का नाम भी लिस्ट में शुमार हो गया है
Ayushman Chaudhary

एकदिवसीय प्रारूप क्रिकेट का सबसे संतुलित प्रारूप है, इसमें न तो T20 की तरह जल्दबाज़ी है और न टेस्ट की तरह ज़्यादा वक्त। एकदिवसीय में सफल होने के लिए खिलाड़ियों को अपने खेल में विविधताओं को स्थापित करना पड़ता है। एकदिवसीय प्रारूप में लक्ष्य को हासिल करने पर जीत होती है और न कर पाने पर हार हो जाती है। यही कारण है की कई देशों की टेस्ट और एकदिवसीय की टीमें काफी हद तक अलग होती हैं।

रविवार को खेले गए मुकाबले में भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ़ स्पेन में ऐसा ही विविध खेल दिखते हुए रोमांचक मैच में तीन सौ से अधिक का लक्ष्य दो विकेट शेष रहते हासिल कर लिया, जो कैरेबियाई धरती पर तीसरा सबसे चेज है। इस बात को ध्यान में रखते हुए हम वेस्टइंडीज में चेज हुए तीन सबसे बड़े टारगेट का जिक्र करने जा रहे हैं।

3 सर्वोच्च लक्ष्य जो वेस्टइंडीज में एकदिवसीय में सफलतापूर्वक हासिल किये गए

#3 311 भारत बनाम वेस्टइंडीज, पोर्ट ऑफ़ स्पेन (2022)

वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय मुक़ाबले में अक्षर पटेल ने शानदार पारी खेली
वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय मुक़ाबले में अक्षर पटेल ने शानदार पारी खेली

रविवार को वेस्टइंडीज के पोर्ट ऑफ़ स्पेन में खेले गए भारत और वेस्टइंडीज के बीच श्रंखला के दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में वेस्टइंडीज के द्वारा दिए गए 312 के लक्ष्य को भारत ने 2 विकेट शेष रहते सफलतापूर्वक हासिल कर लिया। इस लक्ष्य को हासिल करते ही भारत ने वेस्टइंडीज में तीसरे सर्वाधिक लक्ष्य को हासिल करने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया।

वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने इस मुक़ाबले में अच्छी बल्लेबाजी की और भारत के सामने 312 रनों का लक्ष्य रखा। टीम के गेंदबाज भारत की झोली से मैच बचा नहीं पाए और शाई होप की शतकीय पारी व्यर्थ रही। इस मुकाबले में ताबड़तोड़ 35 गेंदों में 64 रन बनाने वाले अक्षर पटेल को प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया।

#2 313 श्रीलंका बनाम वेस्टइंडीज, ब्रिजटाउन (2003)

2003 में श्रीलंका ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 313 रनो के लक्ष्य को हासिल किया था
2003 में श्रीलंका ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 313 रनो के लक्ष्य को हासिल किया था

कल जो भारत बनाम वेस्टइंडीज मुक़ाबले में हुआ, वही 19 साल पहले 2003 में ब्रिजटाउन में श्रीलंका बनाम वेस्टइंडीज मुक़ाबले में भी हुआ था। पहला मैच हारने के बाद वेस्टइंडीज को 3 मैचों की श्रंखला में खुद को जीवित रखने के लिए दूसरा एकदिवसीय मुक़ाबला जीतना बेहद ज़रूरी था। उस मैच में भी वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 4 विकेट खो कर 312 रन बनाये थे, जिसमें दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा ने शतकीय पारी खेली और क्रिस गेल ने 94 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी।

बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंकाई टीम के लगभग सभी बल्लेबाजों ने छोटे-छोटे मगर महत्वपूर्ण योगदान दिए और श्रीलंका को 4 विकेट से एक रोमांचक मुक़ाबले में जीत दिला दी। मैच में श्रीलंका की तरफ से सर्वाधिक रन बनाने वाले उपुल चांदना को प्लेयर ऑफ़ द मैच का खिताब दिया गया था, जिन्होंने 71 गेंदों पर 89 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली थी।

#1 361 इंग्लैंड बनाम वेस्टइंडीज, ब्रिजटाउन (2019)

रुट और रॉय के शतकों की बदौलत इंग्लैंड ने 361 रनों के लक्ष्य को हासिल किया था
रुट और रॉय के शतकों की बदौलत इंग्लैंड ने 361 रनों के लक्ष्य को हासिल किया था

2019 में विश्व विजेता बनी इंग्लैंड उस साल एकदिवसीय प्रारूप में अगल अंदाज़ से खेल रही थी। उसी साल वेस्टइंडीज के खिलाफ ब्रिजटाउन में खेले गए 5 मैचों की सीरीज के पहले मुक़ाबले में इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज के द्वारा दिए गए 361 रनों के लक्ष्य को अपने विस्फोटक अंदाज में आठ गेंद शेष रहते मात्र 4 विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया था। मैच में वेस्टइंडीज की तरफ से क्रिस गेल ने 135 रनों की पारी खेली थी।

इंग्लैंड की तरफ से जेसन रॉय और जो रुट ने शानदार शतक लगाए थे। मैच में जेसन रॉय को उनकी आतिशी पारी की बदौलत प्लेयर ऑफ़ द मैचा चुना गया था। उन्होंने 15 चौकों और 3 छक्कों की मदद से मात्र 85 गेंदों पर 123 रनों की पारी खेली। इंग्लैंड के द्वारा हासिल किया गया 361 रनों का लक्ष्य वेस्टइंडीज में हासिल किया गया सर्वोच्च लक्ष्य है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...