वर्ल्ड कप 2019: भारत के 3 गेंदबाज जो अपने दम पर भारत को चैम्पियन बना सकते हैं

जसप्रीत बुमराह
जसप्रीत बुमराह

भारत और तमाम सभी देशों के क्रिकेट प्रेमियों के लिए साल 2019 बहुत रोमांचक रहेगा इसमें कोई दो राय नहीं है। क्योंकि इसी वर्ष 23 मार्च और 30 मई से क्रमशः इंडियन प्रीमियर लीग और विश्व कप का शुभारंभ होने वाला है। 2019 के वर्ल्ड कप का आयोजन इंग्लैंड में किया गया है। वहीं आईपीएल का आयोजन भारत में किया गया। जिससे क्रिकेट प्रेमी काफी उत्साहित है।

इंग्लैंड की सपाट पिचों में गेंदबाजों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है और इन सपाट पिचों में बल्लेबाजों को बड़े शॉट मारने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है। इस लेख में उन भारतीय गेंदबाजों का जिक्र है जो अपने दम पर मैच जिता सकते हैं।

आइए उन गेंदबाजों पर एक नजर डालते हैं:

#1 जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह
जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह क्रिकेट जगत के सबसे अनोखे गेंदबाज बनकर उभरे हैं। कुछ क्रिकेट पंडितों के अनुसार बुमराह भारत के सबसे अच्छे गेंदबाज है। भारतीय टीम के सबसे भरोसेमंद गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत 23 जनवरी 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी के मैदान में की थी। और तब से वह भारतीय टीम का एक अहम हिस्सा बन चुके हैं।

बुमराह कम रनअप के साथ 150 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से गेंदबाजी कर सकते हैं जो अपने आप में एक कला है। इनके पास एक अच्छे गेंदबाज होने की तमाम खूबियां हैं। इसी कारण बुमराह आईसीसी रैंकिंग में सबसे पहले स्थान पर है।

44 एकदिवसीय मैचों में इन्होंने 4.44 की इकॉनमी से अब तक 78 विकेट झटके हैं। वहीं बुमराह के नाम एक वनडे मैच में 4 से अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। विश्वकप जीतने की राह में बुमराह भारत के सबसे बड़े हथियार साबित हो सकते हैं। अगर यह कहा जायें, कि जसप्रीत बुमराह वर्तमान में दुनिया के सबसे अच्छे डेथ ओवर स्पेशलिस्ट गेंदबाज है तो यह कहना गलत नहीं होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2 भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार
भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार भारतीय टीम के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक हैं। भुवनेश्वर कुमार अपनी गेंद पर काफी अच्छा नियंत्रण रखते हैं, जब वह नकल बॉल या धीमी गेंद फेंकते हैं तब वे गेंद को बिल्कुल सही जगह पर पिच करते हैं जो अपने आप में एक कला है। इंग्लैंड की पिचों में भुवनेश्वर को अच्छी स्विंग मिलेगी, जिससे बल्लेबाजों को काफी परेशानी होगी, जो भारत के लिहाज से अच्छा साबित हो सकता है।

क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में पांच विकेट हासिल करने वाले भुवनेश्वर ने अपने वनडे करियर में खेले गए 98 मैचों में 36 की औसत से 107 विकेट झटके है। वहीं भुवनेश्वर कुमार 4 या 4 से अधिक विकेट लेने का कारनामा चार बार कर चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल ही में खेली गई वनडे सीरीज में भुवनेश्वर ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन मैचों में महत्वपूर्ण 8 विकेट झटके हैं। भुवनेश्वर कुमार भारत को विश्व कप जिताने में अहम रोल अदा कर सकते हैं।

#3 हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या
हार्दिक पांड्या

11 अक्टूबर 1993 को सूरत, गुजरात में जन्मे हार्दिक पांड्या भारतीय क्रिकेट का एक उभरता हुआ सितारा है। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत 26 जनवरी 2016 को ट्वेंटी-20 के साथ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ की थी। जब से लेकर अब तक हार्दिक पांड्या टीम के साथ ही हैं। हाल ही में कुछ विवादित बयानों के कारण पांड्या को टीम से बाहर का रास्ता दिखाया गया है। लेकिन कुछ समय पश्चात फिर इनकी वापसी तय है। विश्व कप के लिहाज से हार्दिक पांड्या एक प्रमुख खिलाड़ी है।

हार्दिक पांड्या ने अपनी गेंदबाजी से अच्छे अच्छों को चौंकाया है उन्होंने अपने वनडे करियर में 42 मैच खेले हैं इस दौरान पांड्या ने 40 विकेट लिए हैं। इनका अंतर्राष्ट्रीय वनडे मैचों में इकॉनमी 5.55 रहा है। पांड्या एक ऑलराउंडर खिलाड़ी है। उन्होंने अपने वनडे करियर में 29.13 की औसत से 670 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने चार अर्धशतक मारे हैं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now