Create
Notifications

3 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें सर्वाधिक मैच खेलने के बावजूद कप्तानी का मौका नहीं मिला 

हरभजन सिंह और युवराज सिंह
हरभजन सिंह और युवराज सिंह
reaction-emoji
Prashant Kumar

हर क्रिकेट खिलाड़ी का यही सपना होता है कि वो एक दिन अपने देश के लिए जरूर खेलेगा और काफी सफलता प्राप्त करेगा। जब खिलाड़ी काफी समय तक खेलते हुए खुद को स्थापित कर लेता है तो उसके लिए अगला लक्ष्य देश की कप्तानी करना होता है। हालांकि देश की कप्तानी करने के लिए एक खिलाड़ी को कई तरह के मापदंडों से गुजरना पड़ता है और तब जाकर उसे ये बड़ी उपलब्धि मिलती है। बात अगर भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी की हो तो इसको हासिल करना बहुत ही मुश्किल काम है।

यह भी पढ़ें : 3 खिलाड़ी जो भारतीय टीम के मध्यक्रम में अजिंक्य रहाणे की जगह ले सकते हैं

भारत के लिए कपिल देव, एमएस धोनी और मौजूदा समय में विराट कोहली जैसे कप्तानों ने ढेर सारी सफलताएं अर्जित की हैं। हालांकि कुछ भारतीय खिलाड़ी ऐसे भी रहे, जिन्होंने भारत के लिए बहुत सालों तक खेला लेकिन उन्हें कप्तानी का मौका कभी हासिल नहीं हुआ। श्रीलंका दौरे के लिए कप्तान बनाये गए शिखर धवन को भी अचानक से कप्तान नियुक्त किया गया और उन्हें यह मौका भारत के लिए 241 मैच खेलने के बाद हासिल हुआ। इस आर्टिकल में हम उन 3 भारतीय खिलाड़ियों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्हें सर्वाधिक मैच खेलने के बावजूद कभी कप्तान नहीं बनाया गया।

3 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें सर्वाधिक मैच खेलने के बावजूद कप्तानी का मौका नहीं मिला

#3 जहीर खान (309)

जहीर खान
जहीर खान

एक दशक से भी ज्यादा समय तक भारतीय टीम के लिए खेलने वाले पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान को भारत के दिग्गज खिलाड़ियों में गिना जाता है। जहीर के योगदान की वजह से तेज गेंदबाजों के लिए आज भी उनके मापदंडों को हासिल करना काफी मुश्किल है। ज़हीर ने भारत के लिए तीनों ही प्रारूपों में खेला है और उन्होंने कई मैच भारत को अपनी बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर जिताये हैं। जहीर ने भारत के लिए 309 मैचों में 610 विकेट चटकाए हैं। लगभग 12 सालों तक खेलने के बावजूद जहीर को कभी भी भारत की कप्तानी नहीं सौंपी गयी।

#2 हरभजन सिंह (367)

हरभजन सिंह
हरभजन सिंह

हरभजन सिंह का नाम आज भी उनकी बेहतरीन गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। हरभजन सिंह ने अपने करियर में 367 मैच खेले हैं और कुल 711 विकेट लिए। वहीं टेस्ट मैचों में उन्होंने 467 विकेट लिए हैं, जो किसी भी कीर्तिमान से कम नहीं है। इसके अलावा कई बार हरभजन ने अपने बल्ले के दम पर भी भारत को मैच जिताये हैं। इसके बावजूद इस दिग्गज को कभी कप्तानी के काबिल नहीं समझा गया। 1998 में अपने करियर की शुरुआत करने वाले हरभजन ने अभी तक संन्यास नहीं लिया है। हालांकि अब उन्हें भारतीय टीम के खेलने का दोबारा मौका मिलना मुश्किल है।

#1 युवराज सिंह (402)

युवराज सिंह
युवराज सिंह

भारतीय टीम के सबसे बेहतरीन पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह को किसी भी तरह की परिचय की आवश्यकता नहीं है। युवराज सिंह ने अपने ऑलराउंड खेल के दम पर कई बार मुश्किल मैचों से भारतीय टीम को जीत निकाल कर दी है। विश्व कप 2011 और टी20 विश्व कप 2007 में युवराज सिंह द्वारा दिए गए योगदान को आज भी क्रिकेट फैंस के द्वारा सराहना मिलती है। युवराज सिंह ने अपने करियर में 402 मैच खेलते हुए कुल 11,778 रन बनाए हैं और गेंदबाजी करते हुए 148 विकेट लिए हैं। हालांकि इतने शानदार योगदान के बावजूद युवराज सिंह को कभी भी भारतीय टीम की कमान देने पर विचार नहीं किया गया।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...