Create

3 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जिनकी मैदान पर चोट के बाद मौत हो गई

ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी की दुखद मौत के बाद खेल जगत सदमें में था
ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी की दुखद मौत के बाद खेल जगत सदमें में था
reaction-emoji
Naveen Sharma

क्रिकेट में हार और जीत चलती रहती है। जीतने से टीम और फैन्स को ख़ुशी मिलती है और हारने पर मायूसी मिलती है। इन सबके बीच यह खेल दर्शक और खिलाड़ी को एक-दूसरे के साथ बांधे रखता है। एक मैच के बाद उम्मीदें अगले मैच और एक सीरीज के बाद अगली सीरीज पर लगी रहती है। कई बार अहम टूर्नामेंट में नॉक आउट दौर में पराजित होने वाली टीमों के खिलाड़ियों को भावुक होते हुए भी देखा गया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसा कई बार हुआ है।

क्रिकेट में दुखों का पहाड़ भी बहुत बार टूटा है। जब खिलाड़ी खेल रहा होता है तो दर्शक मनोरंजन के बारे में सोचता है। कोई यह नहीं सोचता कि इस खिलाड़ी या उस खिलाड़ी का यह अंतिम मैच हो सकता है, जीवन का अंतिम दिन या क्षण हो सकते हैं। ऐसे कई खिलाड़ी हुए हैं जिन्हें खेलते समय मैदान पर चोट लगी और वे दुनिया को अलविदा कहकर चले गए। इन घटनाओं ने लोगों को ख़ासा मायूस किया है। छोटे मैचों से लेकर बड़े मैचों तक खिलाड़ी को गेंद से चोट लगने के बाद मृत्यु प्राप्त हुई है। इस आर्टिकल में भी ऐसे ही खिलाड़ियों के बारे में बात की जा रही है जिनका चोट लगने या अन्य किसी कारण से निधन हो गया।

वसीम रजा

पाकिस्तान के लिए इस खिलाड़ी ने 1970 और 80 के दशक में क्रिकेट खेला था। 57 टेस्ट मैच में रजा ने 2800 से भी ज्यादा रन बनाए थे। सर्रे के लिए पचास ओवर का एक मैच खेलते समय उन्हें मैदान पर दिल का दौरा पड़ा था। इसके बाद उनका निधन हो गया। उनकी पत्नी एन्ने भी एक बेहतरीन क्रिकेटर थीं। रजा दो बेटों के पिता थे।

रमन लाम्बा

रमन लाम्बा बांग्लादेश में खेल रहे थे
रमन लाम्बा बांग्लादेश में खेल रहे थे

इस भारतीय खिलाड़ी का निधन काफी कम उम्र में हो गया। दिल्ली से खेलने वाले रमन लाम्बा को बांग्लादेश के ढाका में एक क्लब मैच में फॉरवर्ड शॉर्ट लेग पर फील्डिंग के समय सिर में गेंद से चोट लगी थी। तीन दिन कोमा में रहने के बाद उनका निधन हो गया। 1998 में उस समय उनकी उम्र 38 साल थी। भारत के लिए लाम्बा ने 32 वनडे और चार टेस्ट मैच खेले थे। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उनके नाम 8 हजार से ज्यादा रन थे।

फिल ह्यूज

फिल ह्यूज 2 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहे थे
फिल ह्यूज 2 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहे थे

इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी के असामयिक निधन ने क्रिकेट जगत सहित विश्व के क्रिकेट प्रेमियों को झकझोर दिया था। शेफील्ड शील्ड के मैच में न्यू साउथवेल्स के लिए खेलते हुए सीन एबोट की बाउंसर उनके सिर में लगी थी। गेंद से बचने का भरपूर प्रयास करने के बाद भी यह उनके सिर हेलमेट से टकराई। मस्तिष्क में खून जमा होने की वजह से 2 दिन बाद सिडनी के एक अस्पताल में ह्यूज की मृत्यु हो गई। समस्त क्रिकेट जगत को इस निधन से गहरा धक्का लगा था।

Edited by Naveen Sharma
reaction-emoji

Comments

comments icon1 comment

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...