Create
Notifications

3 क्रिकेट मैच जिन्हें खराब पिच के कारण बीच में रद्द कर दिया गया

भारत-श्रीलंका
भारत-श्रीलंका
Naveen Sharma
FEATURED WRITER

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बारिश ने कई मैचों को धोया है। कई अहम मुकाबलों के जरूरी क्षणों में बारिश ने आकर काम खराब किया है। इसके अलावा शायद ही ऐसी चीजें हो जो किसी मैच को रद्द करवा सके लेकिन कई बार ऐसा भी देखने को मिला है। मुकाबला शुरू होने के बाद मैच को रद्द करने की घटनाएँ भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में देखने को मिली है। इसकी मुख्य वजह पिच बनी। खराब पिचों के कारण शुरू हो चुके मैचों को बाद में रद्द करना पड़ा है। इस तरह की घटना होने पर मेजबान देश के लिए शर्मनाक बात मानी जाती है।

कई बार ऐसा देखने को मिला है कि गीले आउटफिल्ड या बारिश ने मैच रद्द कराने में भूमिका निभाई हो लेकिन पिच के कारण ऐसा होने से आश्चर्य होता है। टॉस के बाद मैच शुरू हो और खराब पिच की वजह से इसे रद्द करने पर दर्शक और खिलाड़ी दोनों को निराशा होती है। मैच आयोजन कराने वाले देश की किरकिरी अलग से होती है। इस आर्टिकल में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में हुई तीन ऐसी घटनाओं के बारे में बताया गया है जहाँ मैच शुरू होने के बाद रद्द किया गया।

यह भी पढ़ें: 5 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने सबसे कम उम्र में टेस्ट डेब्यू किया था

भारत vs श्रीलंका, 1997

रणतुंगा-तेंदुलकर
रणतुंगा-तेंदुलकर

श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में भारतीय टीम दूसरे वनडे के लिए इंदौर पहुंची थी। वहां नेहरु स्टेडियम में पिच पूरी सूखी थी। उसमें पानी और रोलर कुछ नहीं हुआ था। श्रीलंका ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का निर्णय लिया लेकिन वे ज्यादा समय तक नहीं खेल पाए। पिच में असीमित उछाल था जो बल्लेबाजों के लिए खेलना मुश्किल था। चोट लगने के भी ज्यादा आसार थे। तीन ओवर एम् एक विकेट पर 17 रन के स्कोर पर मैच रोक दिया गया और रद्द किया गया। उस पिच के दूसरी तरफ बनी अन्य पिच पर 25 ओवर का फ्रेंडली मैच दर्शकों के लिए खेला गया।

1 / 3 NEXT
Edited by Naveen Sharma
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now