Create

3 विदेशी युवा खिलाड़ी जो कम समय में ही एक बड़े खिलाड़ी के रूप में उभरे हैं

सैम करन
सैम करन

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में रोमांच अपने चरम पर है। जहां एक ओर हाल के दिनों में अनुभवी खिलाड़ियों ने अपने खेल से दर्शकों का दिल जीता है, तो वहीं कुछ नए युवा खिलाड़ियों ने भी अपने प्रदर्शन से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी अहम जगह बनाई है।

ये भी पढ़ें: 3 दिग्गज क्रिकेटर जो साल 2020 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं

हाल के दिनों में कुछ ऐसे खिलाड़ी सामने आए हैं जिनके पास अनुभव तो कम है लेकिन उन्होंने अपने प्रदर्शन से यह साबित किया है कि उनमें प्रतिभा की कोई कमी नहीं है और वह एक दिग्गज खिलाड़ी के रूप में उभरे हैं। आज हम इस आर्टिकल में ऐसे ही तीन ही युवा क्रिकेटरों के बारे में बात करेंगे जिन्होंने बहुत ही कम समय में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी एक अलग छाप छोड़ी है।

#1 मार्नस लैबुशेन

मार्नस लाबुशेन
मार्नस लाबुशेन

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्नस लैबुशेन ने साल 2018 में पाकिस्तान के खिलाफ अपना अंतर्राष्ट्रीय पदार्पण किया था। लैबुशेन हाल के दिनों में एक मैच विनर खिलाड़ी के रूप में उभरे हैं। लैबुशेन के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर की बात करें तो उन्होंने अभी तक 14 टेस्ट मैचों में 63.43 की औसत से 1459 रन बनाए हैं, जिसमें 4 शतक और 8 अर्धशतक शामिल हैं। इस दौरान उन्होंने 3.68 की इकॉनमी रेट से 12 विकेट भी झटके हैं।

इस 25 वर्षीय बल्लेबाज के लिए साल 2019 काफी शानदार रहा और वह टेस्ट मैचों के एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में उभरे हैं। लैबुशेन ने मात्र 14 टेस्ट मैच खेले हैं, परंतु वर्तमान में उनकी आईसीसी टेस्ट रैंकिंग नंबर-3 है।

#2 जोफ्रा आर्चर

जोफ्रा आर्चर
जोफ्रा आर्चर

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर आईपीएल के बाद प्रसिद्ध हुए और उन्हें 3 मई 2019 को आयरलैंड के खिलाफ एकदिवसीय क्रिकेट में पदार्पण करने का मौका मिला। इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड की वर्ल्ड कप टीम में अपनी जगह बनाई और टीम को वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाई।

जोफ्रा आर्चर के लिए साल 2019 किसी सपने से कम नहीं था। उन्होंने 2019 में 7 टेस्ट मैचों में 27.40 की औसत से 30 विकेट झटके, वहीं 14 एकदिवसीय मैचों में 4.63 की इकॉनमी रेट से 23 विकेट लिए और एकमात्र टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में 7.25 की इकॉनमी से 2 विकेट चटकाए।

#3 सैम करन

सैम करन
सैम करन

इंग्लैंड के युवा ऑलराउंडर सैम करेन ने अपना अंतर्राष्ट्रीय पदार्पण 1 जून 2018 को पाकिस्तान के खिलाफ किया था। सैम करन के अब तक के करियर की बात करें तो उन्होंने 15 टेस्ट मैचों में 27.47 की औसत से 632 रन बनाए हैं। इसके अलावा उन्होंने दो एकदिवसीय मैचों में 8.5 की औसत से 17 रन और 5 टी-20 मैचों में 11.66 की औसत से 35 रन बनाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने इस दौरान टेस्ट मैच में 35, एकदिवसीय मैचों में 2 और टी-20 मैचों में 6 विकेट झटके हैं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment