Create

3 खिलाड़ी जिनका करियर ऋषभ पंत की वजह से शुरू होने से पहले ही समाप्त हो सकता है 

Image result for rishabh pant

क्रिकेट अक्सर कुछ खिलाड़ियों के लिए तो भाग्यशाली साबित होता है, जबकि कुछ खिलाड़ी प्रतिभा होने के बावजूद टीम से बाहर हो जाते हैं। इसका सबसे बड़ा उदाहरण रॉबिन उथप्पा, दिनेश कार्तिक और पार्थिव पटेल जैसे विकेटकीपर-बल्लेबाज थे जिन्हें एम एस धोनी के टीम में होने की वजह से बाहर बैठना पड़ा था।

वर्तमान समय में ऋषभ पंत भी धोनी के नक्शे-कदम पर चल रहे हैं। दिल्ली के 21 वर्षीय विकेटकीपर-बल्लेबाज ने अपने छोटे से करियर में बहुत प्रभावित किया है और अब उनकी वजह से कई खिलाड़ियों को टीम से बाहर बैठना पड़ रहा है। तो आज हम जानेंगे तीन ऐसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के बारे में जिनका करियर ऋषभ पंत की वजह से शुरू होने से पहले ही समाप्त हो सकता है:

#3. संजू सैमसन

Related image

केरल के 24-वर्षीय विकेटकीपर-बल्लेबाज पिछले काफी समय से आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। सैमसन ने सिर्फ 19 साल की उम्र में 2013 में अपने आईपीएल करियर की शुरुआत की थी।

जबकि पिछले सीज़न में उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और 137.8 की स्ट्राइक रेट से 15 मैचों में 3 अर्धशतकों सहित 441 रन बनाए थे। उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए 2018 में सैमसन को इंडिया ए के लिए खेलने का मौका मिला। जिसके बाद उन्हें राष्ट्रीय टीम में भी शामिल होने का मौका मिला लेकिन यो-यो टेस्ट में फेल होने की वजह से उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला।

इससे पहले सैमसन ने 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय टी-20 में अपना पदार्पण किया था। अपने करियर के इस एकमात्र अन्तर्रष्ट्रीय मैच में उन्होंने 19 रन बनाए और उसके बाद से उनकी टीम में वापसी नहीं हुई। जिसका मुख्य कारण था ऋषभ पंत का लगातार शानदार प्रदर्शन।

आईपीएल सीज़न 2019 में राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें टीम में बरकरार रखा है, और इसमें अच्छा प्रदर्शन कर वह भारतीय टीम में वापसी कर सकते हैं।

#2. इशान किशन

Image result for ishan kishan

बिहार के 20 वर्षीय विकेटकीपर-बल्लेबाज इशान किशन वर्तमान में ऋषभ पंत के सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वियों में से एक हैं। वह भारत की अंडर -19 विश्व कप जीतने वाली टीम के सदस्य थे। बाएं हाथ के बल्लेबाज 2016-17 के रणजी ट्रॉफी सीज़न में 799 रन बनाए, जिसमें 273 रनों की शानदार पारी शामिल थी।

किशन को पहली बार 2016 में गुजरात लायंस की तरफ से आईपीएल खेलने का मौका मिला। हालांकि, उन्होंने अपनी बल्लेबाज़ का लोहा आईपीएल सीज़न 2017 और 2018 में मनवाया जब उन्होंने दोनों सत्रों में क्रमशः 277 और 275 रन बनाए। वह 2018 सीज़न में मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे और इस बार भी उन्हें टीम में बरकरार रखा गया है।

हाल ही में खेली गई सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में किशन ने जम्मू-कश्मीर के खिलाफ नाबाद 55 गेंदों में 100 रन और मणिपुर के खिलाफ 63 गेंदों में 112 रनों की शानदार पारियां खेली हैं।

इस समय अगर पंत टीम में नहीं होते तो निश्चित रूप से हम ईशान किशन को भारतीय टीम के लिए खेलते देखते।

#1. श्रीकर भरत

Srikar Bharat

25 वर्षीय श्रीकर भरत पिछले 6 वर्षों में आंध्र प्रदेश के लिए लगातार शानदार प्रदर्शन किया है। उन्हें 2014-15 सत्र में अपने शानदार प्रदर्शन के कारण जिसमें उन्होंने 14 पारियों में 54.14 की शानदार औसत के साथ 758 रन बनाए थे।

जिसके बाद उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल) में शामिल होने का मौका मिला हालांकि वह कोई मैच नहीं खेल पाए। इसके बाद उन्हें इंडिया ए के लिए खेलने का अवसर मिला जहां भी उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया।

इंडिया ए और इंग्लैंड लायंस के बीच हाल ही में समाप्त हुई अनौपचारिक टेस्ट श्रृंखला में, उन्होंने पहले टेस्ट में 139 गेंदों पर 142 रन बनाए थे और दूसरे में 53 गेंदों में 46 रन बनाए। हालांकि, आईपीएल 2019 की नीलामी में उन्हें कोई खरीदार नहीं मिला था लेकिन अपन हालिया प्रदर्शन से भरत ने अपनी काबलियत साबित की है।

फिलहाल, इस प्रतिभाशाली बल्लेबाज़ के भारतीय टीम में अपनी जगह बनाने में सबसे बड़ी रुकावट ऋषभ पंत हैं। यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या भरत ऋषभ पंत के रहते हुए कभी टीम इंडिया में अपनी जगह बना पाएंगे।

लेखक: आयुज आर्यन अनुवादक: आशीष कुमार

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment