Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

3 कारणों से इंग्लैंड को भारत के खिलाफ चौथे टी20 मैच में हार मिली

India v England - 4th T20 International
India v England - 4th T20 International
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 19 Mar 2021
टॉप 5 / टॉप 10

इंग्लैंड (England) की टीम को चौथे टी20 मैच में भारतीय टीम (Indian Team) ने रोमांचक तरीके से हराकर सीरीज में उम्मीदें बरकरार रखी हैं। टीम इंडिया के लिए मुकाबला जीतना जरूरी था क्योंकि सीरीज में उनकी स्थिति करो या मरो वाली हो गई थी। इस मैच में हार के साथ ही उन्हें सीरीज से भी हाथ धोना पड़ सकता था। अब अगले मैच में दोनों टीमें फाइनल मैच की तरह खेलते हुए नजर आएगी। भारतीय टीम ने इस बार गलतियों पर काम किया और इंग्लैंड को हैरान करने वाला खेल दिखाया।

मुकाबला शुरू होने से पहले टॉस हारने के बाद कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे जिनमें भारतीय टीम की हार के बारे में भी कुछ बातें सामने आई थी लेकिन अंत में भारतीय टीम की मेहनत रंग लाइ। हर खिलाड़ी ने अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए टीम के लिए उचित योगदान दिया और इस जीत में सहभागिता निभाई। इस आर्टिकल में इंग्लैंड की हार के तीन कारणों के बारे में बताया गया है।

भारत की बेहतर बल्लेबाजी रणनीति

India v England - 4th T20 International
India v England - 4th T20 International

टीम इंडिया ने इस बार पिछले मैचों की गलती में सुधार करते हुए बल्लेबाजी में बेहतर रणनीति लागू की। भारतीय टीम ने विकेट गिरने के बाद भी रन गति में कमी नहीं होने दी। जो भी बल्लेबाज आया, उसके तेजी से रन बनाने का प्रयास करते हुए टीम का स्कोर आगे लेकर जाने की योजना के तहत काम किया और इससे टीम इंडिया को फायदा हुआ।

सूर्यकुमार यादव की पारी

India v England - 4th T20 International
India v England - 4th T20 International

सूर्यकुमार यादव की पारी से भारतीय टीम की रन गति में उछाल आया और एक बूस्ट मिला। उन्होंने इंग्लैंड के हर गेंदबाज का बखूबी सामना करते हुए भारतीय पारी को लगातार आगे बढ़ाया और एक अर्धशतक जमाया। यादव की पारी से भारतीय टीम के अन्य बल्लेबाजों के ऊपर दबाव नहीं आया और टीम ने एक बड़ा स्कोर स्कोरबोर्ड पर डाल दिया।

1 / 2 NEXT
Published 19 Mar 2021, 09:06 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now