Create
Notifications
Advertisement

3 कारणों से इंग्लैंड को भारत के खिलाफ तीसरे वनडे में हार मिली

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 28 Mar 2021
टॉप 5 / टॉप 10

इंग्लैंड (England) ने भारतीय टीम (Indian Team) के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में पूरी शिद्दत के साथ लड़ाई की लेकिन अंत में वे यह लड़ाई हार गए। इंग्लिश टीम के एक बल्लेबाज ने पूरी पारी का जिम्मा अपने कन्धों पर उठाते हुए दबाव में भी धाकड़ बल्लेबाजी की और मैच को अंत तक लेकर गया और उसका नाम है सैम करन। करन जब बल्लेबाजी के लिए आए थे तब ऐसा लग नहीं रहा था कि वह अंतिम गेंद तक टिककर भारतीय टीम के नाक में दम कर देंगे। पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ उन्होंने दो धाकड़ साझेदारियां की और भारतीय टीम को बराबरी की टक्कर देते हुए जीत के एकदम करीब जाकर मुकाबला गंवा बैठे।

भारतीय टीम के लिए यह सबक जरुर होगा कि पुछल्ले बल्लेबाजों को निपटाने के लिए क्या करना चाहिए और इस मैच में उन्होंने कौन सी बड़ी गलतियाँ की। भारतीय टीम ने अंतिम गेंद पर जब जीत हासिल की, तभी चैन की सांस ली होगी। इंग्लैंड की टीम पूरी पारी के दौरान मैच में बनी हुई थी और ऐसा लग रहा था कि सैम धोनी स्टाइल में इसे खत्म कर देंगे। हालांकि अंत में किस्मत टीम इंडिया के लिए मेहरबान रही और इंग्लैंड की टीम को पराजय मिली लेकिन भारतीय टीम के लिए भी सैम करन एक सबक देकर गए। मैच में इंग्लैंड की टीम की हार के तीन प्रमुख कारणों की चर्चा यहाँ की गई है।

ऋषभ पन्त और हार्दिक पांड्या की तूफानी पारियां

India v England - 3rd One Day International
India v England - 3rd One Day International

भारतीय टीम चार विकेट गंवाने के बाद पूरी तरह से बैकफुट पर थी और इस समय टीम को दो युवाओं हार्दिक पांड्या तथा ऋषभ पन्त ने सम्भाला। इन दोनों ने मिलकर न केवल गति बनाए रखी बल्कि तेज अर्धशतक जड़े। इंग्लिश टीम को इस समय मौके का फायदा उठाते हुए रन गति पर अंकुश लगाने का प्रयास करना चाहिए था। इन दोनों की 99 रनों की साझेदारी इंग्लैंड टीम पर भारी पड़ी।

1 / 3 NEXT
Published 28 Mar 2021, 23:16 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now