Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 कारण क्यों भारतीय टीम इस बार भी अंडर-19 वर्ल्ड कप जीत सकती है

SENIOR ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 09 Jan 2020, 16:30 IST

अंडर-19 वर्ल्ड कप ट्रॉफी
अंडर-19 वर्ल्ड कप ट्रॉफी

दक्षिण अफ्रीका में 17 जनवरी से 19 फरवरी तक अंडर-19 वर्ल्ड कप का आयोजन होगा। अंडर-19 वर्ल्ड कप का ये 13वां संस्करण है। अब तक भारत ने 4 बार इस खिताब को अपने नाम किया है। 2018 में हुए अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ने पृथ्वी शॉ की अगुवाई में जीत हासिल की थी। उस समय टीम के कोच राहुल द्रविड़ थे।

इस बार भी भारतीय अंडर-19 टीम से काफी उम्मीदें हैं। भारतीय टीम जापान , श्रीलंका और न्यूजीलैंड के साथ ग्रुप ए में है और उनका पहला मुकाबला 18 जनवरी को श्रीलंका से होगा। जिस तरह की फॉर्म में भारतीय अंडर-19 टीम इस वक्त है, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि भारत इस खिताब को जीतने की प्रबल दावेदार है।

ये भी पढ़ें: अंडर-19 वर्ल्ड कप के 3 खिलाड़ी जो 2020 में भारतीय टीम का हिस्सा बन सकते हैं

आइए जानते हैं वो 3 कारण कौन से हैं जिसकी वजह से भारतीय टीम लगातार दूसरी बार अंडर-19 विश्व कप का खिताब अपने नाम कर सकती है।

मजबूत टीम

दक्षिण अफ्रीका को वनडे सीरीज में हराने के बाद भारतीय टीम
दक्षिण अफ्रीका को वनडे सीरीज में हराने के बाद भारतीय टीम

भारतीय टीम इस वर्ल्ड कप की सबसे बेहतरीन टीमों में से एक है। टीम में एक से बढ़कर एक कई युवा खिलाड़ी हैं। यशस्वी जायसवाल ने पिछले साल विजय हजारे ट्रॉफी में दोहरा शतक जड़कर दर्शा दिया था कि उनमें कितनी काबिलियित है। इसके अलावा टीम के कप्तान प्रियम गर्ग, उप कप्तान ध्रुव जुरेल, दिव्यांश सक्सेना , सुशांत मिश्रा , अथर्व अंकोलेकर और तिलक वर्मा जैसे खिलाड़ी भी शानदार फॉर्म में हैं।

प्रियम गर्ग ने 2018-19 के रणजी ट्रॉफी सीजन में यूपी के लिए 800 से ज्यादा रन बनाए। अथर्व अंकोलेकर ने एशिया कप फाइनल में शानदार गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट चटकाए थे। इसे देखते हुए कहा जा सकता है कि भारतीय टीम काफी मजबूत है और उसे हराना किसी भी टीम के लिए आसान काम नहीं होगा।

1 / 2 NEXT
Published 09 Jan 2020, 16:30 IST
Advertisement
Fetching more content...