Create
Notifications

IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ कोलकाता नाइटराइडर्स की हार के 3 कारण

CSK-KKR
CSK-KKR
Naveen Sharma
visit

आईपीएल से बाहर हो चुकी चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) की टीम कोलकाता नाइटराइडर्स को मैच हराने के इरादे से ही मैदान पर आई थी। चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम बाहर हो गई लेकिन कोलकाता नाइटराइडर्स को हराकर उन्हें भी लगभग बाहर ही कर दिया। अगले मैच में पंजाब की जीत पर वे बाहर होंगे। कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) ने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की लेकिन उनके लिए कुछ भी सही साबित नहीं हुआ। केकेआर ने सीजन के बीच में कप्तान बदला, उसका फायदा भी उनको नहीं हुआ। केकेआर की टीम को चेन्नई सुपरकिंग्स ने मैच की अंतिम गेंद पर हराया और यह उनके लिए काफी दुर्भाग्यपूर्ण रहा होगा। केकेआर की टीम ने ओवरऑल अच्छा खेल दिखाया लेकिन चेन्नई उनसे आगे रही।

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी इस बार चेन्नई सुपरकिंग्स के काम आई और उन्होंने हर फैसला सोचकर लिया। साख बचाने के लिए खेल रही चेन्नई ने एकजुट होकर खेल दिखाया। केकेआर ने नहीं सोचा होगा कि उन्हें चेन्नई की टीम इस तरह हरा देगी। कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से कुछ खामियां रही। उनके बारे में इस आर्टिकल में जिक्र किया गया है।

कोलकाता नाइटराइडर्स की हार के 3 कारण

बल्लेबाजी क्रम में छेड़छाड़

सुनील नारेन
सुनील नारेन

यह सभी जानते हैं कि बल्लेबाजी क्रम में बदलाव हर बार काम नहीं आता है। एक बार ऐसा करने पर सफलता मिल सकती है लेकिन बार बार नहीं मिलती। हालांकि नितीश राणा ने बेहतरीन बल्लेबाजी की लेकिन उनके अलावा सभी फ्लॉप रहे। सुनील नारेन को कहीं भी खेलने के लिए भेजने का फायदा नहीं हुआ और वहां से विकेट गिरने से टीम पर दबाव बढ़ा।

ऋतुराज गायकवाड़ की पारी

ऋतुराज गायकवाड़
ऋतुराज गायकवाड़

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए ऋतुराज गायकवाड़ ने क्रीज पर टिककर बल्लेबाजी करते हुए केकेआर के गेंदबाजों के लिए मुश्किलें खड़ी की। उन्होंने अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन विकेट बचाकर स्कोर चलाते रहने अहम चीज थी और वही उन्होंने किया। गायकवाड़ की 72 रनों की पारी से चेन्नई के लिए एक मोमेंटम सेट हो गया और केकेआर के लिए यह भारी पड़ा।

रविन्द्र जडेजा की तूफानी बल्लेबाजी

रविन्द्र जडेजा
रविन्द्र जडेजा

रविन्द्र जडेजा जब आए तब चेन्नई को जीत के लिए 2 ओवर में 30 रन चाहिए थे। जडेजा ने लोकी फर्ग्युसन के एक ओवर में ही 20 रन जुटाकर यह अंतर कम कर दिया। इसके बाद अंतिम ओवर में दस रन चाहिए थे तब भी उन्होंने दो छक्के जड़े। रविन्द्र जडेजा ने 11 गेंद पर 31 रनों की तूफानी पारी खेलकर मैच पूरी तरह से केकेआर से दूर कर दिया जिसकी कल्पना उन्होंने नहीं की होगी।

Edited by Naveen Sharma
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now