Create

3 प्रमुख कारणों से रविचंद्रन अश्विन टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए एक सरप्राइज पिक हो सकते हैं 

टी20 वर्ल्ड कप में शामिल होने वाले दावेदारों की लिस्ट में रविचंद्रन अश्विन का नाम भी शामिल है
टी20 वर्ल्ड कप में शामिल होने वाले दावेदारों की लिस्ट में रविचंद्रन अश्विन का नाम भी शामिल है
Ayushman Chaudhary

आगामी टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) भारत के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। पिछले साल विश्व कप के ख़राब प्रदर्शन के बाद इस साल भारतीय टीम के सामने खुद को साबित करने और सालों के ICC ट्रॉफी के सूखे को भी ख़त्म करने की चुनौती होगी। ऐसी स्थिति में चयनकर्ताओं के लिए विश्व कप टीम चुनना भी एक सिरदर्द है। कई सारे खिलाड़ियों का प्रबल दावेदारी पेश करना टीम के चयन को और मुश्किल बना सकता है। टी20 वर्ल्ड कप में शामिल होने वाले दावेदारों की लिस्ट में ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का नाम भी शामिल है।

रविचंद्रन अश्विन भारत के लिए एक महान स्पिनर हैं। उन्होंने क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में अपनी गेंदबाज़ी का लोहा मनवाया है। बीते कुछ सालों में अश्विन सफ़ेद गेंद की टीम में अंदर बाहर होते रहे हैं। टी20 प्रारूप में अश्विन ने खुद को बदलते वक़्त के साथ ढालने की कोशिश की है। अहम टूर्नामेंट के लिए चयनकर्ता उन्हें एक सरप्राइज के रूप में चुन सकते हैं।

इन 3 वजहों के आधार पर टी20 वर्ल्ड कप के लिए रविचंद्रन अश्विन को चुना जा सकता है

#1 अश्विन ने खुद को टी20 प्रारूप में नए तरीके से ढाला है

मैच के दौरान गेंदबाज़ी करते रविचंद्रन अश्विन
मैच के दौरान गेंदबाज़ी करते रविचंद्रन अश्विन

टी20 क्रिकेट वक़्त के साथ हर रोज़ बदलता रहता है। अश्विन अपने शुरूआती दिनों में भारत के लिए टी20 में एक अहम हिस्सा होते थे और कई महत्वपूर्ण मुकाबलों में टीम की जीत के नायक भी बने। गुज़रते वक़्त के साथ अश्विन खुद को टी20 प्रारूप के लिए बदल नहीं पाए और उनकी जगह टीम में दूसरे स्पिनर्स ने ले ली।

वर्तमान में अश्विन ने टी20 में खुद को नए अंदाज़ में ढाल लिया है। अश्विन के पास कई सारी विविधताएं हैं। वहीं वह रन रोकने में माहिर नजर आते हैं। इसका फायदा दूसरे गेंदबाजों को मिल सकता है। वह काफी अनुभवी हैं और बड़े टूर्नामेंट में अहम भूमिका निभा सकते हैं।

#2 बल्ले के साथ भी असरदार

अश्विन ने आईपीएल में इस साल बल्ले से काफी प्रभावित किया
अश्विन ने आईपीएल में इस साल बल्ले से काफी प्रभावित किया

अश्विन को टेस्ट में हमेशा से एक आलराउंडर की उपाधि प्राप्त है और बीते आईपीएल में भी उन्होंने बल्ले से काफी प्रभावित किया है। 2022 आईपीएल में उन्होंने किसी एक सत्र में सबसे ज़्यादा रन बनाये। अश्विन ने 17 मैचों में 27 से अधिक की औसत से 191 रन बनाये और अपना पहला आईपीएल अर्धशतक भी लगाया। बल्ले से उनका योगदान टीम के लिए असरदार साबित हो सकता है। अश्विन बल्लेबाजी क्रम में गहराई प्रदान कर सकते हैं और जल्दी विकेट गिरने पर ऊपर आकर पारी सँभालने का काम भी बखूबी कर सकते हैं।

#3 विपरीत परिस्थितियों में भी विकेट निकालने का हुनर

अश्विन के पास दुनिया भर की विपरीत परिस्थितियों में खेलने का अनुभव
अश्विन के पास दुनिया भर की विपरीत परिस्थितियों में खेलने का अनुभव

दुनिया भर की अलग-अलग परिस्थितियों में खेलने का अनुभव अश्विन को वर्ल्ड कप में काफी अहम बनाता है। अश्विन के पास विकेट निकालने की काबिलियत हैं और वह ज्यादा मददगार परिस्थितियों पर निर्भर नहीं रहते हैं। अश्विन के पास विविधताओं का भंडार है जो उन्हें बाकी स्पिनर्स से अलग करता है। इसके अलावा वह गेम को काफी अच्छे समझते हैं और मांग के मुताबिक अपनी गेंदबाजी में बदलाव करने की कला भी बखूबी जानते हैं। ऐसे में उन्हें वर्ल्ड कप की टीम में एक सरप्राइज पिक के रूप में लिया जा सकता है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...