Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin)


ABOUT
BATTING STATS

GAME TYPE M INN RUNS BF NO AVG SR 100s 50s HS 4s 6s CT ST
ODIs 111 61 675 776 19 16.07 86.98 0 1 65 59 6 30 0
TESTs 70 96 2385 4362 13 28.73 54.68 4 11 124 269 14 24 0
T20s 46 11 123 115 7 30.75 106.96 0 0 31 14 1 8 0
BOWLING STATS

GAME TYPE M INN OVERS RUNS WKTS AVG ECO BEST 5Ws 10Ws
ODIs 111 109 1003 4937 150 32.91 4.92 25/4 0 0
TESTs 70 131 3235 9183 362 25.37 2.84 59/7 27 7
T20s 46 46 171 1193 52 22.94 6.98 8/4 0 0
ABOUT

आर अश्विन की जीवनी

रविचंद्रन अश्विन एक भारतीय क्रिकेटर हैं, जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में देश का प्रतिनिधित्व करते हैं। घरेलू स्तर पर अश्विन तमिलनाडु के लिए प्रथम श्रेणी का क्रिकेट खेलते हैं। वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में किंग्स-XI पंजाब के लिए खेलते हैं।


अश्विन भारत के सर्वश्रेष्ठ स्पिन गेंदबाजों में से एक हैं। वह दाएं हाथ के ऑफ ब्रेक गेंदबाज हैं। अश्विन के पास दोनों तरह की स्पिन गेंदबाजी करने की क्षमता है, जो उन्हें सबसे अलग बनाती है। अश्विन अपनी कैरम बॉल और लेग स्पिन के लिए जाने जाते हैं। यह काबिलियत न सिर्फ उन्हें भारत बल्कि दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बनाती है।


पहले सलामी बल्लेबाज थे अश्विन

अश्विन वास्तव में एक सलामी बल्लेबाज थे। वह भारत की अंडर-17 टीम के लिए सलामी बल्लेबाजी करते थे लेकिन खराब फॉर्म की वजह से उन्हें रोहित शर्मा से रिप्लेस कर दिया गया। उन्होंने तमिलनाडु क्रिकेट टीम और साउथ जोन के लिए एक विशेषज्ञ गेंदबाज के रूप में खेला। अश्विन ने अपने करियर की की शुरुआत एक तेज गेंदबाज के रूप में की थी लेकिन वह जल्द ही एक स्पिन गेंदबाज में बदल गए।

आर अश्विन आईपीएल


किंग्स-XI पंजाब के बने कप्तान

अश्विन ने 2009 में चेन्नई सुपर किंग्स के साथ अपना आईपीएल करियर शुरू किया। सीएसके के साथ उन्होंने 2010 और 2011 में लगातार दो आईपीएल खिताब जीते। 2016 में चेन्नई सुपर किंग्स पर लगे प्रतिबंध की वजह से उन्हें राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स फ्रैंचाइजी में जाना पड़ा था। अश्विन ने 2016 का आईपीएल संस्करण खेला लेकिन स्पोर्ट्स हर्निया के कारण 2017 का संस्करण छोड़ दिया। आईपीएल के 2018 संस्करण के लिए अश्विन को किंग्स-XI पंजाब ने 7.6 करोड़ रुपये में खरीदकर टीम का कप्तान नियुक्त किया। अश्विन के आईपीएल करियर में सबसे विवादास्पद घटनाओं में से एक आईपीएल 2019 में जोस बटलर की माकड़िंग थी।


आईपीएल ने वनडे टीम में जगह दिलाई

2010 के इंडियन प्रीमियर लीग में अश्विन के शानदार प्रदर्शन ने उन्हें भारतीय टीम में जगह दिलाई। वह मई-जून 2010 में जिम्बाब्वे दौरे पर टीम इंडिया के साथ गए। उन्होंने आखिरकार 5 जून 2010 को श्रीलंका क्रिकेट टीम के खिलाफ अपना एकदिवसीय पदार्पण किया। अश्विन ने 38 गेंदों पर 32 रन का स्कोर किया और 50 रन देकर दो विकेट झटके। अश्विन को अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में फिर से खेलने का मौका मिला, जहां उन्होंने नौ ओवर में महज 34 रन देकर एक विकेट लिया।


हालांकि, जल्द ही अश्विन के क्रिकेट पर सवाल उठने लगे क्योंकि उन्होंने 62.00 के औसत से गेंदबाजी की थी। अच्छा प्रदर्शन न करने के बावजूद अश्विन ने 2013 में इंग्लैंड में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में खुद को भुनाया, जिसमें 20 ओवरों के फाइनल में चार ओवरों में केवल 15 रन देकर 2 विकेट लिए। अश्विन तब से भारतीय वनडे टीम का काफी नियमित हिस्सा बन गए थे।

रविचंद्रन अश्विन


टेस्ट डेब्यू में ही मैन ऑफ द मैच बने

अश्विन ने 6 नवंबर, 2011 को वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के खिलाफ दिल्ली में सीरीज के पहले मैच में अपना टेस्ट पदार्पण किया। अश्विन ने पहली पारी में 3/81 और दूसरी में 6/47 की किफायती गेंदबाजी की और वह मैन ऑफ द मैच से नवाजे गए। अश्विन टेस्ट डेब्यू पर अवार्ड जीतने वाले तीसरे भारतीय खिलाड़ी बने। इसी सीरीज में अश्विन शतक बनाने के साथ ही एक ही मैच में पांच विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय बन गए।


इस तरह अश्विन को उनके हरफनमौला प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज से नवाजा गया। 2012 के अंत में अश्विन इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 50 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए। अश्विन के टेस्ट करियर को देखें तो फरवरी-मार्च 2013 में चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने के लिए भारत दौरे पर ऑस्ट्रेलिया टीम आई थी। इस सीरीज में अश्विन ने 29 विकेट लिए थे, जो चार मैचों की टेस्ट सीरीज में एक भारतीय गेंदबाज द्वारा सबसे अधिक विकेट थे। इस प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।


टी-20 इंटरनेशनल करियर

अश्विन ने हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ अपना टी 20 डेब्यू किया था। उन्होंने चार ओवरों में 22 रन देकर एक विकेट लिया था। उनके इस प्रदर्शन ने अश्विन को न्यूजीलैंड और मेजबान श्रीलंका के खिलाफ त्रिकोणीय शृंखला के लिए चुना। दुर्भाग्य से अश्विन को मौका नहीं मिला क्योंकि प्रज्ञान ओझा और रवींद्र जडेजा को उनसे ज्यादा तवज्जो दी गई।


2014 के एशिया कप और 2014 के आईसीसी वर्ल्ड टी-20 के लिए भारतीय टीम में अश्विन को फिर जगह मिल गई। अश्विन ने इन टूर्नामेंटों में भारत की सफलता में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। शानदार प्रदर्शन की वजह से अश्विन को आईसीसी और क्रिकइंफो की ओर से 2014 टी-20 विश्वकप के लिए टीम ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था।


वर्ल्डकप 2011 में नहीं किया प्रभावित

अश्विन ने हरभजन और पीयूष चावला के साथ 15 सदस्यीय आईसीसी विश्व कप टीम में जगह बनाई। हालांकि अश्विन ने विश्व कप में केवल दो मैच खेले और उन्होंने अपनी छाप छोड़ी। अश्विन ने मार्च 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ विश्व कप की शुरुआत की थी। उन्होंने 10 ओवर में 41 रन देकर दो विकेट लिए थे। अश्विन ने भारत की टूर्नामेंट जीत में मदद की लेकिन सेमीफाइनल या फाइनल में उनका प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं जारी रहा।

आर अश्विन परिवार


परिवार

अश्विन का जन्म 17 सितंबर 1986 को तमिलनाडु में हुआ था। वह चेन्नई के वेस्ट मामबलम में रहते थे। अश्विन के पिता रविचंद्रन एक तेज गेंदबाज के रूप में क्लब स्तर पर क्रिकेट खेलते थे। अश्विन ने अपनी बचपन की दोस्त पृथ्वी नारायणन से 13 नवंबर 2011 को शादी की थी। इस जोड़े ने 11 जुलाई 2015 को अपनी पहली बेटी अखिरा को जन्म दिया और फिर दिसंबर 2016 में उनकी दूसरी बेटी आराध्या हुई।


उपलब्धियां

-ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर क्लेरी ग्रिमेट के बाद सबसे जल्दी 200 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं रविचंद्रन अश्विन।

-वह 18 मैचों में सबसे जल्दी 100 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज और दुनिया के पांचवें गेंदबाज हैं।

-पहला भारतीय क्रिकेटर जिसने टेस्ट मैच में शतक बनाया और पांच विकेट भी लिए, वो भी दो बार।

- अश्विन तीसरे भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्हें डेब्यू मैच में मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया हो।

- अश्विन ने भारत के दूसरे सबसे सफल गेंदबाज के रूप में 128 रन देकर नौ विकेट झटकने का गौरव हासिल किया।

- टेस्ट मैचों (9 मैचों) में सबसे तेज 50 विकेट लेने का रिकॉर्ड।

- चार टेस्ट मैचों की सीरीज (28 विकेट) में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज।

- 2013 में रोहित शर्मा और अश्विन के बीच सातवें विकेट के लिए 280 रनों की साझेदारी हुई, जो इस नंबर पर भारत की सबसे बड़ी साझेदारी थी। यह टेस्ट में किसी भी विकेट के लिए वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी थी।

- 50 टी-20 लेने वाले पहले भारतीय।

- टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत के लिए सबसे अधिक 52 विकेट लेने वाले गेंदबाज।

- 6 बार सर्वाधिक मैन ऑफ द सीरीज पुरस्कार

- सबसे तेज 20वां पांच विकेट

- सबसे तेज 250 टेस्ट विकेट तक पहुंचने का रिकॉर्ड।

- भारत के लिए एकल घरेलू सीज़न (64) में सबसे अधिक विकेट लेने वाले।

- किसी गेंदबाज द्वारा होम सीज़न (79) में सर्वाधिक विकेट।

- सबसे तेज 150 विकेट लेने वाले भारतीय।

- सबसे तेज 200 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज और दुनिया के दूसरे गेंदबाज।

- 54वें टेस्ट में ही सबसे तेज 300 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज।

आर अश्विन career


अवॉर्ड

-अर्जुन पुरस्कार: 2014

-आईसीसी टेस्ट टीम ऑफ द ईयर : 2013, 2015, 2016, 2017

-भारत के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के लिए बीसीसीआई का दिलीप सरदेसाई पुरस्कार : 2010–11, 2015-16

-आईसीसी टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर: 2016

-आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर: 2016

-सीएट इंटरनेशनल क्रिकेटर ऑफ द ईयर: 2016-17

Fetching more content...