COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 कारण जो बताते हैं कि क्यों विराट कोहली को विश्व कप में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी नहीं करनी चाहिए

टॉप 5 / टॉप 10
3.13K   //    Timeless

Virat Kohli

वर्तमान भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री अपने अजीबोगरीब टिप्पणियों के लिए जाने जाते हैं। हाल ही में उन्होंने विराट कोहली पर एक बयान दिया है जो चर्चा का विषय बन गया है। 

हाल ही में क्रिकबज़ को दिए अपने एक इंटरव्यू में शास्त्री से जब पूछा गया कि क्या विश्व कप में विराट कोहली के नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी करने की संभावना नहीं है? तो उन्होंने जवाब दिया कि इस बात की संभावना है और कोहली नंबर 4.पर बल्लेबाजी कर सकते हैं। वह आगामी विश्व कप में अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को जल्दी आउट होते नहीं देखना चाहते।

उन्होंने कहा, "हां, शायद रायडू या कोई और तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता है और कोहली चौथे नंबर पर आ सकते हैं। मुझे द्विपक्षीय एकदिवसीय मैचों की परवाह नहीं है, लेकिन मुझे विश्व कप में अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ के जल्दी आउट होने की चिंता है (यदि परिस्थितियां गेंदबाज़ों के अनुकूल हैं)"

अब भारतीय कोच ने तो यह ब्यान दे दिया लेकिन यहां हम जानेंगे उन तीन मुख्य कारणों के बारे में जो इस बात की गवाही देते हैं कि क्यों कोहली को विश्व कप में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी नहीं करनी चाहिए : 

#3. टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ को बल्लेबाज़ी करने के लिए ज़्यादा ओवर मिलने चाहिए 

Related image

हमने अक्सर क्रिकेट पंडितों और विशेषज्ञों को यह कहते सुना है कि टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को जितना संभव हो सके, उतने लंबे समय तक खेलने का मौका मिलना चाहिए, विशेष रूप से क्रिकेट के छोटे प्रारूपों में जहां सीमित ओवर होते हैं। वर्तमान समय में विराट कोहली निश्चित रूप से भारत के सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय बल्लेबाज हैं इसलिए वह मैच के शुरूआती और मध्य-ओवरों में भारतीय पारी को नियंत्रित कर सकते हैं और टीम के स्कोर को कम से कम 300 रनों के पार पहुँचाने की नींव रख सकते हैं।

नंबर तीन का स्लॉट सही मायनों में टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ के लिए होता है और टीम की जीत या हार काफी हद तक उसके प्रदर्शन पर निर्भर करती है।  

तो ऐसे में, नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने के लिए 'रन मशीन' विराट कोहली से ज़्यादा उपयुक्त कौन हो सकता है।

1 / 3 NEXT
Topics you might be interested in:
Advertisement
Fetching more content...