3 कारण जो बताते हैं कि क्यों विराट कोहली को वर्ल्ड कप में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी नहीं करनी चाहिए

Virat Kohli

वर्तमान भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री अपने अजीबोगरीब टिप्पणियों के लिए जाने जाते हैं। हाल ही में उन्होंने विराट कोहली पर एक बयान दिया है जो चर्चा का विषय बन गया है।

हाल ही में क्रिकबज़ को दिए अपने एक इंटरव्यू में शास्त्री से जब पूछा गया कि क्या वर्ल्ड कप में विराट कोहली के नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी करने की संभावना नहीं है? तो उन्होंने जवाब दिया कि इस बात की संभावना है और कोहली नंबर 4.पर बल्लेबाजी कर सकते हैं। वह आगामी विश्व कप में अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को जल्दी आउट होते नहीं देखना चाहते।

उन्होंने कहा, "हां, शायद रायडू या कोई और तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता है और कोहली चौथे नंबर पर आ सकते हैं। मुझे द्विपक्षीय एकदिवसीय मैचों की परवाह नहीं है, लेकिन मुझे विश्व कप में अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ के जल्दी आउट होने की चिंता है (यदि परिस्थितियां गेंदबाज़ों के अनुकूल हैं)"

अब भारतीय कोच ने तो यह ब्यान दे दिया लेकिन यहां हम जानेंगे उन तीन मुख्य कारणों के बारे में जो इस बात की गवाही देते हैं कि क्यों कोहली को विश्व कप में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी नहीं करनी चाहिए :

#3. टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ को बल्लेबाज़ी करने के लिए ज़्यादा ओवर मिलने चाहिए

Related image

हमने अक्सर क्रिकेट पंडितों और विशेषज्ञों को यह कहते सुना है कि टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को जितना संभव हो सके, उतने लंबे समय तक खेलने का मौका मिलना चाहिए, विशेष रूप से क्रिकेट के छोटे प्रारूपों में जहां सीमित ओवर होते हैं। वर्तमान समय में विराट कोहली निश्चित रूप से भारत के सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय बल्लेबाज हैं इसलिए वह मैच के शुरूआती और मध्य-ओवरों में भारतीय पारी को नियंत्रित कर सकते हैं और टीम के स्कोर को कम से कम 300 रनों के पार पहुँचाने की नींव रख सकते हैं।

नंबर तीन का स्लॉट सही मायनों में टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ के लिए होता है और टीम की जीत या हार काफी हद तक उसके प्रदर्शन पर निर्भर करती है।

तो ऐसे में, नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने के लिए 'रन मशीन' विराट कोहली से ज़्यादा उपयुक्त कौन हो सकता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2. चुनौती से कभी पीछे नहीं हटने वाले खिलाड़ी

Image result for VIrat Kohli 1st ODI ton in South Africa

विराट कोहली उन खिलाड़ियों में से हैं जो कठिन परिस्थितियों में और भी अच्छा प्रदर्शन करते हैं। उन्होंने टीम को कठिन परिस्थितयों में भी शानदार प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया है।

कोच रवि शास्त्री की चिंता यही है कि वह अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को विश्व कप में जल्दी पवेलियन लौटते नहीं देखना चाहते। लेकिन कोहली के पास कठिन परिस्थितियों में टीम टीम को संकट से निकालने की अद्धभुत क्षमता है फिर चाहे वह किसी भी प्रारूप और किसी भी स्थिति में बल्लेबाजी कर रहे हों।

पिछले एक साल में, उन्होंने कुछ सबसे चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में शतक बनाए हैं और कई मौकों पर टीम को संकट से बाहर निकालकर अकेले दम पर जीत दिलाई है और ऐसा सिर्फ कोहली ने नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करते हुए किया है। अब अगर उनके बल्लेबाज़ी क्रम को बदला जाता है शायद वह वैसा प्रदर्शन ना कर पाएं जिसके लिए वह जाने जाते हैं।

#1. नंबर तीन के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ और बेहतरीन टॉप 3 का हिस्सा

Image result for Virat Kohli, Rohit Sharma and Shikhar Dhawan

विराट कोहली यकीनन वर्तमान समय में नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करने वाले दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। इस स्लॉट पर बल्लेबाज़ी करते हुए उन्होंने अपनी 162 पारियों में 62.98 की शानदार औसत से कुल 8440 रन बनाए हैं।

इसके साथ ही नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करते हुए विराट ने रिकॉर्ड 32 एकदिवसीय शतक बनाये हैं जो क्रिकेट इतिहास में किसी भी खिलाड़ी द्वारा लगाए सबसे ज़्यादा शतक हैं।

इसके अलावा वह इस समय शिखर धवन और रोहित शर्मा के साथ 'फैबुलस टॉप 3' की तिकड़ी बनाते हैं। यह तीन बल्लेबाज़ किसी भी स्थिति में दुनिया के किसी भी गेंदबाज़ी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकते हैं।

ऐसे में विराट को नंबर तीन स्लॉट से हटाने का मतबल होगा कि वह इस घातक तिकड़ी में से बाहर हो जायेंगे जिससे पूरी दुनिया के गेंदबाज़ ख़ौफ खाते हैं। वैसे भी इस तिकड़ी के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ भी भारतीय कप्तान ही हैं।

Get Cricket News In Hindi Here.

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
App download animated image Get the free App now