Create

3 रिटेन किए गए खिलाड़ी जिन्हें IPL 2022 में शुरूआती मैचों के बाद ड्रॉप कर दिया गया 

Neeraj
मोईन अली ने इस सीजन में अपने प्रदर्शन से फ्रेंचाइजी के साथ सीएसके फैंस को भी निराश किया है
मोईन अली ने इस सीजन में अपने प्रदर्शन से फ्रेंचाइजी के साथ सीएसके फैंस को भी निराश किया है

आईपीएल (IPL) के 15वें सत्र में अभी लीग चरण का रोमांच जारी है और मौजूदा समय में गुजरात टाइटंस (Gujrat Titans) की टीम पॉइंट्स टेबल पर सबसे ऊपर है। इस सीजन में खेले गए मुकाबलों में कुछ युवा खिलाड़ियों के द्वारा शानदार प्रदर्शन देखने को मिला है। इन खिलाड़ियों ने अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाते हुए अपनी काबलियत साबित की है। वहीं दूसरी तरफ आईपीएल ऑक्शन से पहले रिटेन किए गए कुछ खिलाड़ी अपनी फ्रेंचाइजी की उम्मीदों पर पानी फेरते नज़र आए हैं। आपको बता दें, आईपीएल 2022 से पहले बीसीसीआई (BCCI) ने पुरानी आठ फ्रेंचाइजी को चार-चार खिलाड़ी रिटेन करने का मौका दिया था।

जबकि दो नई जुड़ी फ्रेंचाइजी को ऑक्शन से पहले तीन-तीन खिलाड़ी ड्राफ्ट के जरिए अपनी टीम में चुनने का अवसर दिया था। इन दो टीमों ने जिन तीन-तीन खिलाड़ियों को ड्राफ्ट के जरिए टीम का हिस्सा बनाया था। उनको उनकी मौजूदगी के अनुसार हर मैच की प्लेइंग XI में खेलने का मौका दिया है। जबकि आठ टीमों में से कुछ टीमों ने जिन खिलाड़ियों रिटेन किया था उनको शुरुआती मैचों में खराब प्रदर्शन करने के चलते टीम से बाहर कर दिया है। इस आर्टिकल में हम उन्हीं 3 खिलाड़ियों की बात करेंगे जो टीमों द्वारा रिटेन किए थे लेकिन अब टीम से बाहर बैठे हुए हैं।

3 रिटेन किए गए खिलाड़ी जिन्हें IPL 2022 में शुरूआती मैचों के बाद ड्रॉप कर दिया गया

#1 यशस्वी जायसवाल (राजस्थान रॉयल्स)

जायसवाल के लिए राजस्थान की प्लेइंग XI फिर से जगह बना पाना आसान नहीं लग रहा
जायसवाल के लिए राजस्थान की प्लेइंग XI फिर से जगह बना पाना आसान नहीं लग रहा

20 वर्षीय युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल को राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन से पहले 4 करोड़ में रिटेन कर लिया था। आईपीएल के 14वें सत्र में जायसवाल का प्रदर्शन शानदार रहा था। पिछले संस्करण में खेले 10 मुकाबलों में जायसवाल ने 24.90 की औसत से 249 रन बनाए थे। इस दौरान इनका स्ट्राइक रेट 148.21 का रहा था। इसी प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए राजस्थान की फ्रेंचाइजी ने उनको रिटेन करने का निर्णय लिया था। लेकिन इस सीजन में जायसवाल का बल्ला एक दम शांत रहा है।

इस सीजन में जायसवाल को तीन मैचों में खेलने का मौका मिला था जिसमें उन्होंने 8.33 की औसत से सिर्फ 25 रन बनाए। इसमें इनका उच्तम स्कोर 20 रन रहा है। तीन मैचों में खराब प्रदर्शन के चलते राजस्थान ने बाकी खेले मैचों में जायसवाल को प्लेइंग XI से बाहर कर दिया।

#2 मोईन अली (चेन्नई सुपर किंग्स)

मोईन अली मैच के दौरान शॉट खेलते हुए
मोईन अली मैच के दौरान शॉट खेलते हुए

मोईन अली इकलौते विदेशी खिलाड़ी थे जिनको सीएसके ने आईपीएल 2022 के ऑक्शन से पहले रिटेन किया था। पिछले सत्र की तरह चेन्नई ने इस सीजन में भी मोईन को तीन नंबर पर बल्लेबाजी करने के मौके दिए। लेकिन इस सत्र में मोईन अली बल्ले और गेंदबाजी दोनों ही विभागों में फ्लॉप साबित हुए हैं। आईपीएल के 15वें सीजन में मोईन ने पांच मुकाबले खेले हैं जिनमें इनके बल्ले से 17.40 की औसत से 87 रन निकले हैं। तो वहीं गेंदबाजी में इनको एक भी विकेट नहीं मिल पाया है। सीएसके ने मुंबई के खिलाफ खेले अपने सातवें मुकाबले में मिचेल सैंटनर को प्लेइंग XI में शामिल करते हुए मोईन को टीम से बाहर करने का फैसला लिया था।

#3 अब्‍दुल समद (सनराइजर्स हैदराबाद)

आईपीएल 2021 में अब्दुल का प्रदर्शन औसत ही रहा था
आईपीएल 2021 में अब्दुल का प्रदर्शन औसत ही रहा था

अब्दुल समद आईपीएल के 13वें सीजन से सनराइजर्स हैदराबाद के साथ जुड़े हुए हैं। मौजूदा सीजन से पहले हैदराबाद ने इस 20 वर्षीय ऑलराउंडर खिलाड़ी को 4 करोड़ में रिटेन किया था। लेकिन हैदराबाद ने इस सीजन के अपने पहले दो मैचों में मिली हार के बाद ही समद को प्लेइंग XI से बाहर कर दिया और इनकी जगह शशांक सिंह को टीम में शामिल कर लिया। आपको बता दें, इस सीजन में खेले दो मैचों के दौरान समद सिर्फ 4 रन बना पाए थे। वहीं गेंदबाजी में एक ओवर करते हुए आठ रन खर्च किये थे।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment