COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

20 फरवरी : आज ही के दिन ब्रैंडन मैक्कलम ने जड़ा था टेस्ट क्रिकेट का सबसे तेज शतक

Gaurav Sharma
CONTRIBUTOR
फ़ीचर
100   //    20 Feb 2019, 10:00 IST

New Zealand v Australia - 2nd Test: Day 1

टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाना किसी भी बल्लेबाज के लिये बड़ी बात होती है लेकिन अगर यही शतक कुछ धमाकेदार अंदाज में लगाया जाये तो दिन वाकई यादगार हो जाता है। ऐसा ही कुछ हुआ था, आज से ठीक तीन साल पहले। जब एक टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड के धाकड़ बल्लेबाज ब्रैंडन मैक्कलम ने मात्र 54 गेंदो में शतक लगाकर विव रिचर्ड्स और मिस्बाह-उल-हक के रिकॉर्ड को ध्वस्त करके एक नया रिकॉर्ड स्थापित कर दिया था।

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैक्कलम को पूरी दुनिया उनके आक्रामक खेल के लिये ही जानती है। आज से तीन साल पहले जब ब्रैंडन मैक्कलम अपने करियर का अंतिम टेस्ट मैच खेल रहे थे। तब उन्होंने अपने इसी अंदाज में दर्शकों का दिल जीत लिया। करियर के अंतिम मैच में मैक्कलम ने टेस्ट के 2 बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किये। सबसे तेज शतक लगाने के अलावा मैक्कलम ने टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के लगाने का विश्व रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। उन्होंने एडम गिलक्रिस्ट के 100 छक्कों के रिकॉर्ड को तोड़ा। टेस्ट क्रिकेट में मैक्कलम के नाम 101 मैचों में सबसे ज्यादा 107 छक्के दर्ज हैं। 

20 फरवरी 2016, को आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच क्राइस्टचर्च में 2 मैचों की सीरीज का दूसरा और अंतिम मैच खेला गया। हालांकि मैच को आस्ट्रेलिया ने 7 विकेट से जीत लिया, और सीरीज भी 2-0 से अपने नाम कर ली, लेकिन उस मैच में ब्रैंडन मैक्कलम ने आक्रामक पारी खेलकर कंगारुओं को दिन में ही तारे दिखा दिये। मैच में आस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। उनका ये फैसला कुछ देर तक तो बिल्कुल ठीक साबित हुआ। दरअसल, जब ब्रैंडन मैक्कलम बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर आए तब न्यूजीलैंड 32 रन पर 3 विकेट गंवाकर बेहद मुश्किल स्थिति में थी, लेकिन कुछ ही देर में पूरी तस्वीर बदल गई।

मैक्कलम ने पिच पर आते ही कंगारु गेंदबाजों पर प्रहार शुरू कर दिया। पहली ही गेंद पर उन्होंने चौका जड़ा। उनकी ये आक्रमक पारी कब सबसे तेज शतक में बदल गई, ये किसी को पता ही नही चला। मैक्कलम ने 34 गेंदों मे अपना अर्धशतक पूरा किया और अगली 20 गेंदो में 50 रन और ठोंक कर इतिहास रच दिया। ब्रैंडन मैक्कलम ने 79 गेंदो पर 145 रनों की विस्फोटक पारी खेली, जिसमें उन्होंने 21 चौके और 6 छक्के लगाये।

मैक्कलम से पहले टेस्ट मैचों में विव रिचर्ड्स ने 1985-86 में इंग्लैंड के खिलाफ जबकि मिस्बाह-उल-हक ने 2014-15 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 56 गेंदों में शतक लगाया था। वहीं टेस्ट मैचों में भारत की तरफ से सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड कपिल देव और मोहम्मद अजहरूद्दीन के नाम दर्ज हैं। ये दोनों पूर्व बल्लेबाज 74 गेंदो में शतक जड़ चुके हैं।

ब्रैंडन मैक्कलम का टेस्ट रिकॉर्ड-

मैक्कलम ने अपना पहला टेस्ट 10 मार्च 2004 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला, जंहा उन्होंने पहली पारी में 57 रन बनाये। वो अपने डेब्यू मैच से अंतिम मैच तक लगातार 101 टेस्ट खेलने वाले पहले कीवी बल्लेबाज थे। मैक्कलम ने कुल 101 टेस्ट मैचों में 38.64 की औसत से 6453 रन बनाये जिसमें कुल 12 शतक और 31 अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने 4 दोहरे शतक भी लगाये। मैक्कलम न्यूजीलैंड की तरफ से एक मात्र तिहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने भारत के खिलाफ 2014 में 302 रनों की पारी खेली थी।

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Advertisement
Topics you might be interested in:
Gaurav Sharma
CONTRIBUTOR
Gaurav Sharma is also known as Author Gourav, who appear in films
Advertisement
Fetching more content...