Create
Notifications

4 दिग्गज वनडे खिलाड़ी जो कभी वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत पाए 

Enter caption
Neetish Kumar Mishra

वर्ल्ड कप 2019 की शुरुआत 30 मई से होने वाला है। इस वर्ल्ड कप की मेजबानी इंग्लैंड और वेल्स कर रहे हैं। इंग्लैंड 5वीं बार वर्ल्ड कप की मेजबानी कर रहा है। इससे पहले साल 1975, 1979, 1983 और 1999 में भी इंग्लैंड में ही वर्ल्ड कप का आयोजन हुआ था। सबसे बड़ी बात यह है कि इनमें से इंग्लैंड मात्र एक बार फाइनल में पहुंची है जहां उसे वेस्टइंडीज के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा है।

वर्ल्ड कप को क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट कहा जाता है। वर्ल्ड कप जीतने का एक अलग ही एहसास होता है। खासतौर पर तब जब आपने उस सीजन अच्छा प्रदर्शन भी किया हो। श्रीलंका के लिए अर्जुन रणातुंगा, भारत के लिए कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी, पाकिस्तान के लिए इमरान खान एवं ऑस्ट्रेलिया के लिए एलन बॉर्डर, स्टीव वॉ, रिकी पोंटिंग और माइकल क्लार्क खिताब जीत चुके हैं।

लेकिन वन-डे क्रिकेट के इतिहास में कई ऐसे भी दिग्गज खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने कभी भी वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीता है। आज हम 4 ऐसे ही दिग्गज खिलाड़ियों के बारे में बात करने जा रहे हैं।

#4. कुमार संगाकारा (श्रीलंका):

Enter caption

श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगाकारा वन-डे क्रिकेट में अब तक के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बल्लेबाजों में से एक हैं। उन्होंने श्रीलंका की ओर से 404 वनडे मैचों में हिस्सा लेते हुए 41.99 की औसत से 14234 रन बनाए हैं, जिसमें 25 शतक और 93 अर्धशतक शामिल है। कुमार संगाकारा ने 2003 से लेकर 2015 तक 4 बार वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है। उन्होंने 4 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में कुल मिलाकर 37 मैच खेले हैं, जिसकी 35 पारियों में उन्होंने 56.74 की औसत से 1532 रन बनाए हैं।

उन्होंने वर्ल्ड कप में 5 शतक और 7 अर्धशतक भी लगाए हैं। वर्ल्ड कप इतिहास में उनके नाम लगातार 4 शतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने वर्ल्ड कप 2015 में क्रमशः बांग्लादेश, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और स्कॉटलैंड के खिलाफ लगातार मैचों में शतक लगाया था। वर्ल्ड कप के 44 साल के इतिहास में अब तक ऐसा कारनामा किसी ने नहीं किया है। कुमार संगाकारा भी ऐसे दिग्गज खिलाडियों में शुमार हैं जिन्होंने कभी भी वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीता है।

Hindi cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

#3. सौरव गांगुली:

Enter caption

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भारत की ओर से 311 वन-डे मैच खेलते हुए 40.73 की औसत से 11363 रन बनाए हैं, जिसमें 22 शतक और 72 अर्धशतक शामिल है। सौरव गांगुली के नेतृत्व में भारतीय टीम ने साल 2003 का वर्ल्ड कप खेला था। वर्ल्ड कप 2003 में भारतीय टीम फाइनल में पहुंची थी लेकिन उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। सौरव गांगुली ने साल 1999 से लेकर 2007 तक 3 वर्ल्ड कप टूर्नामेंटों में हिस्सा लिया लेकिन एक भी बार खिताब नहीं जीत पाए।

सौरव गांगुली ने वर्ल्ड कप इतिहास में कुल 21 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 55.80 की औसत से 1006 रन बनाए हैं, जिसमें 4 शतक और 3 अर्धशतक शामिल हैं। उनकी 1999 वर्ल्ड कप में श्रीलंका के खिलाफ 183 रनों की शानदार पारी सबसे यादगार रही। उस मैच में उन्होंने राहुल द्रविड़ के साथ मिलकर 318 रनों की साझेदारी की थी।

#2. राहुल द्रविड़:

Enter caption

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ को 'द वाल' की संज्ञा दी जाती है। उन्होंने भारतीय टीम की ओर से 344 वनडे मैच खेले हैं और 39.17 की औसत से 10889 रन बनाए हैं। राहुल द्रविड़ ने साल 1999 से लेकर 2007 तक तीन बार वर्ल्ड कप खेला लेकिन एक बार भी खिताब नहीं जीत पाए।

वर्ल्ड कप 1999 में वे सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने उस टूर्नामेंट में 8 मैचों में 65.85 की औसत से 461 रन बनाए थे, जिसमें 2 शतक और 3 अर्धशतक शामिल था। राहुल द्रविड़ ने तीनों वर्ल्ड कप को मिलाकर कुल 22 मैच खेले हैं और 61.42 की औसत से 860 रन बनाए हैं, जिसमें 2 शतक और 6 अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने वर्ल्ड कप 1999 में श्रीलंका के खिलाफ 143 रनों की यादगार पारी खेली थी। उस मैच में उन्होंने सौरव गांगुली के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 318 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी की थी।

#1. एबी डीविलियर्स (दक्षिण अफ्रीका):

Enter caption

मिस्टर 360 के नाम से मशहूर दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान एबी डीविलियर्स को लेकर यह माना जा रहा था कि वे वर्ल्ड कप 2019 तक दक्षिण अफ्रीका टीम के हिस्सा रहेंगे लेकिन उन्होंने पिछले साल 23 मई को अचानक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेकर सभी क्रिकेट प्रेमियों को चौंका दिया। एबी डीविलियर्स के समर्थक सिर्फ दक्षिण अफ्रीका में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में हैं। एबी डीविलियर्स इस दशक के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार थे।

एबी डीविलियर्स ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में कुल 228 वनडे मैच खेले और 53.5 की औसत से 9577 रन बनाए। उनके नाम वनडे क्रिकेट में 25 शतक और 53 अर्धशतक दर्ज हैं। वे वन-डे क्रिकेट में नम्बर 1 बल्लेबाज रह चुके हैं। एबी डीविलियर्स ने साल 2007 से लेकर 2015 तक तीन वर्ल्ड कप टूर्नामेंटों में हिस्सा लेते हुए 23 मैचों की 22 पारियों में 63.52 की औसत से 1207 रन बनाए हैं, जिसमें 4 शतक और 6 अर्धशतक शामिल है। वर्ल्ड कप 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 66 गेंदों पर नाबाद 162* रनों की पारी उनकी सबसे यादगार पारी रही।

Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...