Create
Notifications

टेस्ट क्रिकेट में 1 मैच में कप्तानी करने वाले भारतीय खिलाड़ी

रवि शास्त्री का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है
रवि शास्त्री का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है
reaction-emoji
Naveen Sharma

टेस्ट क्रिकेट में खेलने के अलावा टीम की कप्तानी करना हर देश के खिलाड़ी के लिए एक बड़ी और अहम् बात मानी जाती है। भारतीय टीम में भी टेस्ट क्रिकेट में कई ऐसे खिलाड़ी आए जिन्होंने खेलने के अलावा टीम की कप्तानी करते हुए भी बेहतर किया। टेस्ट क्रिकेट में ही खिलाड़ी की असली परीक्षा मानी जाती है। टेस्ट क्रिकेट खेलने का सपना ही हर खिलाड़ी के दिमाग में सबसे पहले आता है।

भारतीय टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अब तक 35 कप्तान हुए हैं। कुछ कप्तान ऐसे रहे हैं जिन्हें पूर्ण रूप से टीम की कप्तानी करने का मौका मिला और कुछ नाम ऐसे भी रहे जिन्हें लम्बे समय तक टीम की कमान सँभालने का मौका नहीं मिला। कई टेस्ट कप्तान ऐसे रहे जिनका रिकॉर्ड काफी अच्छा रहा वहीँ कुछ नाम ऐसे भी थे जिन्हें ज्यादा सफलता नहीं मिली। एक खिलाड़ी के रूप में बेहतर करने वाले व्यक्ति भी टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी में फ्लॉप हो गए। इन सबके बीच कुछ खिलाड़ी ऐसे रहे जिन्हें भारतीय टीम के लिए सिर्फ एक ही टेस्ट मैच में कप्तानी करने का मौका मिला। उन चार खिलाड़ियों के बारे में इस आर्टिकल में जिक्र किया गया है।

नोट: केएल राहुल अभी खेल रहे हैं इसलिए यहाँ नाम नहीं है

टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए 1 मैच के कप्तान

पंकज रॉय

  पंकज रॉय का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है
पंकज रॉय का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है

भारतीय टीम के इंग्लैंड दौरे पर 1959 में पंकज रॉय को दूसरे टेस्ट मैच में कप्तानी करने का मौका मिला था। इंग्लैंड की टीम ने भारतीय टीम को इस मुकाबले में पराजित किया था। इसके बाद पंकज रॉय को फिर कभी टीम की कप्तानी करने का मौका नहीं मिला। भारतीय टीम को उस समय सीरीज में 5-0 से हार का सामना करना पड़ा था।

हेमू अधिकारी

हेमू अधिकारी को भारतीय टीम के लिए वेस्टइंडीज के खिलाफ 1958-59 की घरेलू सीरीज के दौरान कप्तानी करने का मौका मिला था। मुकाबला ड्रॉ रहा था और उसके बाद उन्हें टीम की कप्तानी करने का मौका कभी नहीं मिला था। भारत ने पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के दौरान चार कप्तान बदले थे।

चंदू बोर्डे

चंदू बोर्डे ने भी टीम की कप्तानी की थी
चंदू बोर्डे ने भी टीम की कप्तानी की थी

इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम के पहले टेस्ट मैच में 1967-68 के दौरान चंदू बोर्डे ने टीम के लिए कप्तानी की थी। मंसूर अली खान पटौदी की अनुपस्थिति में उन्हें कप्तान बनाया गया था। भारतीय टीम को इस मैच में एक पारी और चार रन से ऑस्ट्रेलिया की टीम ने हराया था। इसके बाद वह फिर कभी कप्तान नहीं बने।

रवि शास्त्री

रवि शास्त्री ने भी एक बार टीम की कप्तानी की है
रवि शास्त्री ने भी एक बार टीम की कप्तानी की है

भारतीय टीम के लिए रवि शास्त्री ने भी एक बार टेस्ट मैच में कप्तानी की है। 1988 में चेन्नई टेस्ट मैच के दौरान रवि शास्त्री ने टीम की कप्तानी की थी। नरेंद्र हिरवानी ने डेब्यू किया था और पहली पारी में 8 विकेट लेने के बाद दूसरी पारी में भी उन्हें आठ विकेट मिले। मैच में उन्होंने 16 विकेट चटकाए जो डेब्यू टेस्ट में श्रेष्ठ है। भारत ने मैच में जीत दर्ज की थी।

Edited by Naveen Sharma
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...