Create
Notifications

4 ओपनिंग बल्लेबाज जिन्होंने वानखेड़े में एक टेस्ट की दोनों पारियों में 50 या उससे अधिक का स्कोर बनाया 

मयंक अग्रवाल ने मुंबई टेस्ट में जबरदस्त बल्लेबाजी की
मयंक अग्रवाल ने मुंबई टेस्ट में जबरदस्त बल्लेबाजी की
Prashant Kumar
visit

भारत में कई लोकप्रिय मैदान हैं और उनकी अपनी विशेषता है लेकिन मुंबई के वानखेड़े मैदान को काफी खास माना जाता है। यह भारत के प्रमुख मैदानों में से एक है और इस मैदान पर भारतीय क्रिकेट जगत के कई सुनहरे पल आये हैं। ऐसे में इस मैदान पर हर खिलाड़ी अपनी छाप छोड़ना चाहता है। बात की जाए बल्लेबाजों की तो इस मैदान पर कई उपलब्धियां दर्ज की गयी हैं और कुछ ऐसी ही एक खास उपलब्धि भारतीय ओपनर मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने दर्ज की।

मयंक ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दोनों पारियों में 50+ का स्कोर बनाया और वानखेड़े के मैदान में वह ऐसा करने वाले चौथे बल्लेबाज बने। उनसे पहले यह उपलब्धि कई भारतीय ओपनर हासिल कर चुके हैं। इस आर्टिकल में हम उन सभी 4 ओपनर्स का जिक्र करने जा रहे हैं, जिन्होंने मुंबई के वानखेड़े में दोनों पारियों में 50 या उससे अधिक का स्कोर बनाया है।

4 ओपनिंग बल्लेबाज जिन्होंने वानखेड़े में एक टेस्ट की दोनों पारियों में 50 या उससे अधिक का स्कोर बनाया

#1 चेतन चौहान बनाम वेस्टइंडीज (1978)

चेतन चौहान यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले ओपनर थे
चेतन चौहान यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले ओपनर थे

भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज रहे चेतन चौहान भले ही अब हमारे बीच नहीं रहे हैं, लेकिन इन्होंने अपने करियर के दौरान जबरदस्त प्रभाव दिखाया था। भारत के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने एक शानदार करियर स्थापित किया है। भारचीय टीम में इन्होंने कई बार बेहतरीन बल्लेबाजी की, जिसमें साल 1978 में वेस्टइंडीज के खिलाफ वानखेड़े के मैदान में खेली गई पारियां यादगार रही। चेतन चौहान ने उस टेस्ट मैच की दोनों ही पारियों में 50 से अधिक का स्कोर बनाया था। पहली पारी में चेतन चौहान के बल्ले से 52 रन निकले तो दूसरी पारी में भी उन्होंने 84 रनों का योगदान दिया था। इस तरह से वो वानखेड़े में दोनों पारियों में 50 या उससे अधिक का स्कोर बनाने वाले पहले सलामी बल्लेबाज बने थे।

#2 सुनील गावस्कर बनाम वेस्टइंडीज (1978)

सुनील गावस्कर टेस्ट प्रारूप के सफलतम ओपनर्स में से एक हैं
सुनील गावस्कर टेस्ट प्रारूप के सफलतम ओपनर्स में से एक हैं

चेतन चौहान ने जिस मैच में यह उपलब्धि हासिल की थी, उसी मैच में सुनील गावस्कर ने भी वानखेड़े के मैदान में एक मैच की दोनों पारियों में 50 या उससे ज्यादा रन बनाने का कमाल किया है। 1978 में ही वेस्टइंडीज के खिलाफ गावस्कर ने वानखेड़े में पहली पारी में 205 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी तथा दूसरी पारी में भी 73 रन बनाए थे।

#3 कृष्णामाचारी श्रीकांत बनाम वेस्टइंडीज (1987)

कृष्णामाचारी श्रीकांत
कृष्णामाचारी श्रीकांत

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज क्रिस श्रीकांत एक जबरदस्त बल्लेबाज थे। श्रीकांत ने सालों तक भारतीय टीम को सेवाएं दी, जिन्हें एक आक्रमक सलामी बल्लेबाज के रूप में जाना जाता था। श्रीकांत ने टेस्ट क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन किया। क्रिस श्रीकांत ने साल 1987 में वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई के वानखेड़े के मैदान में एक मैच की दोनों ही पारियों में पचास या उससे ज्यादा रन बनाए थे। इस मैच की पहली पारी में श्रीकांत ने 71 रन बनाए तो दूसरी पारी में उन्होंने 65 रन का योगदान दिया था।

#4 मयंक अग्रवाल बनाम न्यूजीलैंड (2021)

मयंक अग्रवाल
मयंक अग्रवाल

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए भारत-न्यूजीलैंड के बीच सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में मयंक अग्रवाल ने कमाल कर दिखाया। मयंक ने इस मैच की दोनों ही पारियों में शानदार बल्लेबाजी की। उन्होंने जहां पहली पारी में 150 रन का स्कोर बनाया, तो दूसरी पारी में भी उनका बल्ला शानदार अंदाज में बोला और उनके बल्ले से 62 रनों की पारी निकली। इस तरह से मयंक अग्रवाल वानखेड़े के मैदान में किसी एक टेस्ट की दोनों ही पारियों में 50 से उससे ज्यादा का स्कोर बनाने वाले चौथे सलामी बल्लेबाज बन गए।

Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now