Create

4 सबसे खराब क्रिकेट रिकॉर्ड जो भारतीय टीम के नाम दर्ज हैं

भारतीय टीम
भारतीय टीम

भारतीय क्रिकेट आज के समय में विश्व क्रिकेट की टॉप टीमों में शामिल की जाती है। इस टीम ने अपने प्रदर्शन से मौजूदा समय में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपना एक अलग ही मुकाम बनाया है। भारत ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कई उपलब्धियां हासिल करते हुए ढेर सारे क्रिकेट रिकॉर्ड्स बनाये हैं, जिन पर भारतीय प्रशंसकों को गर्व होगा। भारत ने 1685 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें से 766 जीत तथा 643 बार हार मिली है। भारत ने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच लगभग 89 साल पहले खेला था और उसके बाद टीम ने कई कीर्तिमान बनाये।

यह भी पढ़ें: 2012 आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप खेलने वाले 3 खिलाड़ी जिनका करियर उम्मीद के मुताबिक शानदार नहीं रहा

हालांकि हर चीज के दो पहलू होते हैं। एक तरफ जहाँ भारत के नाम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई बेहतरीन रिकॉर्ड दर्ज हैं, वहीं कुछ सबसे खराब रिकॉर्ड भी टीम के नाम दर्ज हैं। ये ऐसे रिकॉर्ड हैं, जिन्हें भारतीय टीम के साथ-साथ भारतीय प्रशंसक भी भूलना चाहेंगे। इस आर्टिकल में हम भारतीय टीम के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 4 सबसे खराब रिकॉर्ड के बारे में जिक्र करने जा रहे हैं।

4 सबसे खराब क्रिकेट रिकॉर्ड जो भारतीय टीम के नाम दर्ज हैं

#1 वनडे फॉर्मेट में सबसे ज्यादा हार (427)

भारतीय वनडे टीम
भारतीय वनडे टीम

पिछले कुछ सालों से भारतीय टीम वनडे की सबसे सफल टीमों में से एक रही है। इस टीम ने अपने प्रदर्शन से बड़ी-बड़ी टीमों को मात दी है। हालांकि वर्तमान प्रदर्शन कितना भी शानदार क्यों न हो, ये आपके पिछले आंकड़ों को नहीं बदल सकता। ठीक ऐसा ही भारतीय टीम के साथ है। भारत वर्तमान में भले ही वनडे की सफल टीमों में शुमार हो लेकिन टीम के नाम इस फॉर्मेट में सबसे ज्यादा मैच हारने का रिकॉर्ड दर्ज है। भारतीय टीम ने 993 वनडे मैचों में 427 मैच हारे हैं।

#2 टेस्ट मैच के एक ही दिन में दो बार आउट होने वाली पहली टीम

1952 में भारतीय टेस्ट टीम
1952 में भारतीय टेस्ट टीम

टेस्ट प्रारूप में भारत को उसके घर पर चुनौती देना सबसे मुश्किल कामों में से एक है। वहीं हाल ही के समय में टीम का विदेशों में अच्छा प्रदर्शन देखने को मिला है, जिसमें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रिकॉर्ड दो टेस्ट सीरीज जीत भी शामिल हैं। इसके अलावा टीम ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी अपना स्थान पक्का कर लिया है। हालांकि इतनी उपलब्धियों के बावजूद भारत के नाम इस प्रारूप में एक शर्मनाक उपलब्धि दर्ज है।

1952 में जब भारत ने मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच खेला तो इस मैच में भारतीय बल्लेबाजों का सबसे निराशाजनक प्रदर्शन देखने को मिला। विजय हजारे की अगुआई वाली टीम मैच के तीसरे दिन दो बार ढेर हो गई और इस तरह भारतीय टीम एक ही दिने में दो बार आउट होने वाली पहली टीम बनी।

#3 भारत के खिलाफ वनडे में सबसे ज्यादा 350+ का स्कोर बना (14 बार)

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत 350 से भी ज्यादा का स्कोर नहीं डिफेंड कर पाया था
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत 350 से भी ज्यादा का स्कोर नहीं डिफेंड कर पाया था

वनडे क्रिकेट में पिछले कुछ सालों में जबरदस्त बदलाव आया है। इस बदलाव के पीछे आईसीसी के बल्लेबाजों के पक्ष में कई नियम तथा टी20 क्रिकेट का आना भी है। वहीं ज्यादातर पिच भी बल्लेबाजों के लिहाज से ही बनाई जाती हैं। ऐसे में आज के दौर में वनडे में 350+ का स्कोर 50 ओवर में एक बेंचमार्क बन चुका है।

वनडे क्रिकेट में भारत ने बहुत बार इस बेंचमार्क को विपक्षी टीमों के खिलाफ अपनी मजबूत बल्लेबाजी के दम पर हासिल किया है लेकिन कई विपक्षी टीमों ने भी भारत के खिलाफ 350+ का स्कोर बनाया है। वनडे में सबसे ज्यादा 14 बार भारतीय टीम के खिलाफ 350+ का स्कोर बना है, जो कि एक रिकॉर्ड है।

#4 एक टेस्ट पारी में सबसे ज्यादा अतिरिक्त रन (76)

2007 में भारतीय टेस्ट टीम
2007 में भारतीय टेस्ट टीम

भारत और पाकिस्तान के बीच जब भी मैच होता है, क्रिकेट प्रेमियों के लिए ये किसी तोहफे से कम नहीं होता है। इन दोनों देशों के बीच टेस्ट मैच 2007 में खेला गया था और तब से इनके बीच कोई भी पांच दिन का मैच नहीं हुआ। 2007 में बेंगलुरु में खेले गए इस मैच का कोई नतीजा नहीं निकला था लेकिन भारत के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गया था। पाकिस्तान की पहली पारी के दौरान भारतीय गेंदबाजों ने 76 अतिरिक्त रन दे दिए थे, जो किसी भी एक पारी में किसी भी टीम के द्वारा दिए गए सर्वाधिक अतिरिक्त रन हैं।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment