5 भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने राजनीति में भी हाथ आजमाया

5 भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने राजनीति में भी हाथ आजमाया
5 भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने राजनीति में भी हाथ आजमाया

भारत में क्रिकेट,सिनेमा और राजनीति को कभी भी एक प्रोफेशन की तरह नहीं बल्कि धर्म की तरह देखा गया है, जिस तरह भारत में फिल्मी सितारों को पूजा जाता है और नेताओं को भगवान का दर्जा दिया जाता है, उसी प्रकार क्रिकेटर्स को भी पूजा जाता है। भारत में क्रिकेट के प्रेमियों की कमी नहीं है। इसी वजह से यह खेल भारत में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है।

भारत के कई ऐसे खिलाड़ी हुए हैं, जिन्होंने संन्यास के बाद या फिर एक्टिव रहते हुए ही राजनीति में भी अपनी किस्मत आजमाई। आज हम ऐसे ही 5 खिलाड़ियों के बारे में बात करेंगे जिन्होंने के राजनीति में भी अपनी किस्मत आजमाई।

5 भारतीय क्रिकेटर जिन्होंने राजनीति में भी हाथ आजमाया

#5 गौतम गंभीर

भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर दर्शकों का अभिवादन करते हुए
भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर दर्शकों का अभिवादन करते हुए

लगभग 10 साल तक भारतीय क्रिकेट की सेवा करने वाले गौतम गंभीर ने अपने करियर में कई बड़े मैच अकेले दम पर जिताए हैं। विश्वकप 2011 फाइनल में खेली गई उनकी 97 रनों की महत्वपूर्ण पारी आज भी हर भारतीय को याद है। गंभीर ने अपने राजनीति करियर की शुरुआत 2019 के लोकसभा इलेक्शन के साथ की थी। गंभीर ने भारतीय जनता पार्टी की तरफ से लोकसभा के लिए ईस्ट दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा था और आप की आतिशी मार्लेना और कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली को लगभग 7 लाख वोटों के अंतर से हराया था।

#4 मनोज तिवारी

भारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी वेस्ट बंगाल के खेल और युवा मामलों के प्रदेश मंत्री चुने गए
भारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी वेस्ट बंगाल के खेल और युवा मामलों के प्रदेश मंत्री चुने गए

मनोज तिवारी उन खिलाड़ियों में से हैं जो अपने क्रिकेट करियर के दौरान ही राजनीति में उतर गए।घरेलू क्रिकेट के सितारे कहे जाने वाले मनोज ने 2021 में TMK की तरफ से शिबपुर निर्वाचन क्षेत्र से पश्चिम बंगाल विधान सभा के लिए चुनाव लड़ा। चुनाव जीतने के बाद उन्हें खेल और युवा मामलों के राजमंत्री के रूप में नियुक्त किया गया।

हाल ही में रणजी ट्रॉफी के दौरान अपनी घरेलू टीम बंगाल का प्रतिनिधित्व किया था। उन्होंने 5 मैच खेलते हुए 43.30 की औसत से 433 रन बनाए, जिसमें दो शतक और इतने ही अर्धशतक शामिल थे।

#3 मोहम्मद अजहरुद्दीन

क्रिकेटर अजहरुद्दीन ने भी राजनीति ज्वाइन की थी
क्रिकेटर अजहरुद्दीन ने भी राजनीति ज्वाइन की थी

मैच फिक्सिंग के आरोप के चलते क्रिकेट से प्रतिबंधित किए गए पूर्व कप्तान और बल्लेबाज अजहरुद्दीन ने 2009 में कांग्रेस की तरफ से मुरादाबाद के लिए लोक सभा चुनाव के साथ राजनीति में कदम रखा। अजहरुद्दीन ने तेलंगाना की कांग्रेस समिति के प्रेसिडेंट के तौर पर भी काम किया है।

मैच फिक्सिंग के आरोप के कारण क्रिकेट से आजीवन प्रतिबंध लगने के बाद अजहरुद्दीन 10 साल तक गुमनाम रहे और फिर सीधे राजनीति की ओर अपना कदम बढ़ाया।

#2 कीर्ति आजाद

1983 विश्वकप विजेता टीम के खिलाड़ी कीर्ति आज़ाद
1983 विश्वकप विजेता टीम के खिलाड़ी कीर्ति आज़ाद

1983 विश्वकप विजेता टीम का हिस्सा रहे कीर्ति आजाद ऑलराउंडर के तौर पर टीम में शामिल हुए थे। कीर्ति आजाद एक राजनीतिक परिवार से आते हैं। उनके पिताजी भागवत झा आजाद भी राजनीती का हिस्सा थे।

कीर्ति आजाद अपने राजनीति दौर कई राजनीतिक दलों के साथ जुड़े रहे l कीर्ति लगभग 2 दशकों तक बीजेपी के साथ जुड़े रहे और वर्तमान में टीएमसी के साथ जुड़े हुए हैं।

#1 हरभजन सिंह

भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह ने 2018 में राजनीती में कदम रखा
भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह ने 2018 में राजनीती में कदम रखा

भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल स्पिन गेंदबाजों में से एक हरभजन सिंह ने 18 जुलाई, 2022 को राजनीति से जुड़ गए और आम आदमी पार्टी की तरफ से राज्य सभा मेंबर के रूप में शपथ ली।

हरभजन सिंह 2011 विश्वकप विजेता टीम का हिस्सा थे। इसके अलावा वह टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट हासिल करने वाले तीसरे स्पिनर हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now