Create

5 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने 2018 में टेस्ट डेब्यू किया

Enter caption

साल 2018 के खत्म होने में अब कुछ ही दिनों का समय बाकी रह गया है और यह साल भारतीय क्रिकेट के लिए काफी शानदार रहा है। इस साल भारत ने टेस्ट क्रिकेट में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है, भले ही इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में हम जीतने में कामयाब नहीं हुए, लेकिन भारत ने अपने प्रदर्शन से सबको काफी प्रभावित किया।

भारतीय टीम इस समय ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर हैं औऱ सीरीज इस समय 1-1 से बराबर हैं और मेलबर्न टेस्ट में मयंक अग्रवाल अपना डेब्यू करने वाले हैं। मयंक ने घरेलू क्रिकेट और इंडिया ए के लिए काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और उसी के दम पर उन्हें भारत के लिए खेलने का मौका मिल रहा है।

इस बीच मयंक अग्रवाल से पहले 5 खिलाड़ी ऐसे भी रहे, जिन्होंने साल 2018 में भारत के लिए टेस्ट में डेब्यू किया। आइए नजर डालते हैं इस साल भारत के लिए टेस्ट में कौन से खिलाड़ियों ने डेब्यू किया:

#5 जसप्रीत बुमराह

Enter caption

जसप्रीत बुमराह ने इस साल दक्षिण अफ्रीका दौरे के दौरान अपना पहला टेस्ट खेला और एक साल के अंदर ही उन्होंने अपनी जगह टेस्ट टीम में पक्की कर ली है औऱ वो टीम का अहम हिस्सा बन चुके हैं। बुमराह ने भारत के लिए अभी तक 8 टेस्ट खेले हैं, जिसमें 23.66 की औसत से 39 विकेट लिए हैं। इस बीच 54 रन देकर 5 विकेट लेना उनका एक पारी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हैं।

बुमराह की अहमियत इसी बात से लगाई जा सकती है कि इस साल फिट नहीं होने के कारण वो इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट नहीं खेल पाए थे और भारत को उनकी कमी काफी खली थी। इस बीच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चल रही मौजूदा सीरीज में भी बुमराह ने काफी प्रभावित किया है और उनका प्रदर्शन शानदार रहा है।

#4) ऋषभ पंत

Enter caption

ऋषभ पंत का खेलने का अंदाज जिस तरीके का है, उससे वो ज्यादा वनडे और टी20 फॉर्मेट के बल्लेबाज लगते हैं। हालांकि पंत को सबको गलत साबित करते हुए वनडे से पहले टेस्ट में डेब्यू किया और सबको काफी प्रभावित भी किया है।

पंत ने इस साल इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम में हुए तीसरे टेस्ट के दौरान डेब्यू किया था। अबतक पंत ने 7 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने लगभग 39 की औसत से 465 रन बनाए हैं। इस बीच उनके नाम एक शतक औऱ 2 अर्धशतक दर्ज हैं। पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में हुए आखिरी टेस्ट में शानदार शतक भी लगाया था।

उन्होंने अपनी कीपिंग के ऊपर भी काफी काम किया है और एक मैच में सबसे ज्यादा कैच लेने का रिकॉर्ड भी सयुंक्त रूप से उनके नाम हैं, जो पंत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट में बनाया था।

#3 हनुमा विहारी

Enter caption

ऋषभ पंत की तरह हनुमा विहारी ने भी इंग्लैंड दौरे पर ही टेस्ट में अपना डेब्यू किया। 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी मुकाबले में विहारी ने अपना पहला मुकाबला खेला और पहली ही पारी में शानदार अर्धशतक लगाते हुए 56 रन बनाए।

विहारी ने भारत के लिए भले ही अबतक सिर्फ 2 टेस्ट मैच खेले हैं और उसमें 26 की औसत से सिर्फ 104 रन ही बनाए हैं। हालांकि उन्होंने अपनी तकनीक से सबको काफी प्रभावित किया है। इसके अलावा वो गेंद के साथ भी काफी महत्वपूर्ण खिलाड़ी रहे हैं। विहारी ने दो टेस्ट में लगभग 24 की औसत से 5 विकेट चटकाए हैं। विहारी ने एलिस्टेयर कुक और जो रूट जैसे बल्लेबाजों को आउट किया है।

#2) पृथ्वी शॉ

Enter caption

पृथ्वी शॉ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ हुई घरेलू टेस्ट सीरीज में भारत के लिए अपना पहला मैच खेला। शॉ ने अबतक खेले दो टेस्ट में 118.50 की औसत से 237 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल हैं। शॉ ने अपनी पहली ही पारी में बेहतरीन शतक भी जड़ा था और उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

हालांकि शो से भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चल रही टेस्ट सीरीज में काफी उम्मीद थी, लेकिन अभ्यास मैच में चोटिल होने के कारण वो पूरे दौरे से बाहर हो गए। भारतीय टीम को दोनों टेस्ट में शॉ की कमी काफी खली। अब तीसरे टेस्ट में मयंक अग्रवाल डेब्यू करते हुए नजर आएंगे।

#1) शार्दुल ठाकुर

Enter caption

पृथ्वी शॉ की तरह शार्दुल ठाकुर ने भी वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने टेस्ट करियर की शुरूआत की। शार्दुल ने हैदराबाद में खेले गए दूसरे टेस्ट में डेब्यू किया, लेकिन उनकी किस्मत बेहद खराब रही और वो अपने दूसरे ही ओवर में वो चोटिल हो गए, जिसके बाद वो पूरे टेस्ट में गेंदबाजी नहीं कर पाए।

शार्दुल अभी भी फिट होने की कोशिश कर रहे हैं और वो जल्द ही एक बार पूरी तरह से फिट होकर भारतीय टीम में वापसी करना चाहेंगे।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment