Create

5 खिलाड़ी जो भारत के लिए शायद कभी वर्ल्ड कप में नहीं खेलेंगे

अखिल गुप्ता

आगामी एकदिवसीय क्रिकेट वर्ल्ड कप के भारतीय क्रिकेट टीम के 15 खिलाड़ियों के दल का ऐलान हो चुका हैं। जैसा माना जा रहा था एकदम वैसी ही टीम विश्व कप के लिए खेल प्रेमियों को देखने को भी मिली। हालाँकि टीम में अम्बाती रायडू और युवा विकेटकीपर ऋषभ पन्त के नाम शामिल नहीं थे, लेकिन वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया के चयनकर्ताओं ने लोकेश राहुल, दिनेश कार्तिक और विजय शंकर को टीम में स्थान दिया।

विश्वकप की टीम सामने आ जाने के बाद युवराज सिंह, सुरेश रैना और हरभजन सिंह की वापसी की उम्मीद लगाये बैठे फैंस के हाथों भी एक बड़ी निराशा लगी। इनमें किसी भी खिलाड़ी को वर्ल्ड कप की टीम में नहीं चुना गया। वनडे वर्ल्ड कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के 15 नाम सामने आने के बाद, अब कई सारे वो नाम भी फैंस की निगाहों में आ गये हैं जो अब कभी भी देश के लिए वर्ल्ड कप नहीं खेल पायेगे।

एक नजर भारतीय क्रिकेट टीम के उन बड़े सितारों के नाम जो अब शायद ही कभी वर्ल्ड कप खेलते हुए नजर आये -

# चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा को भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम का सबसे बड़ा खिलाड़ी माना जाता हैं और इस बात को दरकिनार भी नहीं किया जा सकता, चेतेश्वर पुजारा वाकई में एक अव्वल दर्जे के टेस्ट खिलाड़ी हैं। पिछले साल चेतेश्वर पुजारा ने इंग्लैंड की सरजमी पर लिस्ट ए क्रिकेट में काफी सारे रन बनाये, इतना ही नहीं हाल में ही सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी चेतेश्वर पुजारा ने अपनी तूफानी पारियों से सभी को हैरानी में डाल दिया था।

काफी सारे भारतीय फैंस और क्रिकेट एक्सपर्ट्स को यह लगने लगा था कि आगामी विश्व कप में चेतेश्वर पुजारा नंबर – 4 के बल्लेबाज की भूमिका को भी अदा कर सकते हैं, लेकिन टीम इंडिया के चयनकर्ताओं ने उन्हें वर्ल्ड कप की टीम में नहीं चुना। इसके साथ ही पुजारा के वर्ल्ड कप खेलने का सपना भी मात्र एक सपना बनकर ही रह गया।

टीम इंडिया के लिए 5 एकदिवसीय मैच खेल चुके 31 वर्षीय चेतेश्वर पुजारा अब शायद ही भारतीय टीम के लिए वर्ल्ड कप खेलते हुए नजर आये।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

# सुरेश रैना

Enter caption

इस सूची में सबसे अगला नाम बाएँ हाथ के अनुभवी बल्लेबाज सुरेश रैना का आता हैं। सुरेश रैना भी अब शायद ही भारतीय क्रिकेट टीम के लिए वनडे विश्व कप खेलते हुए नजर आयेगे। मौजूदा समय में सुरेश रैना की आयु 32 वर्ष हैं और अगला वर्ल्ड कप साल 2023 में खेला जायेगा। अगर सुरेश रैना को वह वर्ल्ड कप खेलना हैं तो अपनी फिटनेस पर लगातार काम करते रहना होगा और घरेलू स्तर पर रन भी बनाने होगे।

सुरेश रैना एक लम्बे समय टीम इंडिया से बाहर चल रहे है। पिछले तीन सालों में सुरेश रैना ने टीम इंडिया के लिए मात्र 3 ही एकदिवसीय मुकाबलें खेले हैं। रैना काफी समय से आउट ऑफ़ फॉर्म चल रहे हैं, यही एक मुख्य कारण भी हैं कि विश्व कप की टीम में उनको कोई स्थान नहीं मिला। सुरेश रैना भारतीय क्रिकेट टीम के लिए साल 2011 और 2015 के एकदिवसीय विश्व कप खेल चुके हैं।

# हरभजन सिंह

इस सूची में सबसे अगला नाम टर्बनेटर के नाम से मशहुर हरभजन सिंह का आता हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 2011 का वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाले हरभजन सिंह ने देश के लिए 2003, 2007 और 2011 के विश्व कप खेले हैं। मगर अब शायद ही दिग्गज स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह भारतीय क्रिकेट टीम के लिए आने वाले समय में विश्व कप खेलते हुए नजर आये।

38 वर्षीय अनुभवी हरभजन सिंह के अब साल 2023 के एकदिवसीय विश्व कप खेलने के अवसर बहुत ही कम हैं और टीम इंडिया के युवा स्पिन गेंदबाज भी लगातार बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं, इतना ही नहीं हो सकता हैं कि साल 2023 के विश्व कप से पहले ही हरभजन सिंह अपने सन्यास का ऐलान भी कर दे। टीम इंडिया के 236 वनडे मैच खेल चुके हरभजन सिंह के नाम वनडे वर्ल्ड कप में कुल 20 विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज हैं।

# युवराज सिंह

अगला नाम कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी को मात देने वाले सिक्सर किंग के नाम से लोकप्रिय युवराज सिंह का आता हैं। वैसे तो युवराज सिंह का नाम सामने आते ही कई सारे पल जीवित हो उठते हैं लेकिन साल 2011 के एकदिवसीय विश्व कप को खेल प्रेमी चाहकर भी कभी नहीं भुला सकता। वह युवराज सिंह ही थे, जिनके चलते टीम इंडिया ने महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में 28 साल के एक लम्बे इंतजार के बाद देश को विश्व कप जीताया था।

2011 के विश्व कप में युवराज सिंह ने अपने हरफनमौला खेल से सभी का दिल जीत लिया था और उनको ‘मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट’ का अवार्ड भी मिला था। आगामी विश्व कप की टीम में युवराज सिंह को चयनकर्ताओं ने टीम में कोई स्थान नहीं दिया और अब शायद ही युवी टीम इंडिया के लिए कभी विश्व कप खेलते हुए दिखाई दे।

युवराज सिंह ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए साल 2003, 2007 और 2011 के वनडे विश्व कप खेले हैं और विश्व कप में उनके नाम पर 738 रन और 20 विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज हैं।

# रविचंद्रन अश्विन

इस लिस्ट में सबसे अगला और अंतिम नाम स्टार स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन का आता हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के लिए दो वनडे वर्ल्ड कप (2011 और 2015) खेल चुके आर अश्विन एक लम्बे से टीम इंडिया की एकदिवसीय टीम से बाहर चल रहे हैं। साल 2017 के वेस्टइंडीज दौरे के बाद से रविचंद्रन अश्विन को आराम का नाम देकर वनडे टीम से निकाला गया था और आज तक उनकी वापसी इस प्रारूप में नहीं हो सकी हैं।

आगामी विश्व कप की टीम में भी उनको मौका नहीं दिया गया और अब इससे यह बात भी लगभग साफ़ हो गयी हैं कि अब शायद ही आर अश्विन एक बार फिर से देश के लिए वनडे विश्व कप खेलते हुए दिखाई देगे। कहने को अश्विन अभी सिर्फ 32 वर्ष के ही हैं लेकिन मौजूदा समय में कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल और टीम घरेलू स्तर पर युवा स्पिन गेंदबाज लगातार टीम इंडिया के दरवाजे पर दस्तक दे रहे हैं, ऐसे में अश्विन के साल 2023 के वनडे विश्व कप खेलने के चांस बेहद ही कम हैं।

टीम इंडिया के लिए 111 वनडे मैच में 150 विकेट लेने वाले रविचंद्रन अश्विन ने 10 एकदिवसीय वर्ल्ड कप मैच खेले है और इस दौरान वह 17 विकेट लेने में सफल रहे हैं।

Edited by Naveen Sharma

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...