Create
Notifications

5 खिलाड़ी जो 2019 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए तुरुप के इक्के साबित हो सकते हैं

Enter caption
विशाल क्षेत्री

2019 में होने वाले वर्ल्ड कप के लिए अब मात्र पांच महीने बचे हुए हैं। सभी टीमों के पास यही वो पांच महीने हैं जिसमें वो अपनी एक शानदार टीम तैयार कर सकते हैं। सभी टीमों की तरह टीम इंडिया भी विश्व कप के लिए अपनी टीम को तैयार करने में लगी हुई है।

टीम के चयनकर्ताओं से लेकर कप्तान कोहली तक टीम बनाने के लिए कोई कोताही नहीं बरत रहे हैं और विश्व कप से पहले खिलाड़ियों को उपयुक्त मौके दे रहे हैं ताकि उससे पहले ही ये पता चल सके की किन-किन खिलाड़ियों को विश्व कप में लेकर जाना है। टीम इंडिया आठ साल पहले 2011 में विश्व कप जीत चुकी है लेकिन 2015 के विश्व कप में वो अपने खिताब को बचा पाने में नाकाम रही थी इसलिए टीम इंडिया अगले विश्व कप को जीतने में जी जान लगा देगी।

इस बार टीम इंडिया में कई खिलाड़ी ऐसे होंगे जो पहली बार विश्व कप खेलते हुए नजर आएंगे। हर टीम में कुछ खिलाड़ी ऐसे होते हैं जो किसी भी वक्त मैच का रुख बदलने का माद्दा रखते हैं। ऐसे ही कुछ खिलाड़ी टीम इंडिया के पास भी है। आज हम आपको उन पांच खिलाड़ियों के बारे में बताने वाले हैं जो अगले विश्व कप में टीम इंडिया के लिए तुरुप के इक्के साबित हो सकते हैं। ये पांचों खिलाड़ी बहुत ही उम्दा खेलते हैं और जरुरत पड़ने पर टीम के लिए बहुमूल्य योगदान भी दे सकते हैं।

#5 कुलदीप यादव

England v India - 3rd ODI: Royal London One-Day Series

टीम इंडिया के उभरते सितारों में से एक कुलदीप यादव आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। अपनी शानदार गेंदबाजी से विपक्षी बल्लेबाजों को चारों खाने चित्त करने वाले कुलदीप यादव किसी भी पिच पर विकेट लेने की क्षमता रखते हैं। अब तक उन्होंने सिर्फ 33 एकदिवसीय मैच खेले हैं और 67 विकेट लिए हैं। इस साल उनके द्वारा खेले गए 19 मैचों में उनके नाम कुल 45 विकेट हैं।

एकदिवसीय मैचों में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में इस साल वो दूसरे नंबर पर हैं। ये शानदार आंकड़े बताते हैं कि वो बल्लेबाजों के लिए कितने घातक साबित हो सकते हैं इसलिए इस बात में कोई संदेह नहीं है कि वो 2019 के विश्व कप में टीम इंडिया के लिए तुरुप के इक्के साबित होंगे।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4 जसप्रीत बुमराह

India v Pakistan - ICC Champions Trophy

टीम इंडिया की गेंदबाजी के रीढ़ माने जाने वाले जसप्रीत बुमराह का किरदार गेंदबाजी में सबसे महत्वपूर्ण होने वाला है। वे ऐसे गेंदबाज हैं जो किसी भी स्थिति में गेंदबाजी कर सकते हैं। चाहे शुरुआती ओवर हो या फिर अंतिम के ओवर, हर जगह वो बल्लेबाज को तंग कर सकते हैं।

कप्तान कोहली को जब भी रन रोकना हो या फिर विकेट लेना हो तो वो जसप्रीत बुमराह को ही याद करते हैं। अगला विश्व कप इंग्लैंड में होने वाला है और वहां की पिचें तेज गेंदबाजों के लिए काफी अनुकूल मानी जाती हैं। ऐसे में बुमराह उन पिचों पर काफी घातक साबित हो सकते हैं।

#3 ऋषभ पंत

Enter caption

अगले विश्व कप में भले ही महेंद्र सिंह धोनी विकेट के पीछे कमान संभालते हुए नजर आएं लेकिन अगर ऋषभ पंत का नाम भी टीम में शामिल हो तो ये कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी। ऋषभ पंत आक्रामक बल्लेबाजी करने के लिए जाने जाते हैं और किसी भी वक़्त मैच का रुख मोड़ने का माद्दा रखते हैं।

भले ही अभी उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का ज्यादा अनुभव नहीं है लेकिन अपने छोटे से करियर में उन्होंने अपने प्रदर्शन से सभी को काफी प्रभावित किया है। टीम इंडिया को विश्व कप में उनके जैसे ताबड़तोड़ बल्लेबाज की सख्त जरूरत है।

#2 हार्दिक पांड्या

Bangladesh v India - ICC Champions Trophy Semi Final

इस समय हार्दिक पांड्या टीम इंडिया के सबसे उभरते हुए सितारों में से एक हैं। एशिया कप में चोटिल हो जाने के बाद वो पुनः टीम इंडिया के साथ जुड़ चुके हैं। टीम में एक अच्छा ऑलराउंडर होना टीम के लिए काफी फायदेमंद होता है क्योंकि जरुरत पड़ने पर वो गेंद के साथ साथ बल्ले से भी योगदान देने में सक्षम होता है। इस बात में कोई शक नहीं है कि हार्दिक एक उच्च कोटि के ऑलराउंडर हैं और टीम को जीतवाने में अपना शत प्रतिशत योगदान देते हैं। यही कारण है अगले विश्व कप में वो टीम इंडिया के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण खिलाड़ी साबित हो सकते हैं।

#1 अंबाती रायडू

Australia v India: Carlton Mid ODI Tri Series - Game 5

इस साल चेन्नई सुपरकिंग्स को आईपीएल का खिताब दिलवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अंबाती रायडू टीम इंडिया के लिए विश्व कप में काफी उपयोगी साबित हो सकते हैं। अब तक भारत की तरफ से उन्होंने 45 एकदिवसीय अंतराष्ट्रीय मैच खेले हैं जिसमें 51.68 की शानदार औसत के साथ 1447 रन बनाए हैं।

ये बेहतरीन आंकड़े इस बात की गवाही देते हैं कि उनमें काबिलियत है कि वो विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं और मध्यक्रम में अच्छा ख़ासा रन बना सकते हैं। आपको बता दें कि एकदिवसीय और टी-20 पर ध्यान देने के लिए उन्होंने इसी साल प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...