COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

गौतम गंभीर के क्रिकेट करियर के 9 बड़े रिकॉर्ड्स

TOP CONTRIBUTOR
फ़ीचर
387   //    01 Jan 2019, 19:56 IST

Enter caption

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले चुके हैं। उन्होंने अपने प्रोफेशनल क्रिकेट करियर का आखिरी मैच रणजी ट्रॉफी में आंध्र प्रदेश के खिलाफ दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में खेला था। जिसमें उन्होंने 185 गेंदों पर 112 रन की पारी खेली थी। उस मैच में दिल्ली की टीम विजयी हुई थी। गौतम गंभीर ने टी20 विश्वकप-2007 और एकदिवसीय विश्वकप-2011 में भारतीय टीम की जीत के लिये बड़ा योगदान दिया था। उन्होंने दोनों विश्व कप के फाइनल मैच में भारत की ओर से सर्वाधिक व्यक्तिगत रन भी बनाए थे। भारतीय क्रिकेट में उनका योगदान अतुलनीय है।

आइये जानते हैं उनके करियर के 9 बड़े रिकॉर्ड्स के बारे में:

1. वे कुमार संगकारा के बाद दूसरे ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने दो वर्ल्डकप (2007 टी20 और 2011 एकदिवसीय) के फाइनल में अर्धशतक लगाया है।

2. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 5 लगातार मैचों में शतक लगाया है। ऐसा करने वाले वो पहले भारतीय हैं जबकि विश्व के 4 खिलाड़ियों में से एक हैं।

3. उन्होंने अपने करियर में 6 मैचों में कप्तानी की है जिसमें उनको सभी मैचों में जीत हासिल हुई है। उनकी कप्तानी का रिकॉर्ड 100 प्रतिशत है।

4. गौतम गंभीर ने 103 अलग-अलग जगहों पर घरेलू क्रिकेट खेले हैं। इस मामले में वो मात्र सचिन तेंदुलकर (112), राहुल द्रविड़ (112) और गुंडप्पा विश्वनाथ (104) से पीछे हैं।

5. गौतम गंभीर ने कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से 107 लगातार मैचों में कप्तानी की है। जो 2011 के चैंपियंस लीग टी20 से 2017 आईपीएल तक रहा है। यह आईपीएल का एक रिकॉर्ड है। इससे पीछे महेंद्र सिंह धोनी ने 77 लगातार मैचों में सीएसके के लिये कप्तानी की है।

6. गौतम गंभीर ने यूथ टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में 212 रन की पारी खेली थी। भारतीय यूथ टीम की तरफ से यह किसी खिलाड़ी का सर्वाधिक स्कोर था।

7. उन्होंने 2001 में यूथ टेस्ट में ओपनिंग करते हुए विनायक माने के साथ 391 रन की पार्टनरशिप की थी, जो यूथ टेस्ट का विश्व रिकॉर्ड है।

8. उन्होंने 22484 घरेलू रन बनाये हैं। इस मामले में वो सिर्फ सचिन तेंदुलकर (24452 रन) से पीछे हैं।

9. उन्होंने 2008-2010 में 11 लगातार टेस्ट मैचों में 11 लगातार बार अर्धशतक लगाए हैं या उससे ऊपर रन बनाये हैं। इस मामले में वो वीरेंदर सहवाग के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर हैं। जबकि एबी डीविलियर्स और जो रूट 12 लगातार मैचों में यह कारनामा कर चुके हैं।

Advertisement
Topics you might be interested in:
TOP CONTRIBUTOR
I'm a Cricketer and also a writer.
Advertisement
Fetching more content...