Create
Notifications

पंजाब किंग्स की हार के बाद टीम की समस्याओं को लेकर आई बड़ी प्रतिक्रिया 

मयंक अग्रवाल का बल्ले के साथ खराब फॉर्म जारी है
मयंक अग्रवाल का बल्ले के साथ खराब फॉर्म जारी है
Prashant Kumar
visit

पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने कहा कि पंजाब किंग्स (PBKS) की मुश्किलें बढ़ रही है और कल भी खराब शुरुआत के बाद लियाम लिविंगस्टोन के आने से टीम को उबरने में मदद की और गुजरात टाइटंस के खिलाफ चुनौतीपूर्ण लक्ष्य तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

पांचवें ओवर में जब लिविंगस्टोन बल्लेबाजी करने के लिए उतरे तब पंजाब कप्तान मयंक अग्रवाल और जॉनी बेयरस्टो के विकेट खो चुकी थी। इंग्लैंड के इस खिलाड़ी ने गुजरात के खिलाफ 27 गेंद में 7 चौके और 4 छक्के की मदद से 64 रन की पारी खेली थी और उनकी इस पारी की वजह से पंजाब ने गुजरात को 190 रन का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया था।

अपने यूट्यूब चैनल पर शेयर किये गए एक वीडियो में मैच का रिव्यु करते हुए आकाश चोपड़ा ने बताया कि पंजाब किंग्स अपनी पारी की शुरुआत में थोड़ा दिक्कत में थी। उन्होंने कहा,

मयंक अग्रवाल अभी भी रन नहीं बना रहे हैं। वह इस बार हार्दिक पांड्या के बाउंसर से आउट हो गए। शिखर धवन अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। जॉनी बेयरस्टो आए और गए, उन्होंने रन नहीं बनाए।

कोलकाता नाइट राइडर्स के पूर्व खिलाड़ी ने गुजरात टाइटंस के गेंदबाजों पर अटैक करने के लिए लिविंगस्टोन की तारीफ की। चोपड़ा ने कहा,

लियाम लिविंगस्टोन बल्लेबाजी के लिए आते हैं और वह कितना अच्छे से गेंद को हिट करते हैं। वहीं एक बार बाउंड्री पर हार्दिक ने उनका कैच पकड़ लिया था। हालांकि उनका पैर बॉउंड्री पर टच हो गया था। उन्होंने 110 मीटर का छक्का लगाया, यह शानदार हिटिंग थी वो भी उस टीम के खिलाफ जिसकी गेंदबाजी बहुत मजबूत है। मैं गुजरात टाइटंस को पूरे टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी लाइनअप के रूप में देखता हूं लेकिन जब लियाम लिविंगस्टोन हिट कर रहे थे तो ऐसा लग रहा था कि इस टीम की गेंदबाजी अच्छी है लेकिन दमखम नहीं दिख रहा है।
youtube-cover

पंजाब किंग्स सब कुछ या कुछ नहीं की सोच के साथ आए हैं - आकाश चोपड़ा

पंजाब किंग्स के आक्रामक खेल को लगातार विकेटों के पतन के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा,

अचानक से विकेट गिरने शुरू हो गए क्योंकि हर कोई हिट कर रहा था। पंजाब किंग्स सब कुछ या कुछ भी नहीं है वो 200 या 120 की सोच के साथ आए हैं। जितेश शर्मा आए और छक्के मारे, शाहरुख खान ने भी मारे, उन्होंने एक बार दर्शन नालकांडे और फिर राशिद खान के ओवर में दो विकेट गंवाए।

दिग्गज कमेंटेटर ने कहा कि पंजाब ने अंतिम विकेट के लिए 27 रनों की साझेदारी की, जिस कारण वो एक चुनौतीपूर्ण स्कोर लगाने में सफल रहे। उन्होंने कहा,

अंत में दसवें विकेट के अर्शदीप और राहुल चाहर ने 27 रन की साझेदारी की और फिर आपने 180 रन का आंकड़ा पार किया, जहां आप मैच में कुछ फाइट कर सके।

राहुल चाहर (14 गेंदों पर 22 रन) और अर्शदीप सिंह (पांच गेंदों पर 10 रन) की मदद से पंजाब किंग्स 20 ओवर में 189/9 का स्कोर खड़ा करने में कामयाब हो रही।


Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now