Create

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के प्लेऑफ में पहुँचने को लेकर दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान 

मौजूदा सीजन दोनों बड़ी टीमों के लिए निराशाजनक रहा है
मौजूदा सीजन दोनों बड़ी टीमों के लिए निराशाजनक रहा है

आईपीएल 2022 (IPL 2022) के शुरुआती मैचों में मुंबई इंडियंस (MI) और चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) का खराब प्रदर्शन रहा है। इसके बावजूद कई जानकार मानते हैं कि ये दोनों बड़ी टीमें वापसी करेंगी और प्लेऑफ में पहुंच सकती हैं। हालाँकि पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) की राय अलग है। उनके मुताबिक आईपीएल इतिहास की दो सबसे कामयाब टीमें इस बार प्लेऑफ में नहीं पहुंचेगी।

चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने पांच मैचों में से एक में जीत हासिल की है और अंकतालिका में नौवें स्थान पर है जबकि मुंबई इंडियंस ने अब तक अपने सभी पांच मैचों में हार का सामना किया है और अंतिम स्थान पर है। आकाश चोपड़ा ने दोनों ही टीमों के खराब प्रदर्शन के लिए कमजोर गेंदबाजी आक्रमण को जिम्मेदार ठहराया है।

अपने यूट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने बताया कि क्यों ये दोनों टीमें टॉप 4 में नहीं पहुंचेंगी। उन्होंने कहा,

चेन्नई और मुंबई दोनों के पास साधारण गेंदबाजी आक्रमण हैं। हालांकि वे ऐसी स्थिति से वापस आएं हैं, अगर आप एक ही टीम से खेलते रहते हैं और उम्मीद करते हैं कि अचानक कुछ बदल जाएगा तो यह संभव नहीं है। मुंबई इंडियंस को को अपने इलेवन को बदलने की आवश्यकता होगी जबकि सीएसके की गेंदबाजी को चलने की जरूरत है। लेकिन मैं उन्हें टॉप 4 में जाते हुए नहीं देखता।

आईपीएल 2022 युवाओं का सीजन रहा है - आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा का मानना है कि अब तक का यह सीजन युवाओं खिलाड़ियों के नाम रहा है, जो अपना हुनर दिखाना चाहते हैं। उन्होंने साईं सुदर्शन, आयुष बदोनी, देवाल्ड ब्रेविस, तिलक वर्मा और जितेश शर्मा जैसे युवा बल्लेबाजों के बारे में बात की।

साथ ही वैभव अरोड़ा और कुलदीप सेन का भी जिक्र किया जो अपनी टीम के लिए महत्वपूर्ण साबित हो रहे हैं। चोपड़ा ने कहा,

यह आईपीएल उन युवाओं का रहा है जो निडर हैं और खेल पर अपनी छाप छोड़ने के इच्छुक हैं। आयुष बदोनी, साईं सुदर्शन, ब्रेविस, तिलक, वैभव अरोड़ा, कुलदीप सेन, जितेश शर्मा को देखें। मुख्य अंतर यह है कि सभी ओपनिंग बल्लेबाज नहीं हैं। कुछ मध्यम पेसर हैं जबकि कुछ निचले क्रम में बल्लेबाजी करते हैं लेकिन फिर भी वे प्रभाव डालने में सफल रहे हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment