"चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे का टेस्ट करियर खत्म हो चुका है" - दिग्गज बल्लेबाजों को लेकर आया बड़ा बयान  

अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा
अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा

हाल ही में भारत ने इंग्लैंड (IND vs ENG) के खिलाफ पांच मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबलों के लिए टीम का ऐलान किया लेकिन उसमें अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को जगह नहीं दी गई। अब इन दोनों को लेकर पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने बड़ा बयान दिया है और उनके मुताबिक, भारत के लिए पुजारा और रहाणे का टेस्ट करियर अब खत्म हो चुका है।

12 जनवरी को घोषित हुए भारतीय स्क्वाड में युवा खिलाड़ियों पर दिखाए गए भरोसे को कायम रखा गया है और हाल ही में रणजी ट्रॉफी में दोहरा शतक जड़ने वाले चेतेश्वर पुजारा के साथ-साथ अजिंक्य रहाणे को भी नहीं चुना गया। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी इन दोनों को टेस्ट टीम से बाहर रखा गया था।

हालाँकि, उम्मीद थी कि शायद घरेलू सीरीज में इन दोनों में से शायद किसी एक को मौका मिल जाये लेकिन चयनकर्ताओं ने शायद अब युवाओं को की तरफ रूख कर लिया है। पिछले पुजारा ने आखिरी बार वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया था, जबकि रहाणे वेस्टइंडीज दौरे के बाद से नहीं चुने गए हैं।

अपने यूट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने कहा,

टीम उम्मीद के मुताबिक है। हमें उम्मीद थी कि अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा वहां नहीं होंगे। मुझे लगता है कि उनका चैप्टर बंद हो गया है। अगर आप उन्हें दक्षिण अफ्रीका में नहीं चुनते तो यह उन्हें चुनने का आखिरी मौका था। यदि आपने उन्हें वहां नहीं चुना, तो आप उनके पास वापस नहीं जा रहे हैं।

चोपड़ा ने आगे पुजारा की बात की और कहा कि वह लगातार रन बनाते रहेंगे, क्योंकि उन्हें बल्लेबाजी पसंद है और वह 100 फर्स्ट क्लास शतक भी लगा सकते हैं। उन्होंने कहा,

पुजारा ने पिछले हफ्ते दोहरा शतक जड़ा था। वह क्रिकेट के संत हैं। वह रन बनाते रहेंगे क्योंकि वह सिर्फ चयन के लिए रन नहीं बनाते हैं। आधी दुनिया चयन के लिए रन बनाती है। वह सिर्फ इसलिए क्रिकेट खेलते हैं, क्योंकि उन्हें बल्लेबाजी पसंद है। वह रन बनाते हैं, क्योंकि उन्हें रन बनाना पसंद है। इसलिए पुजारा रन बनाना जारी रखेंगे और फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सभी रिकॉर्ड तोड़ देंगे। मुझे लगता है कि वह पहले ही 61 फर्स्ट क्लास शतक बना चुके हैं और 100 शतक बनाएंगे।। वह रुकेंगे नहीं। वह बिल्कुल भी संन्यास नहीं लेंगे।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar