Create

"राहुल त्रिपाठी को भारतीय टीम में जगह नहीं मिल सकती"- पूर्व खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

राहुल त्रिपाठी में आईपीएल में लम्बे समय से अपने प्रदर्शन में निरंतरता दिखाई है
राहुल त्रिपाठी में आईपीएल में लम्बे समय से अपने प्रदर्शन में निरंतरता दिखाई है
Prashant Kumar

आईपीएल (IPL) में अच्छे प्रदर्शन की बदौलत कई खिलाड़ियों को हमने भारतीय टीम (Indian Cricket Team) में जगह बनाते देखा है और कुछ ऐसा ही राहुल त्रिपाठी (Rahul Tripathi) को लेकर भी सभी का मानना है। हालांकि पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने चौंकाने वाली प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद राहुल त्रिपाठी को भारतीय टीम में जगह नहीं मिल सकती।

आईपीएल 2022 में सनराइज़र्स हैदराबाद की तरफ से खेल रहे त्रिपाठी ने अभी तक काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने छह मैचों में पचास से भी अधिक की औसत और लगभग 174 की स्ट्राइक रेट से 205 रन बनाये हैं। पिछले सीजन केकेआर के लिए उन्होंने 17 मैचों में 140 से भी अधिक की स्ट्राइक रेट से 397 रन बनाये थे।

अपने यूट्यूब चैनल पर एक सवाल-जवाब सत्र में, चोपड़ा से पूछा गया कि क्या SRH के बल्लेबाज को उनके प्रभावशाली आईपीएल प्रदर्शन के आधार पर भारतीय टीम में जगह मिल सकती है। उन्होंने त्रिपाठी की प्रशंसा की लेकिन भारतीय टीम में जगह मिल पाना मुश्किल बताया। पूर्व खिलाड़ी ने कहा,

दुर्भाग्य से राहुल त्रिपाठी भारतीय टीम में शामिल नहीं हो सकते। मैं वास्तव में उन्हें बहुत पसंद करता हूं। जब से उन्होंने आईपीएल खेलना शुरू किया है, वह मेरे पसंदीदा अनकैप्ड भारतीय रहे हैं। उन्होंने हर साल अच्छा प्रदर्शन किया है। केवल एक सीजन की बात नहीं है। उन्होंने वर्षों से विभिन्न टीमों के लिए खेला है - पुणे, कोलकाता और अब हैदराबाद - और सभी के लिए रन बनाए हैं। हमेशा टीम को खुद से पहले रखते हैं। वह एक निस्वार्थ क्रिकेटर हैं जो अपना सब कुछ दे देते हैं।

त्रिपाठी एक लम्बी लाइन में हैं - आकाश चोपड़ा

He's getting the praise that he deserves. 🗣️🧡@tripathirahul52#OrangeArmy #ReadyToRise #TATAIPL https://t.co/jGrZz2nH36

चोपड़ा ने बताया कि क्यों राहुल त्रिपाठी को भारतीय टीम में जगह नहीं मिल सकती है। उन्होंने कहा कि टॉप ऑर्डर में कोई स्थान खाली नहीं है। अपनी बात को समझाते हुए पूर्व भारतीय ओपनर ने कहा,

त्रिपाठी लंबी लाइन में हैं। वह टॉप ऑर्डर में रन बना रहे हैं, लेकिन भारतीय बल्लेबाजी में टॉप पर कोई जगह नहीं है। हो सकता है कि अगर वह निचले क्रम में खेलते और वहां प्रदर्शन करता है, तो हम इनके बारे में सोच सकते हैं। मेरा दृढ़ विश्वास है कि जो खिलाड़ी एक विशेष भूमिका निभाते हैं, उन्हें वही करते रहने के लिए कहा जाना चाहिए।

उन्होंने केकेआए के वेंकटेश अय्यर का उदाहरण देते हुए कहा,

हमने वेंकटेश अय्यर (बल्लेबाजी क्रम में फेरबदल) के साथ ऐसा किया, और अब ऐसा लगता है कि वह न तो यहां हैं और न ही वहां। इसलिए, अगर हम खिलाड़ियों को स्लॉट के हिसाब से चुनते हैं, तो त्रिपाठी का नंबर नहीं आ सकता है।

त्रिपाठी के नाम 68 आईपीएल मैचों में 27.89 की औसत और 140.21 के स्ट्राइक रेट से 1590 रन हैं। देखना होगा कि कब उन्हें टीम इंडिया में एंट्री मिलती है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...