ऋषभ पंत से बड़े स्कोर की उम्मीद लगाते हुए पूर्व खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

ऋषभ पंत बड़ा स्कोर बना पाने में असफल रहे हैं
ऋषभ पंत बड़ा स्कोर बना पाने में असफल रहे हैं

आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) का कहना है कि दिल्ली कैपिटल्स (DC) के कप्तान ऋषभ पंत (Rishabh Pant) आईपीएल 2022 (IPL 2022) में अच्छे टच में होने के बावजूद बल्लेबाजी में उम्मीदों के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पा रहे है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर के अनुसार इस कॉम्पिटिशन में 20-30 के स्कोर उनकी टीम के लिए काफी नहीं हैं।

24 वर्षीय इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने आईपीएल 2022 में खेले पांच मैचों में 36 की औसत और 146.94 के स्ट्राइक रेट से 144 रन बनाए हैं। उनका उच्चतम स्कोर 43 रन है, जो उन्होंने गुजरात टाइटंस के खिलाफ बनाया था। इस मैच में दिल्ली की टीम 14 रन से मैच हार गयी थी।

बुधवार (20 अप्रैल) को मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में दिल्ली का सामना पंजाब किंग्स के साथ होगा जहां पंत की फॉर्म सवालों के घेरे में होगी।

आईपीएल 2022 में डीसी के कप्तान के बल्लेबाजी प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए चोपड़ा ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा,

ऋषभ पंत ने बल्ले से अभी तक ज्यादा अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। उन्होंने पिछले गेम में 17 गेंद में 34 रन बनाए थे लेकिन हम इंतजार कर रहे हैं कि वह 70 या 80 का बड़ा स्कोर बनाए, 100 भी बना सकते हैं।

पंत ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ अपने पिछले मैच में 17 गेंदों पर 34 रन की पारी खेली थी। उनके आउट होने के बाद दिल्ली 16 रन से मैच हार गयी थी। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कवर पर मोहम्मद सिराज की फुलटॉस गेंद को हिट किया लेकिन विराट कोहली ने उछलते हुए शानदार कैच पकड़ते हुए उनकी पारी का अंत किया। इसके बाद अन्य बल्लेबाज नाकाम रहे और दिल्ली मैच हार गई।

दिल्ली कैपिटल्स की टीम मिडिल ऑर्डर में कमजोर दिख रही है - आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा ने कहा कि दिल्ली के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर और पृथ्वी शॉ अच्छ कर रहे हैं। हालांकि मिडिल ऑर्डर में कहानी बिल्कुल विपरीत है। मिडिल ऑर्डर में उनके बल्लेबाज कंसिस्टेंट नहीं रहे हैं, जिससे टीम को नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा,

किसी ने भी मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी में लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। कभी ललित यादव अच्छा करते हैं तो कभी अक्षर पटेल तो कभी सरफराज खान। सरफराज अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन फिर ड्रॉप हो गए। उन्होंने यश ढुल या केएस भरत को मौका नहीं दिया, क्यों मौका नहीं दिया मुझे इसका कोई आईडिया नहीं है। लेकिन उन्हें इन विकल्पों पर विचार करना चाहिए, क्योंकि बीच में डीसी की बल्लेबाजी खाली दिख रही है।

बैंगलोर के खिलाफ, दिल्ली एक समय 12वें ओवर में एक विकेट खोकर 94 रन पर मजबूत स्थिति में दिख रही थी। हालांकि, वॉर्नर के 66 रन बनाकर आउट होने के बाद मिडिल ऑर्डर का पतन शुरू हो गया और डीसी 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 173 रन ही बना पायी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now