Create

सिडनी टेस्ट में मिचेल स्वेप्सन को खिलाया जाना चाहिए या नहीं, दिग्गज खिलाड़ी ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

माइकल स्वेप्सन को टेस्ट डेब्यू का मौका मिल सकता है
माइकल स्वेप्सन को टेस्ट डेब्यू का मौका मिल सकता है
reaction-emoji
Prashant Kumar

सिडनी टेस्ट (AUS vs ENG) से पहले ऑस्ट्रेलिया को टीम चयन को लेकर काफी माथापच्ची करनी पड़ रही है। तेज गेंदबाजों के बाद अब स्पिनर को लेकर भी टीम अभी स्पष्ट निर्णय नहीं ले पाई है। सिडनी की पिच स्पिन गेंदबाजों के लिए मददगार मानी जाती है। इसी वजह से इस मैच में ऑस्ट्रेलिया नाथन लियोन के जोड़ीदार के रूप में लेग स्पिनर मिचेल स्वेप्सन को खिलाने पर विचार कर रहा है। हालांकि स्वेप्सन को खिलाये जाने को लेकर एडम गिलक्रिस्ट ने भी प्रतिक्रिया दी है, जिनका मानना है कि स्वेप्सन को तभी शामिल किया जाए जब सिडनी का विकेट रैंक टर्नर हो।

स्पिन गेंदबाजों के दृष्टिकोण से ऑस्ट्रेलिया में सिडनी के मैदान को सबसे मददगार माना जाता है और ज्यादातर यहां दो स्पिन गेंदबाजों का विकल्प अपनाया जाता है। हालांकि घरेलू टीम एक स्पिनर पर ही विश्वास जताती आई है। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे स्पिनर के रूप में मिचेल स्वेप्सन को शामिल किया है, जिन्होंने हाल ही में घरेलू क्रिकेट के दौरान 5 मैचों में 32 विकेट चटकाए।

गिलक्रिस्ट ने कहा कि मेजबान टीम लियोन और स्वेप्सन को एक साथ खिलाने की योजन को मार्च में पाकिस्तान के दौरे तक स्थगित कर सकती है। उन्होंने कहा,

आपको स्वेप्सन को चुनने के लिए सही परिस्थितियों की आवश्यकता होगी और अगर वह दौरा आगे बढ़ता है तो मार्च में उनकी भूमिका होगी। मैं इसे समझता हूं। लेकिन मुझे नहीं लगता कि आप उसे तब तक खिलाये जब तक सिडनी में टर्निंग ट्रैक पर टेस्ट को जीतने का सबसे अच्छा तरीका दो स्पिनर हों।

ऑस्ट्रेलिया ने इस मैदान पर अपना पिछले टेस्ट भारतीय टीम के खिलाफ खेला था। उस मैच में भारत के लिये आर अश्विन और रविंद्र जडेजा ने मिलकर 6 विकेट चटकाए थे। वहीं मेजबान टीम के लिए नाथन लियोन ने 2 विकेट हासिल किये था तथा पार्ट टाइम स्पिनर मार्नस लैबुशेन को विकेट नहीं मिला था।

अगर जोश हेजलवुड फिट नहीं हैं तो मैं स्कॉट बोलैंड के साथ जाऊंगा - एडम गिलक्रिस्ट

सिडनी टेस्ट के लिए गिलक्रिस्ट ने स्वेप्सन की जगह स्कॉट बोलैंड को खिलाने की बात कही है। गिलक्रिस्ट ने तर्क दिया कि अगर सीनियर पेसर जोश हेजलवुड, जिनकी मैच-फिटनेस अभी भी अनिश्चित है, उपलब्ध नहीं है, तो बोलैंड को इंग्लैंड की कमजोर बल्लेबाजों को ध्वस्त करने का मौका मिलना चाहिए। उन्होंने कहा,

काफी कुछ जोश हेजलवुड की फिटनेस पर निर्भर करेगा। अगर वह पूरी तरह फिट है तो वह खेलने के लिए बेताब होगा। इसलिए अगर वह फिट है तो फिर मैं हॉलैंड की जगह उसे चुनूंगा। अगर वह फिट नहीं है तो मैं शायद बोलैंड के साथ जाऊंगा, क्योंकि पिच ऐसा लग रहा है कि उसमें घास की अच्छी कवरेज होने वाली है। मुझे लगता है कि बोलैंड का प्रभाव इंग्लैंड के खिलाफ रिचर्डसन की तुलना में अधिक था।

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच चौथ एशेज टेस्ट सिडनी के मैदान पर 5 जनवरी से शुरू होगा।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...