बांग्लादेश को चमत्कारिक जीत दिलाने वाले बल्लेबाज ने किया योजना का खुलासा

अफीफ होसैन ने क्रीज पर टिकने को अहम माना
अफीफ होसैन ने क्रीज पर टिकने को अहम माना

बांग्लादेश (Bangladesh) ने अफगानिस्तान (Afghanistan) की टीम को पहले एकदिवसीय मुकाबले में चमत्कारिक अंदाज में पराजित कर सीरीज में बढ़त हासिल कर ली। इसका श्रेय अफीफ होसैन और मेहदी हसन को जाता है जिन्होंने एक बड़ी भागीदारी कर अपनी टीम को जीत दिलाई। अफीफ ने अपनी पारी और योजनाओं को लेकर प्रतिक्रिया दी।

अफीफ होसैन ने कहा कि विशिष्ट योजना उनकी स्पिन तिकड़ी के खिलाफ सामान्य क्रिकेट खेलने की थी और उन्हें विकेट नहीं देने की थी। छह विकेट गंवाने के बाद हमारा लक्ष्य था कि हम पारी को एक साथ पकड़ें और जितना हो सके विकेट पर समय बिताएं। पूरी पारी के दौरान हमने कभी मैच जीतने की बात नहीं की, हमने सिर्फ इतना कहा कि हम अपने विकेट नहीं देंगे और अंत में हमने अपना स्वाभाविक गेम खेला।

आगे उन्होंने कहा कि आमतौर पर मुझे बड़ी पारी खेलने का बड़ा मौका नहीं मिलता। आज मुझे एक मौका मिला और मैंने इसका इस्तेमाल किया। जब मैं क्रीज पर बल्लेबाजी करता हूं तो मेरे पास कई योजनाएं नहीं होती हैं। मैं सिर्फ गेंद दर गेंद की योजना बनाता हूं। आज की पारी निश्चित रूप से बेहतर है क्योंकि इसे विश्व स्तरीय गेंदबाजों के खिलाफ खेली गई है। मुझे काफी कैलकुलेशन के साथ उनको संभालना पड़ा।

गौरतलब है कि पहले बल्लेबाजी करते हुए अफगानिस्तान की टीम 215 रन बनाकर आउट हो गई। जवाब में खेलते हुए बांग्लादेश की टीम ने अपने 6 विकेट 45 रन के स्कोर पर ही गंवा दिए थे। इसके बाद उनकी पराजय दिखाई दे रही थी। तभी अफीफ होसैन और मेहदी हसन ने क्रीज पर टिककर बल्लेबाजी की और अफगानिस्तान की जीत को हार में बदल दिया। दोनों ने मिलकर सातवें विकेट के लिए 150 से भी ज्यादा रनों की भागीदारी करते हुए 6 विकेट पर 219 रन के साथ टीम को मैच में जीत दिलाई। अफीफ ने नाबाद 93 और मेहदी हसन ने नाबाद 81 रन बनाए।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma