Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

एफ्रो-एशिया कप के विजेताओं और आंकड़ों पर एक नज़र 

एफ्रो-एशिया कप
एफ्रो-एशिया कप
EXPERT COLUMNIST
Modified 25 Jun 2020, 16:13 IST
विशेष
Advertisement

एफ्रो-एशिया कप का आयोजन सिर्फ दो बार ही हो पाया। 2005 में पहली बार अफ्रीका और एशिया XI के बीच दक्षिण अफ्रीका में इस टूर्नामेंट का आयोजन किया गया था। इसके बाद 2007 में दोनों टीमों का सामना भारत में हुआ था। हालाँकि इसके बाद यह टूर्नामेंट फिर आयोजित नहीं हो पाया। गौरतलब है कि दोनों बार टीमों के बीच तीन-तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली गई।

एफ्रो एशिया कप में उस समय दोनों टीमों की तरफ से कई दिग्गजों ने हिस्सा लिया था और काफी रोमांचक मैच खेले गए थे। 2005 में दोनों टीमों के बीच सीरीज 1-1 से बराबर रही थी, वहीं 2007 में एशिया XI ने अफ्रीका XI को 3-0 से बुरी तरह हराया था।

आइये नजर डालते हैं दोनों टूर्नामेंट में मैच परिणाम और आंकड़ों पर:

2005 एफ्रो-एशिया कप
2005 एफ्रो-एशिया कप

2005 एफ्रो-एशिया कप (कप्तान - इंज़माम-उल-हक़ और शॉन पोलक एवं ग्रीम स्मिथ)

पहला वनडे - 17 अगस्त को अफ्रीका XI ने एशिया XI को दो रनों से हराया। सेंचुरियन में अफ्रीका XI ने पहले खेले हुए 198 रन बनाये, जिसके जवाब में एशिया XI 196 रन ही बना सकी। एश्वेल प्रिंस को 78 रनों की पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

दूसरा वनडे - 20 अगस्त को डरबन में एशिया XI ने अफ्रीका XI को 17 रनों से हराया। एशिया XI ने 'मैन ऑफ द मैच' कुमार संगकारा (61) और महेला जयवर्धने (52) के अर्धशतकों की मदद से 267/7 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में अफ्रीका XI 250 रन बनाकर ऑल आउट हो गई।

तीसरा वनडे - 21 अगस्त को डरबन में तीसरा वनडे बारिश के कारण रद्द हो गया और सीरीज 1-1 से बराबर हो गई। 48 ओवर के मैच में पहले खेलते हुए अफ्रीका XI की टीम सिर्फ 106 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी, जिसके जवाब में एशिया XI का स्कोर जब 8/2 (3 ओवर) था, तभी बारिश आ गई और मैच पूरा नहीं हो सका। शोएब अख्तर (2/16) को मैन ऑफ द मैच और ज़हीर खान को सीरीज में 9 विकेट लेने के लिए मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।

महेंद्र सिंह धोनी
महेंद्र सिंह धोनी

2007 एफ्रो-एशिया कप (कप्तान - महेला जयवर्धने एवं जस्टिन केम्प)

Advertisement

पहला वनडे - 6 जून को बैंगलोर में एशिया XI ने अफ्रीका XI को 34 रनों से हराया। एशिया XI ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मोहम्मद युसूफ (66) और महेला जयवर्धने (65) के अर्धशतकों की मदद से 317/9 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में 'मैन ऑफ द मैच' शॉन पोलक (130) के बेहतरीन शतक के बावजूद अफ्रीका XI 283 रन बनाकर ऑल आउट हो गई।

दूसरा वनडे - 9 जून को चेन्नई में एशिया XI ने अफ्रीका XI को 31 रनों से हराया। पहले बल्लेबाजी करते हुए एशिया XI ने सौरव गांगुली के 88, वीरेंदर सहवाग के 52 और मोहम्म्द युसूफ के 51 रनों की मदद से 337/7 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में मार्क बाउचर (73) और बोएटा डिपेनार (67) के अर्धशतकों के बावजूद अफ्रीका XI 306 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। दिलहारा फर्नांडो (4/36) को मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

तीसरा वनडे - 10 जून को चेन्नई में ही एशिया XI ने अफ्रीका XI को 13 रनों से हराया था। एशिया XI ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 'मैन ऑफ द मैच' महेंद्र सिंह धोनी (97 गेंद 139) और मैन ऑफ द सीरीज महेला जयवर्धने (106 गेंद 107, 3 मैच में 217 रन) के शतकों की मदद से 331/8 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में जस्टिन केम्प के 86, एबी डीविलियर्स के 70 और शॉन पोलक के नाबाद 58 के बावजूद अफ्रीका XI 318/7 का स्कोर ही बना सकी।

यह भी पढ़ें - भारत के अलावा 2 और टीमों की तरफ से अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले क्रिकेटर

1 / 4 NEXT
Published 25 Jun 2020, 16:13 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit