बल्लेबाज को क्लीन बोल्ड करने के बावजूद आकाश दीप को नहीं मिला अपना पहला टेस्ट विकेट, युवा गेंदबाज के हाथ लगी निराशा

आकाश दीप के हाथ लगी निराशा (Photo Credit - BCCI)
आकाश दीप के हाथ लगी निराशा (Photo Credit - BCCI)

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच रांची में चौथा टेस्ट मुकाबला खेला जा रहा है। इस मैच में भारत की तरफ से युवा तेज गेंदबाज आकाश दीप ने अपना डेब्यू किया। हालांकि उनके साथ इस मुकाबले में कुछ ऐसा हुआ जिसे वो बिल्कुल भी याद नहीं रखना चाहेंगे। आकाश दीप ने अपने दूसरे ओवर के दौरान इंग्लैंड के बल्लेबाज जैक क्रॉली को क्लीन बोल्ड कर दिया लेकिन इसके बावजूद उन्हें उनका पहला टेस्ट विकेट नहीं मिला। इसकी वजह ये थी कि वो गेंद नो बॉल निकली और आकाश दीप को निराश होना पड़ा।

जसप्रीत बुमराह की अनुपस्थिति में आकाश दीप को भारत की तरफ से डेब्यू का मौका मिला। उन्हें टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने उनका डेब्यू किया। वह भारत के 313वें खिलाड़ी बन गए जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया है। टीम इंडिया में उन्हें जसप्रीत बुमराह के स्थान पर जगह मिली है। बुमराह को रांची टेस्ट मैच के लिए आराम दिया गया है।

आकाश दीप के हाथ लगी निराशा

हर एक खिलाड़ी का सपना होता है कि अपने डेब्यू मुकाबले में ज्यादा से ज्यादा विकेट निकाले और आकाश दीप को उनका पहला विकेट जल्द ही मिल गया। उन्होंने जैक क्रॉली को एक बेहतरीन गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया। क्रॉली बिल्कुल भी गेंद को समझ नहीं पाए और बोल्ड हो गए। इसके बाद आकाश दीप अपने विकेट का जश्न मनाने लगे। हालांकि कुछ देर बाद अंपायरों ने उन्हें रोक दिया। थर्ड अंपायर ने बताया कि वो गेंद नो बॉल थी और इस तरह से सरफराज को अपना पहला विकेट नो बॉल की वजह से नहीं मिला।

क्रिकेट में ऐसा बहुत कम ही होता है कि आप अपने करियर की पहली विकेट लें लेकिन वो गेंद नो बॉल निकले और आपकी खुशी निराशा में बदल जाए। आकाश दीप के साथ ऐसा ही हुआ। वो चाहेंगे कि इस निराशा को पीछे छोड़ते हुए बेहतर प्रदर्शन करें।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता