Create
Notifications

WTC फाइनल में भारत की प्लेइंग इलेवन पर अब इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज ने उठाया सवाल

India v New Zealand - ICC World Test Championship Final: Reserve Day
India v New Zealand - ICC World Test Championship Final: Reserve Day
Naveen Sharma

इंग्लैंड (England) के पूर्व कप्तान एलेस्टेयर कुक (Alastair Cook) का मानना है कि भारत (India) ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले के लिए जल्दबाजी में अपनी प्लेइंग XI का ऐलान कर दिया था और इस तरह से भारत ने खुद को चैंपियनशिप जीतने से अपने आप ही थोड़ा दूर कर लिया था। भारत ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले के लिए तीन दिन पहले ही अपनी प्लेइंग इलेवन का ऐलान कर दिया था। हालांकि पहले दिन का खेल बारिश के कारण धुल गया था तो कई दिग्गजों ने भारत को परिस्थितियों के हिसाब से अपनी प्लेइंग XI में बदलाव करने की सलाह दी थी लेकिन कप्तान कोहली बिना किसी बदलाव के उतरे।

कुक ने ऑन द टफर्स और वॉन पॉडकास्ट पर बीबीसी स्पोर्ट पर कहा कि वे (भारत) अपनी टीम को तीन दिन पहले चुनने के बाद थोड़ा आश्वस्त हो गए थे और दो स्पिनरों को खिलाया जबकि उन्हें अच्छी तरह से पता था कि गेम के दौरान काफी ज्यादा बारिश होने वाली थी। इसलिए काफी ज्यादा सीम गेंदबाजी की गयी थी। भले ही उनके स्पिनर विश्वस्तरीय हों, लेकिन वे वहां खुद से थोड़ा दूर हो गए।

कुक ने फाइनल में भारत की हार के पीछे की मुख्य वजह का किया खुलासा

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले से पहले क्रिकेट के कई जानकारों ने इस बात को स्वीकारा था कि भारतीय टीम को अभ्यास मैच की कमी खल सकती है और एलेस्टेयर कुक भी इस बात से सहमत नजर आये। भारतीय टीम ने फाइनल से पहले इंट्रा-स्क्वॉड मैच खेला था, जबकि न्यूजीलैंड ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज इंग्लैंड के खिलाफ खेली थी।

India v New Zealand - ICC World Test Championship Final: Reserve Day
India v New Zealand - ICC World Test Championship Final: Reserve Day

कुक ने कहा कि मैंने पहले ही इस तथ्य को ध्यान में रखकर कहा था कि न्यूजीलैंड उस गेम को पूरी तरह से जीतने जा रहा है क्योंकि उनके पास मैच प्रैक्टिस थी। इंग्लैंड के खिलाफ वो दो टेस्ट तैयारियों के लिहाज से पूरी तरह से सही थे। इंट्रा-स्क्वॉड मैच उतने ही अच्छे होते हैं, जितने आपके इरादे। इन मैचों में उतनी तीव्रता देखने को नहीं मिलती है। पहला घंटा शायद वास्तव में प्रतिस्पर्धी रहता है लेकिन सब कुछ धीरे-धीरे कम हो जाता है। इस तरह से भारत कठिनाई में था।


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...