SA vs IND: एंडीले फेलुकवेयो के नाम T20I क्रिकेट में दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, टेंबा बावुमा को मिली राहत

South Africa India Cricket
एंडीले फेलुकवेयो तीसरे टी20 इंटरनेशनल मैच में रविंद्र जडेजा का शिकार बने

भारत (India Cricket Team) और दक्षिण अफ्रीका (South Africa Cricket Team) के बीच गुरुवार को जोहानसबर्ग में तीसरा व अंतिम टी20 इंटरनेशनल मैच खेला गया। सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका को 106 रन के विशाल अंतर से मात दी। इसी के साथ भारतीय टीम ने तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर की। याद हो कि दोनों टीमों के बीच पहला टी20 इंटरनेशनल मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था जबकि दूसरा मुकाबला प्रोटियाज टीम ने 5 विकेट से जीता था।

भारतीय टीम ने तीसरे मुकाबले में पहले बल्‍लेबाजी की और निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट खोकर 201 रन बनाए। जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम 13.5 ओवर में 95 रन पर ऑलआउट हुई।

दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर एंडीले फेलुकवेयो के नाम इस दौरान एक बेहद शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गया। मेजबान टीम के ऑलराउंडर भारत के खिलाफ तीसरे मैच में खाता खोले बिना आउट हो गए। रविंद्र जडेजा ने पारी के 11वें ओवर की आखिरी गेंद पर फेलुकवेयो का शिकार किया। जडेजा ने अपनी ही गेंद पर प्रोटियाज ऑलराउंडर का कैच पकड़ा।

एंडीले फेलुकवेयो टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में दक्षिण अफ्रीका की तरफ से सबसे ज्‍यादा बार शून्‍य पर आउट होने वाले बल्‍लेबाज बन गए हैं। फेलुकवेयो 40 मैचों में सातवीं बार बिना खाता खोले आउट हुए। एंडीले फेलुकवेयो से पहले यह शर्मनाक रिकॉर्ड टेंबा बावुमा के नाम दर्ज था। बावुमा टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 36 मैचों में 6 बार बिना खाता खोले आउट हुए हैं। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर जेपी डुमिनी इस लिस्‍ट में तीसरे स्‍थान पर काबिज हैं। डुमिनी 81 मैचों में छह बार बिना खाता खोले आउट हुए।

दक्षिण अफ्रीका के ओपनर क्विंटन डी कॉक 80 मैचों में छह बार बिना खाता खोले आउट हुए और वो इस लिस्‍ट में चौथे स्‍थान पर काबिज हैं। तबरेज शम्‍सी 65 मैचों में पांच बार बिना खाता खोले आउट होकर टॉप-5 की लिस्‍ट को पूरा करते हैं।

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से टी20 इंटरनेशनल में सबसे ज्‍यादा बार शून्‍य पर आउट होने वाले बल्‍लेबाज

  • एंडीले फेलुकवेयो - 40 मैचों में 7 बार
  • टेंबा बावुमा - 36 मैचों में 6 बार
  • जेपी डुमिनी - 81 मैचों में 6 बार
  • क्विंटन डी कॉक - 80 मैचों में 6 बार
  • तबरेज शम्‍सी - 65 मैचों में 5 बार

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment