Asia Cup 2022 : भारतीय बल्लेबाजी में चेतेश्वर पुजारा ने बताई बड़ी कमी, इस क्षेत्र में सुधार का दिया सुझाव 

भारतीय बल्लेबाज बीच के ओवरों में अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए
भारतीय बल्लेबाज बीच के ओवरों में अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए

2022 एशिया कप (Asia Cup) के सुपर 4 में श्रीलंका के खिलाफ हार के बाद भारतीय टीम की लगातार आलोचना हो रही है। इस बीच टेस्ट टीम के दिग्गज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने भी छोटे प्रारूप में टीम की बल्लेबाजी की बड़ी कमी की तरफ इशारा किया है। दिग्गज बल्लेबाज के मुताबिक टीम के बल्लेबाजों को 6 से 15 ओवरों के बीच बल्लेबाजी में सुधार की जरूरत है।

भारतीय टीम का मध्यक्रम लम्बे समय से छोटे प्रारूप में एक समस्या रहा है और श्रीलंका के खिलाफ एक बार फिर यही देखने को मिला। कप्तान रोहित शर्मा ने 41 गेंदों में 72 रन बनाकर टीम के स्कोर को 13वें ओवर में 110 तक पहुंचा दिया था लेकिन ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या जैसे बल्लेबाज अच्छा नहीं कर पाए और पूरे ओवर में टीम आठ विकेट खोकर 173 रन का स्कोर ही बना पाई। श्रीलंका ने लक्ष्य को एक गेंद शेष रहते चार विकेट खोकर हासिल करते हुए जीत दर्ज की।

बीच के ओवरों में अधिक विकेट खोने की समस्या को दूर करना होगा - चेतेश्वर पुजारा

ईएसपीएन क्रिकइंफो पर चर्चा के दौरान पुजारा ने कहा कि भारत बीच के ओवरों में अधिक गंवा देता है और इसी वजह से अंतिम पांच ओवरों के लिए उनके पास बल्लेबाज बचते ही नहीं हैं। उन्होंने कहा,

मुझे लगता है कि यह बीच के ओवर हैं। बीच में 6 से 15 के बीच हम सही से फिनिश भी नहीं कर रहे हैं। क्योंकि हम बीच के ओवरों में बहुत अधिक विकेट खो रहे हैं, हमारे पास 15 से 20 ओवर तक बल्लेबाजी करने वाले उचित बल्लेबाज नहीं हैं। इसलिए मुझे लगता है कि हमें इसको दूर करने की जरूरत है।
हमें उन 6 से 15 ओवरों में अच्छी बल्लेबाजी करना सीखना होगा। आज हमने अच्छी शुरुआत नहीं की, जल्दी ही कुछ विकेट गंवा दिए। लेकिन अगर आप पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मैच को देखें, तो हमने अच्छी शुरुआत की, लेकिन हम फिर भी 6 से 15 तक विकेट गंवाते रहे। अंतिम पांच ओवरों में, हम ज्यादा प्रयास नहीं कर सकते क्योंकि हम हमेशा पांच विकेट खो देते हैं। इसलिए यह बीच के ओवर हैं जहां हमें अपनी बल्लेबाजी पर थोड़ा और काम करना होगा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar