Create

"शाहीन अफरीदी का बाहर होना पाकिस्तान के लिए एक बड़ा झटका है" - पूर्व कप्तान का बड़ा बयान 

शाहीन अफरीदी चोट से उबरने में नाकाम रहे
शाहीन अफरीदी चोट से उबरने में नाकाम रहे

पाकिस्तान के प्रमुख तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी (Shaheen Afridi) घुटने की चोट के कारण एशिया कप (Asia Cup) 2022 से बाहर हो गए हैं। उनके बाहर होने को लेकर लगातार प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है। इस कड़ी में पूर्व पाकिस्तानी कप्तान इंज़माम उल हक़ का नाम भी जुड़ गया है, जिन्होंने अफरीदी के बाहर होने को पाकिस्तान के लिए एक बड़ा झटका बताया है।

शाहीन अफरीदी को श्रीलंका दौरे पर पहले टेस्ट मैच के दौरान चोट लगी थी। वह उस सीरीज के दूसरे मैच के साथ-साथ नीदरलैंड्स के खिलाफ वनडे सीरीज से भी बाहर हो गए थे। चोट इतनी गंभीर है कि अब उन्हें कुछ हफ़्तों के लिए मैदान से दूरी बनानी होगी और इसी वजह से वह एशिया कप से बाहर हो गए हैं।

इंजमाम के अनुसार, पाकिस्तान के पास हारिस रऊफ, नसीम शाह और हसनैन जैसे तेज गेंदबाज हैं, लेकिन शाहीन की अनुपस्थिति चिंता का कारण है, जिन्होंने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप में भारत के टॉप ऑर्डर को ध्वस्त करने का काम किया था। अपने यूट्यूब चैनल पर उन्होंने कहा,

शाहीन अफरीदी का एशिया कप से बाहर होना पाकिस्तान के लिए बड़ा झटका है. अगर आप भारत के खिलाफ पिछले मैच को देखें तो उन्होंने टी20 वर्ल्ड कप के पिछले संस्करण के पहले ही ओवर से ही दबाव बना दिया था। यह पाकिस्तान के लिए एक कठिन फैसला है क्योंकि शाहीन टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं, लेकिन चोटें खेल का हिस्सा हैं।

शाहीन अफरीदी ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप के दौरान अपने पहले ही ओवर में भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा को पवेलियन पहुंचा दिया था। इसके बाद उन्होंने अपने अगले ओवर में केएल राहुल को भी चलता किया था। अंतिम ओवरों में उन्होंने तत्कालीन कप्तान विराट कोहली का भी विकेट चटकाया था। अफरीदी की खतरनाक गेंदबाजी की वजह से भारत महज 151 का स्कोर बना पाया था और उसे 10 विकेट से करारी हार मिली थी।

मोहम्मद हसनैन को रिप्लेसमेंट के रूप में चुना गया

एशिया कप में शाहीन अफरीदी की रिप्लेसमेंट के रूप में युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद हसनैन को शामिल किया गया है। हसनैन कुछ समय पहले ही अपने एक्शन में बदलाव करके वापस आये हैं, जिन्हें पहले संदिग्ध एक्शन के कारण गेंदबाजी से रोक दिया गया था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment