Create

AUS vs IND - 3 कारण क्यों भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीनों फॉर्मेट में हार सकती है

भारतीय क्रिकेट टीम
भारतीय क्रिकेट टीम

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) इस वक्त ऑस्ट्रेलिया दौरे पर है, जहां पर उनकी शुरुआत काफी निराशाजनक हुई है। भारतीय टीम को सीरीज के पहले दोनों वनडे मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है। दोनों ही मैचों में टीम के गेंदबाजों ने काफी रन लुटाए, हालांकि बल्लेबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा है। कंगारू टीम ने दोनों वनडे मुकाबलों में 350 से ज्यादा रन बनाए।

भारतीय टीम के अब तक प्रदर्शन को देखकर लग रहा है कि ये दौरा उनके लिए काफी लंबा रहने वाला है। टीम के अब तक के प्रदर्शन को देखकर लगता नहीं है कि वो कंगारू टीम को कड़ी चुनौती दे पाएंगे। फील्डिंग से लेकर लगभग हर डिपार्टमेंट में टीम बिल्कुल भी लय में नजर नहीं आई है।

ये भी पढ़ें: 5 सबसे बेहतरीन ऑल टाइम गेंदबाजी रन-अप

भारतीय टीम अभी तक कुल मिलाकर लगातार 5 वनडे मुकाबले हार चुकी है और जिस तरह का खेल अभी तक टीम ने दिखाया है उसे देखते हुए आगे के मैच भी काफी मुश्किल रहने वाले हैं। भारतीय टीम वनडे सीरीज तो हार चुकी है लेकिन ऐसा लगता है कि इस दौरे पर हर सीरीज में टीम को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने हाल ही में ट्वीट कर कहा था कि ऑस्ट्रेलिया इस दौरे पर भारतीय टीम को तीनों फॉर्मेट में आसानी से हरा देगी।

हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे कि क्यों भारतीय टीम को इस ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीनों सीरीज में हार का सामना करना पड़ सकता है।

3 कारण क्यों भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीनों फॉर्मेट में हार सकती है

1.रोहित शर्मा जैसे दिग्गज बल्लेबाज का टीम में ना होना

रोहित शर्मा
रोहित शर्मा

भारतीय टीम इस दौरे पर रोहित शर्मा के बिना गई है और इसी वजह से उनके लिए ये दौरा काफी मुश्किल साबित हो रहा है। रोहित शर्मा एक ऐसे बल्लेबाज हैं जो अकेले दम पर मैच जिताने की क्षमता रखते हैं और टीम को पहले दोनों वनडे मुकाबलों में उनकी कमी निश्चित तौर पर खली।

दूसरे वनडे में 390 के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम सिर्फ 51 रनों से हारी। अगर रोहित शर्मा टीम में होते तो फिर भारत शायद बेहतर पोजिशन में होता। रोहित शर्मा अपनी लंबी-लंबी पारियों के लिए जाने जाते हैं और ऑस्ट्रेलियाई कंडीशंस से भलीभांति वो परिचित भी हैं। ऐसे में नका टीम में ना होना काफी खल रहा है।

ना केवल वनडे बल्कि टी20 और टेस्ट मैचों में भी उनकी कमी काफी खलेगी। अगर रोहित शर्मा भारतीय टीम में होते तो नतीजे कुछ और भी हो सकते थे।

2.गेंदबाजों का लय में ना होना

जसप्रीत बुमराह
जसप्रीत बुमराह

भारतीय टीम की पहले दोनों वनडे मुकाबलों में गेंदबाजी काफी खराब रही है। युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी जैसे गेंदबाज काफी महंगे साबित हुए हैं। यही वजह रही कि कप्तान कोहली को दूसरे वनडे मुकाबले में मयंक अग्रवाल से गेंदबाजी करानी पड़ी और जब वो भी महंगे साबित हुए तो फिर मजबूरन हार्दिक पांड्या को बॉलिंग देना पड़ा।

कह सकते हैं कि भारतीय गेंदबाज इस वक्त बिल्कुल भी लय में नहीं हैं और आगे उनके लिए दिक्कतें बढ़ने वाली है। टेस्ट सीरीज में इशांत शर्मा भी नहीं हैं और टी20 सीरीज में शायद बुमराह और शमी को तीनों मैचों में ना खिलाया जाए। ऐसे में गेंदबाजी एक बार फिर कमजोर हो जाएगी और कंगारू टीम इसका फायदा उठाकर सीरीज अपने नाम कर सकती है।

3.विराट कोहली का आखिरी 3 टेस्ट मैचों के लिए उपलब्ध ना होना

विराट कोहली
विराट कोहली

भारतीय टीम वनडे सीरीज तो हार चुकी है और टी20 सीरीज में भी दिक्कते सामने आने वाली हैं। हालांकि टीम को बड़ा झटका टेस्ट सीरीज में लगने वाला है, क्योंकि कप्तान विराट कोहली पहले टेस्ट मैच के बाद पैटरनिटी लीव पर वापस लौट आएंगे।

इशांत शर्मा और रोहित शर्मा की कमी से भारतीय टीम पहले ही जूझ रही है जब कप्तान कोहली भी नहीं रहेंगे तब टीम और भी कमजोर हो जाएगी। ऐसे में टेस्ट सीरीज में भी भारतीय टीम के जीतने की संभावनाएं काफी कम ही हैं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment