ब्रिस्बेन टेस्ट मैच में भारत ने रचा इतिहास, ऋषभ पंत की धुआंधार पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया को हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी की अपने नाम

ऋषभ पंत ने जबरदस्त पारी खेली
ऋषभ पंत ने जबरदस्त पारी खेली

ब्रिस्बेन टेस्ट मैच में भारतीय टीम (Indian Cricket Team) ने इतिहास रच दिया है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया (Australia Cricket Team) को इस मुकाबले में 3 विकेट से हराकर एक बड़ा कीर्तिमान अपने नाम कर लिया। ब्रिस्बेन के मैदान में 32 साल बाद ऑस्ट्रेलिया यहां कोई टेस्ट मैच हारा है। इसके अलावा इस मैदान पर ये सबसे ज्यादा रन चेज का रिकॉर्ड भी है। भारत की तरफ से ऋषभ पंत ने 89 रनों की जबरदस्त पारी खेली और उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना ग। इस जीत के साथ ही भारत ने 2-1 से सीरीज भी अपने नाम कर ली और बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी अपने नाम की।

पहला सेशन

पहले सेशन में भारतीय टीम ने 79 रन बनाए और रोहित शर्मा का विकेट गंवाया। रोहित शर्मा को पैट कमिंस ने एक जबरदस्त गेंद पर आउट किया और वो सात रन बनाकर पवेलियन लौटे। इसके बाद शुभमन गिल और चेतेश्वर पुजारा ने पारी को संभाल लिया। शुभमन गिल ने शानदार अर्धशतक जड़ा। दोनों बल्लेबाजों के बीच कुल 65 रनों की साझेदारी हो चुकी थी।

दूसरा सेशन

इस सेशन में भारतीय टीम ने 100 रन बनाए और दो अहम विकेट गंवाया। शुभमन गिल और चेतेश्वर पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 114 रनों की जबरदस्त साझेदारी की। शुभमन गिल खासकर काफी आक्रामक मूड में दिखे और मिचेल स्टार्क के एक ही ओवर में 2 चौके और 1 छक्का जड़ा। हालांकि दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से वो 91 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद क्रीज पर बैटिंग के लिए कप्तान अजिंक्य रहाणे आए और आते ही उन्होंने तेजी से रन बनाना शुरु किया। कप्तान रहाणे ने 1 चौका और 1 छक्का लगाया लेकिन 22 गेंद पर 24 रन बनाकर आउट हो गए। उसके बाद ऋषभ पंत क्रीज पर आए जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपने 1 हजार रन पूरे किए। पंत अब टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 1 हजार रन बनाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं। चायकाल तक पुजारा और पंत की जोड़ी क्रीज पर मौजूद थी।

तीसरा सेशन

चायकाल के बाद तीसरे सेशन में चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत की जोड़ी ने शानदार तरीके से पारी को आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने पहले कुछ ओवर संभलकर बल्लेबाजी के लिए उसके बाद शॉट्स खेले। पुजारा और पंत के बीच चौथे विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी हुई। चेतेश्वर पुजारा ने अर्धशतक लगाया और टेस्ट क्रिकेट में उनका ये सबसे धीमा अर्धशतक है। पुजारा 56 रनों की शानदार पारी खेलकर आउट हुए। उनके आउट होने के बाद मयंक अग्रवाल और पंत ने पारी को संभाला। ऋषभ पंत आक्रामक मूड में दिखे और ताबड़तोड़ पारी खेली। मयंक अग्रवाल 9 रन बनाकर आउट हुए लेकिन इसके बाद वॉशिंगटन सुंदर ने आकर एक बार फिर जबरदस्त पारी खेल दी।

दोनों बल्लेबाजों ने छठे विकेट के लिए 53 रनों की ताबड़तोड़ साझेदारी की । वॉशिंगटन सुंदर ने 29 गेंद पर 22 रन बनाए और ऋषभ पंत 138 गेंद पर 89 रन बनाकर नाबाद रहे। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से दूसरी पारी में पैट कमिंस ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता