Create

वर्ल्ड कप 2019: भारतीय टीम की बैकअप खिलाड़ियों की प्लेइंग इलेवन

Enter caption

2019 वर्ल्ड कप 2019 करीब आ रहा है और भारतीय वनडे टीम वर्तमान में दुनिया की शीर्ष टीमों में से एक हैं। इस मेगा टूर्नामेंट में भारत को खिताब के प्रबल दावेदारों में से एक माना जा रहा है।

लेकिन प्लेइंग इलेवन में खेलने वाले सर्वश्रेष्ठ 11 खिलाड़ियों के बारे में अभी संशय बरकरार है। आइये पहले भारत की विश्व कप टीम के संभावित 11 खिलाड़ियों पर एक नज़र डालते हैं: शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, अंबाती रायडू, एमएस धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल और बुमराह।

सम्भवतः विश्व कप में भारत की यही प्लेइंग इलेवन होगी, लेकिन चोट किसी भी खेल का एक अनिवार्य हिस्सा है। विश्व कप से पहले भारतीय खिलाड़ी आईपीएल में भी खेलेंगे, ऐसे में चोट लगने की संभावना तो बनी रहेगी।

तो यहां हम जानेंगे नियमित खिलाड़ियों के चोटिल होने पर उनके बैकअप के तौर पर किन खिलाड़ियों को प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका मिल सकता है:

नियमित ओपनर्स: शिखर धवन और रोहित शर्मा

बैकअप ओपनर्स: केएल राहुल और अजिंक्य रहाणे

Related image

केएल राहुल पिछले काफी समय से भारतीय टीम के लिए खेल रहे हैं और टीम प्रबंधन ने यह साफ़ कर दिया है कि उन्हें विश्व कप में एक बैक-अप सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम में शामिल किया जा सकता है। वहीं अजिंक्य रहाणे पिछले कुछ समय से भारत की वनडे टीम का हिस्सा नहीं हैं लेकिन वह टेस्ट टीम का हिस्सा ज़रूर रहे जहां उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

हालांकि इसमें तो कोई दो राय नहीं है कि विश्व कप में रोहित शर्मा और शिखर धवन ही भारत के नियमित सलामी बल्लेबाज होंगे लेकिन इनके बैक-अप के तौर पर राहुल और रहाणे की जोड़ी होगी।

यह दोनों बल्लेबाज़ भी इस समय बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं, केएल राहुल तकनीकी रूप से मजबूत हैं और इस समय बढ़ियाा प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं रहाणे को विदेशी पिचों पर शानदार बल्लेबाज़ के लिए जाना जाता है, ऐसे में इंग्लैंड में होने वाले इस विश्व कप में यह दोनों खिलाड़ी धवन और रोहित के आदर्श प्रतिस्थापन होंगे।

नंबर 3: विराट कोहली (कैप्टन)

बैकअप: शुभमन गिल

Image result for virat kohli

कप्तान विराट कोहली का वर्ल्ड कप में चोटिल होना हर एक भारतीय प्रशंसक के लिए बड़ा झटका होगा। हालांकि भारतीय टीम ने कोहली के बिना एशिया कप ओर निदाहस ट्रॉफी जीती, लेकिन विश्व कप पूरी तरह से एक अलग टूर्नामेंट है।

इस मेगा टूर्नामेंट में भारतीय टीम की जीत या हार काफी हद तक दिल्ली के इस खिलाड़ी के प्रदर्शन पर निर्भर करेगी। लेकिन, चोटिल होने की स्थिति में शुभमन गिल को नंबर 3 पर आजमाया जा सकता है। हालाँकि 19 वर्षीय पंजाब का खिलाड़ी विराट के बल्लेबाज़ी कौशल के आस-पास भी नहीं है, फिर भी, इस युवा खिलाड़ी ने घरेलू क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

नंबर 4: अंबाती रायडू

बैकअप: दिनेश कार्तिक

Image result for ambati rayudu

अंबाती रायुडू के विश्व कप में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी करने की पूरी संभावना है। हैदराबाद के इस खिलाड़ी ने अपने वनडे करियर में खेले 53 मैचों में लगभग 50 की औसत से रन बनाए हैं । इसके अलावा वह आईपीएल सीज़न 2018 में सीएसके के प्रमुख रन स्कोरर रहे थे।

विश्व कप में रायडू के चोटिल होने की स्थिति में दिनेश कार्तिक उनके आदर्श प्रतिस्थापन होंगे। कार्तिक इस समय अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ दौर में है ओर निदाहस ट्रॉफी के फाइनल में आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर वह स्टार बन गए थे।

हालांकि लगभग 90 मैच खेलने के बाद, उनका औसत 30 के करीब है और अभी भी उनके नाम कोई शतक नहीं है। लेकिन वह एक बेहतरीन फिनिशर हैं और कई बार उन्होंने टीम को संकट से निकालकर जीत दिलाई है।

विकेटकीपर: एमएस धोनी

बैकअप: ऋषभ पंत

Enter caption

ऋषभ पंत के हालिया प्रदर्शन के बाद टीम प्रबंधन उन्हें धोनी के संभावित विकल्प के तौर पर वर्ल्ड कप में भारत की 15 सदस्यीय टीम में शामिल करेगा। हालांकि, धोनी का चोटिल होना क्रिकेट प्रशंसकों के लिए बड़ा झटका होगा लेकिन ऋषभ पंत उनकी जगह लेने में सक्षम हैं।

धोनी एक बल्लेबाज के साथ-साथ, टीम में एक मेंटर की भूमिका भी बखूबी निभाते हैं और आगामी विश्व कप में वह भारतीय टीम के ट्रम्प कार्ड होंगे।

वहीं पंत भी अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं और इस समय बेहतरीन फॉर्म में हैं और धोनी की गैरमौजूदगी में उनका एक आदर्श प्रतिस्थापन हो सकते हैं।

नम्बर 6: केदार जाधव

बैकअप: क्रुणाल पांड्या

Related image

केदार जाधव नम्बर 6 पर बल्लेबाजी करने के लिए आदर्श खिलाड़ी है। जाधव स्लॉग ओवरों में तेजी से रन बनाने के लिए जाने जाते हैं। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैदराबाद में खेले गए पहले वनडे मैच में उन्होंने टीम को संकट से निकालकर जीत दिलाई है।

इसके अलावा वह गेंद से भी अहम योगदान दे रहे हैं। बदकिस्मती से अगर वह विश्व कप के दौरान चोटिल हो जाते हैं तो उनकी जगह क्रुणाल पांड्या को टीम में शामिल किया जा सकता है।

आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेलने वाले इस आल-राउंडर ने हाल ही में भारतीय टीम में जगह बनाई है और अपने आल-राउंडर प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है। मध्य ओवरों में अपनी सटीक गेंदबाजी के साथ, स्लॉग ओवरों में उन्होंने आक्रामक बल्लेबाजी कर अपनी उपयोगिता साबित की है।

ऑल-राउंडर: हार्दिक पांड्या

बैकअप: विजय शंकर

Hardik Pandya

हार्दिक पांड्या टीम का संतुलन बनाए रखने के लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं। हार्दिक टीम इंडिया के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में से एक हैं, जो देश के लिए तीनों प्रारूपों में खेल रहे हैं।

स्टाइलिश ऑलराउंडर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे श्रृंखला में नहीं खेल रहे, जिसका मतलब यह है कि अब वह सीधे विश्व कप में ही भारतीय टीम के साथ जुड़ेंगे।

टीम प्रबंधन की नजरें आईपीएल में उनके प्रदर्शन पर रहेंगी। विश्व कप में उनके चोटिल होने की स्थिति में विजय शंकर को टीम में शामिल किया जा सकता है जो इस समय बेहतरीन फॉर्म में हैं और गेंद और बल्ले दोनों के साथ अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

स्पिनर: कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल

बैकअप: रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन

भारत के पास कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के रूप में दो बेहतरीन कलाई के स्पिनर हैं। इस जोड़ी ने भारत को अकेले दम पर कई मैच जिताए हैं। लेकिन इन दोनों के चोटिल या अनफिट होने की स्थिति में

भारत के पास काफी विकल्प मौजूद हैं, मसलन रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन की जोड़ी, मध्य ओवरों में रनों पर अंकुश लगाने के साथ-साथ विकेट भी ले सकते हैं। इसके अलावा कुलदीप-चहल की जोड़ी की अपेक्षा यह दोनों गेंदबाज़ बल्ले से भी योगदान दे सकते हैं।

तेज गेंदबाज: भुवनेश्वर और बुमराह

बैकअप: मोहम्मद शमी और खलील अहमद

Bumrah

पिछले कुछ सालों में भारतीय वनडे टीम के शानदार प्रदर्शन की एक बड़ी वजह रही है- तेज़ गेंदबाजों का शानदार प्रदर्शन। जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार की जोड़ी ने कई बार टीम के लिए संकटमोचक की भूमिका निभाई है, खासकर डेथ ओवरों में यह जोड़ी दुनिया की सबसे घातक पेसर जोड़ी मानी जाती है।

विश्व कप में भारतीय टीम का भविष्य इन दोनों गेंदबाजों के प्रदर्शन पर निर्भर करता है। लेकिन मैच कर दौरान एक तेज़ गेंदबाज के चोटिल होने की संभावना भी सबसे ज़्यादा होती है।

तो ऐसे में इस जोड़ी के प्रतिस्थापन के रूप में उसे मोहम्मद शमी और खलील अहमद की पेसर जोड़ी आदर्श विकल्प होगी, खासतौर पर ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में उनके हालिया प्रदर्शनों को देखते हुए यह एक अच्छा फैसला होगा।

हालांकि विकल्पों की सूची में उमेश यादव, सिद्धार्थ कौल और मोहम्मद सिराज जैसे तेज़ गेंदबाज़ भी हो सकते हैं लेकिन इनका हालिया प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा है।

इसलिए, चयनकर्ताओं की नजरें आईपीएल में खलील अहमद और मुहम्मद शमी के प्रदर्शन पर होंगी और अगर इनमें से कोई गेंदबाज़ निराशाजनक प्रदर्शन करता है तो बाकी तीन विकल्पों में से किसी एक को भी चुना जा सकता है।

लेखक: डॉ. जनमेश शाह अनुवादक: आशीष कुमार

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment