बांग्लादेश के ऑलराउंडर पर लगा 2 साल का बैन, बड़ी वजह आई सामने 

Bangladesh v Scotland - 2015 ICC Cricket World Cup
नासिर हुसैन ने अपने ऊपर लगे तीनों आरोपों को स्‍वीकार कर लिया है

बांग्‍लादेश (Bangladesh Cricket Team) के ऑलराउंडर नासिर हुसैन (Nasir Hossain) पर आईसीसी (ICC) ने सभी तरह की क्रिकेट गतिविधियों से दो साल का प्रतिबंध लगा दिया है। हुसैन को 2020-21 अबुधाबी टी10 लीग (Abu Dhabi T10 League) के दौरान अमीरात क्रिकेट बोर्ड के भ्रष्‍टाचार विरोधी संहिंता के उल्‍लंघन का दोषी पाया गया। वो 7 अप्रैल 2025 से अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिए दोबारा योग्‍य बनेंगे।

हुसैन पुणे डेविल्‍स फ्रेंचाइजी के उन आठ सदस्‍यों में से एक हैं, जिन पर आईसीसी ने सितंबर 2023 में जुर्माना लगाया था। उन्‍होंने अपने खिलाफ तीन जुर्माने कबूल किए और दो साल का प्रतिबंध हासिल किया। इसमें से छह महीने निलंबन के पूरे हो चुके हैं। इस क्रिकेटर ने भ्रष्‍ट कार्यो में शामिल होने के लिए की गई पेशकश के बारे में भ्रष्‍टाचार विरोधी अधिकारी को जानकारी नहीं दी। इसके अलावा बांग्‍लादेशी ऑलराउंडर ने इस जांच के दौरा सहयोग भी नहीं किया।

आईसीसी के भ्रष्‍टाचार विरोधी इकाई के मुताबिक हुसैन के खिलाफ पहला आरोप था कि उन्‍होंने भ्रष्‍टाचार विरोधी अधिकारी को गिफ्ट की रसीद की जानकारी नहीं दी थी, जो 750 अमेरिकी डॉलर की कीमत का है। बता दें कि हुसैन को गिफ्ट में नया आईफोन 12 मिला था।

हुसैन पर दूसरा आरोप लगा है कि उन्‍होंने भ्रष्‍टाचार विरोधी अधिकारी को नए आईफोन 12 के कारण भ्रष्‍ट आचरण में शामिल होने की जानकारी नहीं दी। इसके अलावा हुसैन पर तीसरा आरोप लगा कि उन्‍होंने स्‍पष्‍टता दिखाने या नामित भ्रष्‍टाचार विरोधी अधिकारी का साथ देने के बजाय लगातार जानकारी को छिपाने का काम किया। इस जांच के हिस्‍से में उपहार के दस्‍तावेज मांगे गए, जो बांग्‍लादेशी ऑलराउंडर ने मुहैया नहीं कराए। इन सभी कारणों के मद्देनजर हुसैन के खिलाफ कड़ा एक्‍शन लिया गया।

नासिर हुसैन ने 19 टेस्‍ट, 65 वनडे और 31 टी20 इंटरनेशनल मैचों में बांग्‍लादेश का प्रतिनिधित्‍व किया है। उन्‍होंने अपना आखिरी अंतरराष्‍ट्रीय मैच जनवरी 2018 में खेला जबकि मई 2023 में ही घरेलू क्रिकेट में मैच खेला था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar