Create

जिंबाब्‍वे के खिलाफ हार के बाद बीसीबी ने कोचिंग स्‍टाफ के लिए अपनाया कड़ा रुख

रसेल डोमिंगो के मार्गदर्शन में बांग्‍लादेश की टीम आक्रामक क्रिकेट नहीं खेल रही है
रसेल डोमिंगो के मार्गदर्शन में बांग्‍लादेश की टीम आक्रामक क्रिकेट नहीं खेल रही है

बांग्‍लादेश क्रिकेट टीम (Bangladesh Cricket team) को हाल ही में जिंबाब्‍वे दौरे पर वनडे और टी20 इंटरनेशनल सीरीज में करारी शिकस्‍त मिली। जिंबाब्‍वे (Zimbabwe Cricket team) ने जहां तीन टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की, वहीं वनडे सीरीज के शुरूआती दो मुकाबले जीतकर बांग्‍लादेश को पटखनी दी।

बांग्‍लादेश के खराब प्रदर्शन से बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड चिंतित है। बीसीबी ने कहा कि सीमित ओवर क्रिकेट में सफल होने के लिए राष्‍ट्रीय टीम के खिलाड़‍ियों की मानसिकता में कोचिंग इकाई को आक्रमकता भरने की जरूरत है।

बीसीबी ने जिंबाब्‍वे दौरे के बाद ढाका में कोचिंग स्‍टाफ को पेश होने के लिए तलब किया है ताकि भविष्‍य योजनाओं के बारे में विचार-विमर्श किया जाए। बोर्ड चिंतित है कि टी20 प्रारूप में विशेषकर टीम किस तरह प्रदर्शन कर रही है।

बांग्‍लादेश ने घरेलू जमीन पर स्पिनरों के लिए मददगार वाली पिचों पर ऑस्‍ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड को मात दी। मगर इसके बाद छोटे प्रारूप में उन्‍हें ज्‍यादा सफलता नहीं मिली। बांग्‍लादेश ने 19 इंटरनेशनल मैचों में से 15 गवाएं।

बांग्‍लादेश की टीम को कम आक्रमाक खेल के कारण टी20 प्रारूप में दिक्‍कत हो रही है। रसेल डोमिंगो और उनके कोचिंग स्‍टाफ पर आरोप है कि वो टीम को निडर क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्‍साहित नहीं कर सके, जो कि पूर्व कोच चंडिका हथुरुसिंघा करते थे।

बीसीबी क्रिकेट ऑपरेशंस के चेयरमैन जलाल यूनुस ने मीरपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, 'सपोर्ट स्‍टाफ काफी प्रतिबद्ध है, लेकिन शायद उनकी कोचिंग अलग है। कुछ कोच आक्रामक होते हैं तो कुछ कोच नहीं। आप हथुरुसिंघा के बारे में बात करते हैं। उनकी आक्रामक सोच हमारी जरूरत वाली थी। हमारे हेड कोच रसेल डोमिंगो काफी ज्ञानी कोच हैं, लेकिन वो उतने आक्रामक नहीं। हमें वो आक्रमकता चाहिए।'

जलाल ने आगे कहा, 'हमारा मानना है कि चंडिका ने सही दिशा में खिलाड़‍ियों को प्रोत्‍साहित किया था। उन्‍हें मैदान में सही तरह आक्रामक रवैया अपनाने को कहा था। मेरे ख्‍याल से यह फर्क दिख रहा है। हमें ऐसे किसी की जरूरत है तो हमें धीमी क्रिकेट से आक्रामक क्रिकेट खेलने में तब्‍दील करे। टी20 में ये आक्रमकता कैसे लाना है। हमारे कोच पेशेवर और प्रतिस्‍पर्धी हैं। मगर हमें आक्रमकता की बात उनसे करनी होगी। हमें उन्‍हें बदलने से कुछ नहीं मिलने वाला। हमें उनकी योजना के बारे में जानकारी रखनी होगी। वो 19 अगस्‍त को यहां पहुंचेंगे तो अगले दिन हम बैठक करेंगे।'

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment