आयरलैंड के खिलाफ सीरीज के लिए बांग्लादेश की तैयारी सही नहीं है, टीम के हेड कोच का चौंकाने वाला बयान

बांग्लादेश को आयरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में तीन मुकाबले खेलने हैं
बांग्लादेश को आयरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में तीन मुकाबले खेलने हैं

9 मई से आयरलैंड और बांग्लादेश के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज (IRE vs BAN) का आगाज होगा। सीरीज के पहले मुकाबले से पूर्व बांग्लादेश के हेड कोच चंडिका हथुरूसिंघे ने एक चौंकाने वाली प्रतिक्रिया दी है और कहा कि उनकी टीम की तैयारी पूरी नहीं है। उनकी यह टिप्पणी खराब मौसम के कारण टीम की कम प्रैक्टिस को देखते हुए आई है।

वनडे सीरीज के तीनों मुकाबले चेम्सफोर्ड में खेले जाएंगे जिसे क्रिकेट आयरलैंड ने आयरलैंड में गीले मौसम की संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए चुना है। बांग्लादेश की टीम एक मई को ब्रिटेन पहुंची थी लेकिन वह पहले वनडे की पूर्व संध्या पर आठ मई को ही मैच वेन्यू पर प्रवेश कर सकी क्योंकि चेम्सफोर्ड चार से सात मई तक एसेक्स और सरे के बीच काउंटी चैंपियनशिप मैच की मेजबानी कर रहा था। ऐसे में टीम को प्रैक्टिस के लिए ज्यादा समय नहीं मिला। 5 मई को होने वाला उनका एकमात्र प्रैक्टिस मैच भी बारिश की भेंट चढ़ गया था। उन्होंने थोड़ी बहुत इंडोर ट्रेनिंग जरूर की।

सोमवार को रिपोर्ट्स से बात करते हुए, हथरूसिंघे ने टीम की तैयारियों को लेकर पूछे जाने पर कहा,

यह बहुत ही अनोखी स्थिति है क्योंकि हम इंग्लैंड में आयरलैंड के खिलाफ खेल रहे हैं और आम तौर पर ऐसा नहीं होता है, हम किसी को दोष नहीं दे सकते और यह पहली बार है। अगर हमें यह पता होता, तो हम इस तरह के कार्यक्रम के लिए सहमत नहीं होते क्योंकि यह आदर्श तैयारी नहीं है। हम इससे सीख लेंगे।

आयरलैंड के लिए सीरीज में क्लीन स्वीप से जीत दर्ज करना जरूरी

यह सीरीज भले ही बांग्लादेश के लिहाज से उतनी अहम न हो लेकिन आयरलैंड के लिए काफी कुछ दांव पर लगा है। आयरलैंड को अगर इस साल भारत में होने वर्ल्ड कप में डायरेक्ट जगह बनानी है तो फिर उन्हें तीनों मैचों में जीत दर्ज करनी होगी। एक भी मुकाबला गंवाने पर या किसी भी कारण से नतीजा उनके पक्ष में नहीं जाता है, तो फिर उन्हें ज़िम्बाब्वे में होने वाले वर्ल्ड कप क्वालीफ़ायर में खेलना होगा। ऐसे में टीम चाहेगी कि अपना बेहतरीन खेल दिखाकर बांग्लादेश को क्लीन स्वीप करके जीत दर्ज करते हुए वर्ल्ड कप में जगह बनाई जाये।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar