COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

BAN vs ZIM: दूसरे वनडे में बांग्लादेश ने ज़िम्बाब्वे को 7 विकेट से हराया, सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त

न्यूज़
333   //    24 Oct 2018, 23:55 IST

Enter caption

बांग्लादेश ने चटगांव में खेले गए दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय में ज़िम्बाब्वे को 7 विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली। ज़िम्बाब्वे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 246/7 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में बांग्लादेश ने 45वें ओवर में ही तीन विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। मोहम्मद सैफुद्दीन को 45 रन देकर तीन विकेट लेने के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ज़िम्बाब्वे को पांचवें ओवर में हैमिल्टन मसाकादज़ा (14) के रूप में पहले झटका लगा। 12वें ओवर में सेफस झुवाओ भी 20 रन बनाकर 70 के स्कोर पर आउट हो गए, लेकिन यहाँ से ब्रेंडन टेलर ने शॉन विलियम्स के साथ तीसरे विकेट के लिए 77 रन जोड़कर टीम को 150 के करीब पहुंचाया। टेलर ने 73 गेंदों में 75 रनों की शानदार पारी खेली। शॉन विलियम्स ने 49 रन बनाये, लेकिन 38वें ओवर में 188 के स्कोर पर उनके आउट होने से ज़िम्बाब्वे की पारी भटक गई और 50 ओवरों में सिर्फ 246 रन ही बने। सिकंदर रज़ा ने 49 रनों की पारी खेलकर टीम को 250 के करीब पहुंचाने में मदद की। बांग्लादेश की तरफ से मोहम्मद सैफुद्दीन के अलावा कप्तान मशरफे मोर्तज़ा, मुस्ताफ़िज़ुर रहमान, मेहदी हसन और महमुदुल्लाह ने एक-एक विकेट लिया।

लक्ष्य के जवाब में इमरुल कायेस (90) और लिटन दास (83) ने पहले विकेट के लिए 148 रनों की बेहतरीन साझेदारी निभाकर टीम की जीत लगभग एकतरफा कर दी। फ़ज़ल महमूद लगातार दूसरे मैच में खाता खोले बिना आउट हुए, लेकिन मुशफिकुर रहीम ने 40 और मोहम्मद मिथुन ने 24 रनों की नाबाद पारी खेलकर टीम को 35 गेंद शेष रहते जीत दिला दी। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 39 रनों की अविजित साझेदारी निभाई।

ज़िम्बाब्वे की तरफ से सिकंदर रज़ा ने तीनों विकेट लिए, लेकिन बाकी के गेंदबाजों ने उनका साथ नहीं दिया।

दोनों टीमों के बीच सीरीज का तीसरा एवं आखिरी मैच 26 अक्टूबर को चटगांव में ही खेला जाएगा।

संक्षिप्त स्कोरकार्ड:

जिम्बाब्वे: 246/7 (ब्रेंडन टेलर 75, मोहम्मद सैफुद्दीन 3/45)

बांग्लादेश: 250/3 (इमरुल कायेस 90, लिटन दास 83, सिकंदर रज़ा 3/43)

Topics you might be interested in:
ANALYST
Cricket is my reason for living
Fetching more content...